नक्सलियों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में गढ़वा पुलिस को सफलता हाथ लगी है।

गढ़वा, 4 दिसम्बर : नक्सलियों के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान में गढ़वा पुलिस को सफलता हाथ लगी है। प्रतिबंधित नक्सली संगठन भाकपा माओवादी से अलग होकर जेजेएमपी में शामिल हुए तीन सक्रिय उग्रवादियों को गिरफ्तार किया गया है। तीनों ने पिछले दिनों लेवी के लिए भंडरिया और रमकंडा थाना क्षेत्र में रोड रोलर को आग के हवाले कर दिया था।

गढ़वा के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी ओमप्रकाश तिवारी ने बताया कि गत 27 नवम्बर को रमकंडा और भंडरिया थाना क्षेत्र में जेजेएमपी के उग्रवादियों ने सड़क निर्माण में लगे दो रोड रोलर को जला दिया था। इस संबंध में जेजेएमपी के कमांडर संतोष यादव एवं अन्य सक्रिय सदस्यों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी। 

गत 3 दिसम्बर को जिले के पुलिस अधीक्षक श्रीमती शिवानी तिवारी को गुप्त सूचना मिली कि रमकंडा थाना क्षेत्र में जेजेएमपी नक्सलियों की गतिविधि देखी गयी है। सूचना पर रमकंडा थाना पुलिस और सीआरपीएफ की 172 बटालियन के निरीक्षक के संयुक्त नेतृत्व में कार्रवाई की गयी। 

छापामारी अभियान के दौरान जेजेएमपी के सक्रिय सदस्य शिवव्रत कुमार सिंह (चपलसी-भंडरिया), कामेश्वर सिंह (बिराजपुर-रमकंडा) एवं मुस्लिम मंसूरी (बिराजपुर-रमकंडा) को गिरफ्तार किया गया। शिवव्रत के पास से एक लोडेड देसी कट्टा, उग्रवादी पर्चा, मोटरसाइकिल और दो मोबाइल फोन, कामेश्वर सिंह के पास 315 बोर की दो गोलियां, दो उग्रवादी पर्चा, दो मोबाइल फोन और एक मोटरसाइकिल, जबकि मुस्लिम मंसूरी के पास से 315 बोर की दो गोलियां, दो उग्रवादी पर्चा, एक मोबाइल फोन और एक मोटरसाइकिल बरामद की गयी हैं। तीनों उग्रवादियों ने आगजनी की घटनाओं में अपनी संलिप्ता स्वीकार की है।