257 Views

RRB Recruitment 2018: रेलवे की 90000 भर्तियों के नियमों में हुए बड़े बदलाव, जानिए सब कुछ



नई दिल्ली। रेलवे ने ग्रुप डी और लोको पायलट के 90,000 पदों पर बंपर भर्तियां निकाली हैं। रेलवे में काफी वक्त इतने बड़े लेवल पर नियुक्तियां होने जा रही हैं। अब इन पदों पर आवेदन करने के नियमों में रेलवे ने कई तरह के फेरबदल किया है। रेलवे ने इन पदों पर आवेदन करने के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता 10वीं कर दिया है। इसके साथ ही रेलवे ने ऐलान किया है कि उम्मीदवारों को आवेदन शुल्क लौटा दिया जाएगा।

रेलवे रिक्रूटमेंट बोर्ड द्वारा निकाली गई इस बंपर भर्ती में उम्मीदवारों को पहले आवेदन शुल्क कम देना था लेकिन बाद में इसे बढ़ा दिया गया था। पहले अनारक्षित वर्गों के उम्मीदावरों को 100 रुपये आवेदन शुल्क देना था, वहीं आरक्षित वर्गों के लिए आवेदन नि:शुल्क था। बाद में दोनों ही वर्गों के लिए शुल्क अनिवार्य कर दिया गया था। अब आरक्षित वर्गों के उम्मीदवारों को 250 रुपये और अनारक्षित वर्गों के उम्मीदवारों को 500 रुपये का आवेदन शुल्क देना होगा।

रेल मंत्री पीयुष गोयल ने कहा है कि फीस को इसलिए बढ़ाया गया है ताकि योग्य उम्मीदवार ही इन पदों पर आवेदन करें। रेल मंत्री ने कहा, 'ऐसा इसलिए किया गया है क्योंकि कई उम्मीदवार आवेदन कर देते हैं लेकिन परक्षा देने नहीं पहुंचते। इन परीक्षाओं पर सरकार काफी पैसा बहाती है। इसलिए जो उम्मीदवार इस परीक्षा में उपस्थित रहेंगे, उन्हें आवेदन शुल्क लौटा दिया जाएगा।'

आरक्षित वर्गों के उम्मीदवारों को पूरे 250 रुपये लौटा दिए जाएंगे। वहीं अनारक्षित वर्गों के उम्मीदवारों को 500 रुपये में से 400 रुपये लौटाए जाएंगे। रिफंड पाने के लिए उम्मीदवारों को अपना बैंक खाता ऑनलाइन देना होगा। इसके अलावा रेलने ने शैक्षणिक योग्यता में भी बदलाव किया है। रेलवे ने इन पदों पर आवेदन करने के लिए शैक्षणिक योग्यता 10वीं पास और आईटीआई सर्टिफिकेट रखी थी जिसमें बदलाव किया गया है। अब आईटीआई सर्टिफिकेट या केवल 10वीं पास उम्मीदवार भी इन पदों पर आवेदन कर सकते हैं।

कई राज्यों में विरोध के बाद रेलवे ने इन पदों के लिए आयु सीमा भी दो साल के लिए बढ़ा दी है। असिस्टेंट लोको पायलट और लोको पायलट के पदों के लिए अनारक्षित वर्गों के उम्मीदवारों की आयु सीमा 28 से बढ़ाकर 30 वर्ष कर दी गई है। ओबीसी वर्गों के उम्मीदवारों की नई आयु सीमा 31 से 33 वर्ष और एससी/एसटी वर्गों के उम्मीदवारों की सीमा 33 से 35 वर्ष कर दी गई है।

इसी तरह से ग्रुप डी की भर्ती में भी सभी वर्गों के उम्मीदवारों की अधिकतम आयु सीमा 2 वर्ष के लिए बढ़ा दी गई है। अनारक्षित वर्गों के लिए आयु सीमा 28 वर्ष से बढ़ाकर 30 वर्ष कर दी गई है। ओबीसी वर्गों के उम्मीदवारों के लिए 34 से 36 वर्ष और एससी/एसटी के लिए 36 से 38 वर्ष अधिकतम आयु सीमा कर दी गई है। उम्मीदवार अब ये परीक्षा 15 भाषाओं में दे सकते हैं। पहले परीक्षा हिंदी और अंग्रेजी में होती थी लेकिन अब उम्मीदवार 15 भाषाओं में ये परीक्षा दे सकते हैं।