सरगुजा के 4 दिग्गज नेताओं को प्रदेश सरकार ने निगम मंडल में दी जगह

अंबिकापुर. प्रदेश सरकार बनने के बाद पिछले 18 महीने से निगम मंडल की बाट जोह रहे नेताओं को सौगात मिल गई है। प्रदेश सरकार ने निगम-मंडलों  में अध्यक्ष उपाध्यक्ष की नियुक्ति कर दी है। निगम मंडल की पहली सूची में 32 नेताओं को शामिल किया गया है। इसमें सरगुजा के चार दिग्गज कांग्रेसी नेताओं को जगह दी गई है।

बालकृष्ण पाठक को राज्य पादप वनौषधि बोर्ड, शफी अहमद को राज्य श्रमिक कल्याण बोर्ड, गुरुप्रीत बाबरा को राज्य खाद्य आयोग का अध्यक्ष नियुक्त किया गया है। वहीं अजय अग्रवाल को राज्य स्तरीय 20 सूत्रीय विकास कार्यक्रम के उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी दी गई है।


गौरतलब है कि छत्तीसगढ़ सरकार ने आयोग, निगम मंडल के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सदस्यों की सूची जारी कर दी है। आयोग निगम मंडल के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष और सदस्यों के पदों पर कुल 32 नेताओं को समायोजित किया गया है। इनमें रायपुर संभाग से 14, सरगुजा व बिलासपुर व दुर्ग संभाग से 4-4, बस्तर संभाग से 6 नेताओं को आयोग, निगम मंडल में जगह दी गई है।

सरगुजा से आयोग निगम मंडल के अध्यक्ष पद पर पूर्व कांग्रेस जिलाध्यक्ष बाल कृष्ण पाठक को राज्य पादप वनौषधि बोर्ड, निगम के एमआईसी सदस्य शफी अहमद को राज्य श्रमिक कल्याण बोर्ड, कांगे्रस के प्रदेश उपाध्यक्ष गुरुप्रीत बाबरा को राज्य खाद्य आयोग की जिम्मेदारी दी गई है।

वहीं निगम सभापति अजय अग्रवाल को राज्य स्तरीय 20 सूत्रीय विकास कार्यक्रम के उपाध्यक्ष की जिम्मेदारी दी गई है। पत्रिका से चर्चा के दौरान चारों नेताओं ने कहा कि हम कांग्रेस के कार्यकर्ता हैं। मुख्यमंत्री व स्वास्थ्य मंत्री ने जो जिम्मेदारी दी है उसे निष्ठा पूर्वक निभाएंगे।


मजदूरों की आर्थिक मजबूती पर करेंगे काम
श्रम कल्याण बोड के अध्यक्ष शफी अहमद ने कहा कि कांग्रेस के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं के प्रयास से यहां तक पहुंचा हूं। सरकार द्वारा श्रम विभाग की जो जिम्मेदारी मिली है इस क्षेत्र में बहुत काम करने की जरूरत है। किसी भी क्षेत्र के श्रमिकों को उनका अधिकार दिलाने का काम करेंगे। मजदूरों को आर्थिक रूप से मजबूत बनाने का प्रयास रहेगा।


चुनौती समझ कर काम करेंगे 
राज्य पादप वनौषधि बोर्ड के अध्यक्ष बालकृष्ण पाठक ने कहा कि वन मंत्री द्वारा पूरे प्रदेश में नि:शुल्क वनौषधि का वितरण किया गया है। वनौषधि का सरकार द्वारा खरीदी भी की जा रही है। आज के समय में वनौषधि के प्रति लोगों आशाभरी निगाहों से देख रहे है। इसे और आगे बढ़ाया जाएगा। सरकार द्वारा यह बड़ी जिम्मेदारी दी गई है, इसे चुनौती समझ कर काम किया जाएगा।


अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाना है खाद्य
राज्य खाद्य आयोग के अध्यक्ष गुरुप्रीत बाबरा ने कहा कि हम कांग्रेस पार्टी का कार्यकर्ता हैं। पार्टी के लिए किसी भी जगह में काम करना है। खाद्य विभाग की जिम्मेदारी दी गई है। अंतिम व्यक्ति तक खाद्य पहुंचाने का काम किया जाएगा। इससे बड़ी खुशी और क्या हो सकती है। पूरे प्रदेश में खाद्य के प्रति पूरी जिम्मेदारी के साथ काम करेंगे। कहीं भी खाद्य के प्रति हो रही कालाबाजारी को बंद करेंगे।


बड़ी जिम्मेदारी 20 सूत्रीय विकास कार्यक्रम
20 सूत्रीय विकास कार्यक्रम के उपाध्यक्ष अजय अग्रवाल ने कहा कि बहुत बड़ी जिम्म्ेदारी है 20 सूत्रीय विकास कार्यक्रम। इसके अंतर्गत समाज का पूरा समावेश है, पर्यावरण से लेकर आम आदमी की सभी जिम्मेदारी इसमें शामिल है। मुख्यमंत्री व स्वास्थ्य मंत्री ने जो पद दिया है उसे बड़े ही जिम्मेदारी से निर्वहन किया जाएगा। इस जिम्मेदारी से संतुष्ट हूं।