धरना पर बैठे स्वास्थ्य कर्मी अस्पताल में स्वास्थ्य सेवा ठप्प

स्वस्थ्य कर्मी के साथ मरीज के परिजनो ने किया दुर्वव्हार

आरोपी की गिरफतारी करने व सुरक्षा मुहैया कराने की मांग 

धरना पर बैठे स्वास्थ्य कर्मी अस्पताल में स्वास्थ्य सेवा ठप्प

पलामूः बुधवार की सुबह अनुमंडलीय बअस्पताल के कर्मी एमपीडब्ल्यू जयप्रकाश  नारायण के साथ मारपीट व दुर्वव्यवहार के विरोध में स्वास्थ्य कर्मियों ने हुसैनाबाद ,हैददनगर समेत अनुमंडल इलाके के सभी स्वास्थ्य केंद्रों में काम काज ठप्प कर अस्पताल के मुख्य गेट पर धरना पर बैठ गये हैं। कर्मियों की मांग है कि आरोपी को गिरफतार किया जाये व स्वास्थ्य कर्मियों को सुरक्षा व्यवस्था दी जाए। एमपीडब्ल्यू जयप्रकाश नारायण ने बताया कि एक मरीज के साथ दमदमी गांव निवासी मुकेश मेहता व अन्य आये थे। मरीज का इलाज किया गया। उन्हें बेहतर इलाज के लिए रेफर कर दिया गया। इसी बात पर मुकेश  मेहता व अन्य ने उन्हें पीटा व उन्हें गाली ग्लाॅज किया। उन्होंने कहा कि जितनी व्यवस्था अनुमंडलीय अस्पताल में थीं, उनका उपचार किया गया। रेफर करने पर उन्होंने कहा कि हुसैनाबाद में सभी को रेफर कर दिया जाता है। यहां कोई व्यवस्था ही नहीं रहती है। सभी मरीज को रेफर कर दिया जाता है। स्वास्थ्य कर्मियों ने घटना के विरोध में अनुमंडलीय अस्पताल हुसैनाबाद के मुख्य गेट को जाम कर दिया। वह धरना पर बैठ गये हैं। उनकी मांग है कि आरोपी को तत्काल पुलिस गिरफतार करें व स्वास्थ्य कर्मियों को सरकार सुरक्षा मुहैया कराये। आय दिन स्वास्थ्य कर्मियों के साथ दुर्वयव्हार व मारपीट की घटनायें होती रहती है। कर्मियों ने अनुमंडलीय अस्पताल के उपाधीक्षक को भी हड़ताल पर जाने संबंधित ज्ञापन दिया है। भुक्तभोगी MPW जय प्रकाश नारायण ने थाना में मामला दर्ज करा दिया है। उन्होंने कहा है कि इस स्थिति में काम करना मुश्किल  हो गया है। उधर मुकेश मेहता ने भी थाना को लिखित शिकायत पत्र दिया है। उन्होंने चिकित्सक और कर्मियों पर लापरवाही का आरोप लगाया है। उन्होंने  चिकित्सक द्वारा पैसे की मांग की भी बात कही है। थाना प्रभारी रास बिहारी लाल मौके पर मामले की छान बीन में जुटे हैं। धरना पर बैठने वालों ,में एएनएम राजमुनी कुमारी, अर्चना कुमारी, सविता देवी, सुनीता कुमारी, गिता कुमारी, चंद्रकांती कुमारी, नवीन किशोर, प्रभवति देवी, कंचन कुमारी,रंजना कुमारी, नीरज कुमार सिंह, अरुण कुमार सिंह, बिंदा कुमारी, मेरी जोज, जयप्रकार्ष नारायण, प्रदीप कुमार, हेमंत कुमार समेत सभी कर्मचारी शामिल हैं।