स्थायीकरण की मांग को लेकर पिछले एक माह से आन्दोलन चला रहे पारा शिक्षकों ने आज न्याय यात्रा के तहत जनाक्रोश रैली निकाली। जिले के सभी प्रखंडों से हजारों पारा शिक्षकों के आने से शहर की रफ्तार थम गयी। रैली वाली सड़क पर जाम लगा रहा और हर तरफ आन्दोलनकारी पारा शिक्षक ही नजर आए।

डालटनगंज, 13 दिसम्बर: स्थायीकरण की मांग को लेकर पिछले एक माह से आन्दोलन चला रहे पारा शिक्षकों ने आज न्याय यात्रा के तहत जनाक्रोश रैली निकाली। जिले के सभी प्रखंडों से हजारों पारा शिक्षकों के आने से शहर की रफ्तार थम गयी। रैली वाली सड़क पर जाम लगा रहा और हर तरफ आन्दोलनकारी पारा शिक्षक ही नजर आए। 

जमकर लगे रघुवर दास विरोधी नारे

एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा के बैनर तले निकाली गयी रैली में राज्य की रघुवर दास सरकार पर जमकर हमला बोला गया। महिला-पुरूष पारा शिक्षकों ने सरकार विरोधी नारे लगाते हुए नजर आए। रैली स्थानीय शिवाजी मैदान से निकली। मैदान पारा शिक्षकों के साथ-साथ विद्यालय प्रबंध समिति और संयोजिका से खचाखच भरा पड़ा था। पारा शिक्षकों की एकजुटता से स्पष्ट हुआ कि रघुवर सरकार के प्रति उनके भीतर कितना आक्रोश है। अक्सर देखा जाता है कि किसी राजनीतिक दल को भीड़ जुटाने के लिए कड़ी मशक्कत कर शिवाजी मैदान को भरना पड़ता है, लेकिन पारा शिक्षकों को इसके लिए ऐसा कुछ नहीं करना पड़ा। सरकार के प्रति उनकी नाराजगी उन्हें मैदान तक खींच ले आयी। 

शहर में किया गया मार्च 

शिवाजी मैदान से रैली निकालकर पारा शिक्षक सड़कों पर आ गए और मार्च किया। रैली मैदान से निकलकर सद्वीक चैक, समाहरणालय परिसर, साहित्य समाज चैक, छहमुहान, प्रधान डाकघर होते पुनः शिवाजी मैदान आकर संपन्न हो गयी। इस दौरान स्थायीकरण के साथ सामान्य काम के बदले सामान्य वेतन की व्यवस्था को लागू करने की मांग की गयी। 

रैली में इनका रहा समर्थन

रैली में पलामू मुखिया संघ, रसोइया संघ, जिप सदस्य नंद कुमार पासवान, परमदेव सिंह, विद्यालय प्रबंध समिति सहित कई अन्य संगठनों का समर्थन दिखा। रैली से पूर्व शिवाजी मैदान में सभा की गयी। कार्यक्रम की अध्यक्षता मोर्चा के जिला अध्यक्ष संतोष सिंह ने की। मुख्य अतिथि के रूप में संगठन के ऋषिकेश पाठक और दशरथ ठाकुर व सिंटू सिंह थे। 

सभा में मिथिलेश उपाध्याय, मनोज सिंह, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष विनोद तिवारी, मिशन टीम के रंजीत जायसवाल, प्रदुम्न कुमार सिंह, राजेश नंदन सिंह, विकास सिंह, महेश मेहता, राजीव शुक्ला ने भी अपने विचार व्यक्त किए।


डीसी ने किया बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ रथ रवाणा

डालटनगंज 13 दिसंबर: पलामू के उपायुक्त डा. शांतनु कुमार अग्रहरि ने समाहरणालय परिसर से बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ जागरूकता रथ को रवाणा किया। इस मौके पर श्री अग्रहरि ने कहा कि पलामू में लड़कियों का लिंगानुपात लड़कों की तुलना में काफी कम है। इसे और ज्यादा बढ़ाने की जरूरत है। ताकि लड़के-लड़कियों की संख्या बराबर हो सके। 

उन्होंने कहा कि बेटी को बचाना और पढ़ाना आज बहुत जरूरी है। एक बेटी पढ़ती है तो एक परिवार पढ़ता है और यदि एक बेटा पढ़ता है तो एक व्यक्ति पढ़ता है। इसलिए लड़कियों को शिक्षित करने पर ज्यादा बल दिया। उन्हांेने कहा कि राज्य सरकार लड़कियों के शिक्षा में विकास के लिए कई तरह की योजनाएं चला रही है, जिसे राज्य में महिलाओं का साक्षारता प्रतिशत बढ़े।

उन्होंने कहा कि यह रथ आज से 10 दिनों तक जिले के विभिन्न प्रखंडों का दौरा कर ग्रामीणों को जागरूक करने का काम करेगा। इस मौके पर उपविकास आयुक्त बिन्दु माधव सिंह, पुलिस उपाधीक्षक प्रेम नाथ, जिला परिषद सदस्य लवली गुप्ता, समाज कल्याण पदाधिकारी शत्रुजंय कुमार सहित कई महिला पर्यवेक्षिका और समाज कल्याण विभाग के कर्मी उपस्थित थे।


मतदानकर्मियों को मिला द्वितीय चरण का प्रशिक्षण

डालटनगंज 13 दिसंबर: त्रिस्तरीय पंचायत उप चुनाव के सफल संचालन के लिए 42 मतदान पदाधिकारियों को द्वितीय चरण का प्रशिक्षण समाहरणालय के ब्लाक-सी के सभा कक्ष में आयोजित हुई। प्रत्येक मतदान दल में तीन सदस्य पीठासीन पदाधिकारी, प्रथम मतदान पदाधिकारी एवं द्वितीय मतदान पदाधिकारी होंगे। विदित हो कि इस उप चुनाव में कुल 11 मतदान केन्द्रों पर मतदान होना है।

प्रशिक्षक मनु प्रसाद तिवारी ने प्रशिक्षण देते हुए मतपेटिका को बैलेटिंग स्टेज में लाने की जानकारी देते हुए मतदानकर्मियों से इसका अभ्यास कराया, साथ ही उन्होंने मतपत्र को वोट के लिए तैयार करने एवं उसे मोड़ने तथा मतदाता को हस्तगत करने की विधि की समुचित जानकारी दी। श्री तिवारी ने राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा मतदान के क्रम में मतदाताओं की पहचान स्थापित के लिए मान्य बारह दस्तावेजों से अवगत कराया। उन्होंने पीठासीन पदाधिकारी की डायरी के संधारण की भी विन्दुवार जानकारी दी।

वहीं प्रशिक्षक परशुराम तिवारी ने अभ्याक्षेपित मत के अवधारणा को स्पष्ट किया तथा दोनों के बीच का अंतर बताया ताकि इसके संचालन में कोई संशय न हो। उन्होंने चिह्नित मतदाता सूची के उपयोग को बताते हुए कहा कि संबंधित मतदान केन्द्र पर सिर्फ वही मतदाता मतदान कर सकेंगे जिनका नाम उस सूची में दर्ज है। केवल पहचान पत्र रहने से किसी को वोट के लिए अनुज्ञात नहीं किया जायेगा। यह भी बताया कि मतदान केन्द्र पर दिव्यांग मतदाताओं को मतदान करने में प्राथमिकता देने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि समस्त चुनाव प्रक्रिया में मतदान पदाधिकारियों की निष्पक्षता अनिवार्य है।

पलामू जिला शिक्षा पदाधिकारी-सह-दंडाधिकारी प्रशिक्षण कोषांग के सुशील कुमार, सहायक महेन्द्र प्रसाद शर्मा एवं अनुसेवक अरूण कुमार का उपस्थित थे।

डीलर पर कम राशन देने और अधिक पैसा लेने का आरोप

मेदिनीनगर: मेदिनीनगर नगर निगम के वार्ड 33 के नागरिकों ने वार्ड डीलर पर कम राशन देने और अधिक पैसा लेने का आरोप लगाते हुए कार्रवाई की मांग की है। नागरिकों का आरोप है कि पन्ना लाल नामक डीलर के पास जब भी वे राशन के लिए जाते है तब वह अगले महीने आने की बात करता है। जब वो लोग अगले महीने जाते है तो घर पर बुलाकर दो महीने के राशन पर अंगुठे का निशान लगाता है और प्रति व्यक्ति 4.5 केजी के हिसाब से राशन देता है। पैसा भी अधिक लेता है।  पर्ची और पुरा राशन मांगने पर धमकाते हुए कहता है कि जितना दे रहे है उतना लो नहीं तो जहां जाना है जाओ, ज्यादा तेज बनोगे तो राशन कार्ड से नाम कटवा देंगे। नागरिकों ने पूरा राशन उचित मुल्य पर दिलाने की मांग की है। आरोप लगाने वालों में सुरेश चैधरी, विनोद चैधरी, राकेश चैधरी, बली चैधरी समेत कई लोगों के नाम है। वार्ड नम्बर 33 के वार्ड पाषर्द चंचला देवी ने भी उपायुक्त को लिखे अपने पत्र में राशन डीलर पर अनियमितता का आरोप लगाया है। उन्होंने लिखा है कि जनता द्वारा की गई शिकायत की जांच उन्होंने स्वयं की है और आरोप को सही पाया है। उन्होंने वार्ड डीलर पन्ना लाल के खिलाफ जांच कराकर नियमा अनुसार कार्रवाई करने की मांग की है। 

कांग्रेस की जीत मध्यमार्गी विचार धारा की जीत है: आनन्द

मेदिनीनगर: तीन राज्यों में कांग्रेस की जीत पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए पार्टी के प्रवक्ता आनन्द प्रसाद सिंह ने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि यह कांग्रेस की मध्यमार्गी नीतियों की जीत है। इस देश की जनता न तो अतिवामपंथ को पसंद करती है और न ही दक्षिणपंथी हिंसक राजनीत को। जनसामान्य की पसंद हमेशा से कांगे्रस का मध्य मार्ग रहा हैै। छतीसगढ़, मध्यप्रदेश और राजस्थान की जनता ने अपने मताधिकार से साबित कर दिया है कि उसे दक्षिणपंथी अतिवादी, हिंसक विचारधारा के मुखर विरोधी राहुल गांधी पसंद हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस समाज के सभी वर्गों को जोड़कर चलने की नीति पर काम करती रही है और आगे भी करती रहेगी। कांग्रेस सर्वसमावेशी राजनीतिक दल रही है। लोकतंत्र में विपक्ष के साथ सहिष्णुु स्वभाव रखना पाटी की परंपरा रही है। कांग्रेस ने कभी भी विपक्ष मुक्त भारत की बात नहीं की है। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने स्वयं स्वीकार किया है कि उनकी सरकार तीनों राज्यों में निवर्तमान मुख्यमंत्रीयों की जनोपयोगी अधूरे कार्यों को पूरा करेगी। उन्होेंने कहा कि सत्ताधारी दल भाजपा के अहंकार, लोकतंत्र विरोधी, धार्मिक असहिष्णुता, लोकतांत्रिक संस्थाओं की स्वायतता का ध्वंस और जनविरोधी नीतियों के कारण जनता ने नकार दिया। उन्होंने इस जीत के लिए राहुल गांधी एवं सोनिया गांधी को बधाई दी। पत्रकार वार्ता में उमाशंकर सिंह, लक्ष्मीनारायण तिवारी, रामाशीष पांडेय, चिंतामणि देशमुख, भूषण चैबे, शमीम अहमद राईन, अभिषेक तिवारी, राजमुनी सिंह, सुजीत पांडेय और व्यास सिंह समेत कई वरीय कांग्रेसी मौजूद थे। 

गरीबों के बीच कंबल बांटे गये

मेदिनीनगर: रेड़मा स्थित जॉनसन टाइल्स एंड हिन्दवेयर सेनेटरी के शोरूम के एक साल पूरे होने पर शोरूम के संचालकों द्वारा जरूरतमंद व असहायों के बीच कंबल का वितरण किया गया। शोरूम के प्रोपराइटर मनीष कुमार ने बताया कि हर साल इसी तरह जरूरतमंद व असहाय लोगों के बीच कुछ न कुछ कार्यक्रम करते रहेंगे। समाज में उनकी भी सहभागिता रहेगी। मौके पर युवा पलामू के राकेश तिवारी ने उनके कार्याें की सराहना करते हुए कहा कि सभी छोटे-बड़े व्यवसायी अगर समाज में इस तरह के काम करते रहें तो कभी भी किसी को परेशानी नहीं होगा।  मौके पर जॉन्सन के अभिनव तिवारी, देव्रत मंडल, अनीश कुमार, हिन्द वेयर  के अभिषेक शुत्रधर तथा समाजसेवी शशिकांत तिवारी, युवराज सिंह, जितेंद्र तिवारी, प्रभाकर तिवारी, भूपेश त्रिपाठी एवं सोनू शुक्ला समेत कई लोग मौजूद थे।

भाकपा ने की आलाव व कंबल के व्यवस्था की मांग

हुसैनाबाद/पलामू: हुसैनाबाद अनुमंडल क्षेत्र मेें पड़ रही कड़ाके की ठंड को देखते हुए भाकपा के जिला परिषद सदस्य भोला सिंह एवं अंचल कमिटी सचिव देवेंद्र प्रसाद कश्यप ने अनुमंडल पदाधिकारी को आवेदन देकर गरीब व असहायों के लिए सरकार की ओर से कंबल का वितरण कराने की मांग की है। भाकपा नेताओं ने अनुमंडल पदाधिकारी को दिये गए आवेदन में बताया है कि अनुमंडल क्षेत्र के विभिन्न चैक-चैराहों पर बड़ी संख्या मंे गरीब व वृद्धजन गांव से आते-जाते एवं रहते हैं। जिनके पास ठंड से बचने के लिए पर्याप्त व्यवस्था नहीं होती। ऐसी स्थिति में गरीबों को ठंड से बचाने के लिए सभी चैक-चैराहोें एवं स्टेशन परिसर में अलाव की व्यवस्था की जानी चाहिए। नेताओं ने गरीब व असहायों के लिए सरकारी सहायतामद से शीघ्र कंबल वितरण की व्यवस्था कर जनहित के इस कार्य को पूरा करने का अनुरोध किया है।