अवैध पटाखा फैक्ट्री का भंडाफोड़, डेढ़ लाख के पटाखे के साथ संचालक गिरफ्तार

अंबिकापुर। दीपावली नजदीक आते ही पुलिस ने अवैध पटाखा फैक्ट्री का भंडाफोड़ किया है। शहर से लगे ग्रामीण क्षेत्र में काफी दिनों से अवैध पटाखा फैक्ट्री चलाई जा रही थी। इस फैक्ट्री में तरह-तरह के पटाखों का निर्माण कराया जा रहा था। मुखबिर की सूचना पर स्पेशल टीम व मणिपुर चौकी पुलिस ने रविवार की शाम को संयुक्त रूप से कार्रवाई की है। पुलिस ने १ लाख ५३ हजार के पटाखा व बारूद जब्त किया है। वहीं फैक्ट्री संचालक को भी गिरफ्तार किया है।
पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार शहर से लगे भि_ीकला झूमरपारा में अवैध रूप से पटाखा फैक्ट्री चलाई जा रही थी। एसपी टीआर कोशिमा, एडिशनल एसपी ओम चंदेल के निर्देश पर स्पेशल टीम व मणिपुर चौकी पुलिस ने सीएसपी के मार्गदर्शन में संयुक्त रूप से छापेमारी की। छापेमारी में फैक्ट्री के अंदर काफी मात्रा में बारूद व तरह-तरह के निर्मित पटाखे पाए गए। फैक्ट्री के अंदर कई लोग काम करते पाए गए। पूछताछ के दौरान श्रमिकों ने पुलिस को बताया कि उक्त फैक्ट्री मनोज कुमार मारू पिता रामनारायण मारू उम्र ३८ वर्ष का है, जो कुंडला सिटी अंबिकापुर का निवासी है। पुलिस ने भारी मात्रा में पटाखा व बारूद जब्त कर आरोपी को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ धारा २८६ भादवि एवं विस्फोटक पदार्थ अधिनियम १९८४ की धारा ९(ख) के तहत अपराध दर्ज कर कार्रवाई की है। कार्रवाई में मुख्च रूप से विशेष टीम अंबिकापुर, मणिपुर चौकी प्रभारी ओम प्रकाश यादव, एएसआई विरेंद्र कुजूर, प्रधान आरक्षक प्रवीण राठौर, आरक्षक सियंबर दास, सुनील कुमार शामिल रहे।
बारूद व पटाखे जब्त
पुलिस ने कार्रवाई के दौरान फैक्ट्री से सोरा ७५ बोरी प्रत्येक में ५० किलो ग्राम भरा हुआ, गंधक ३५ बोरी प्रत्येक में ५० किलो ग्राम भरा हुआ, सिल्वर रंग में एल्यूमिनियम पाउडर, ड्रम प्रत्येक ४० किलोग्राम एवं एक ड्रम खुला हुआ २० किलोग्राम भरा हुआ, बड़ा वाला सुतली में बंधा पटाखा चार कार्टून प्रत्येक में ५४ डिब्बा एवं एक डिब्बा में १० पीस, आठ प्लास्टिक की बोरी में सुतली से बंधा हुआ मीडियम पटाखा प्रत्येक बोरी में ३०० नग, दो गुलाबी कार्टून में भरा हुआ बारूद की बत्ती करीब ३००० पीस, टॉप टाइगर का खुला रेपर तीन पैकेट, सुतली १० बोरी खाली कवर टॉप टाइगर का डिब्बा छपा, हाइड्रो बम ११ प्लास्टिर बोरी में प्रत्येक बोरी में ७०० नग, पन्नी पैकेट फुल ६ हजार पन्नी पीस, टॉप ऑफ चुट-पुट पटाखा ७ प्लास्टिक बोरी में प्रत्येक में ४०० पीस भरा हुआ जब्त किया गया है। इसकी कीमत १ लाख ५३ हजार रुपए बताई जा रही है।