मेडिकल काॅलेज के बाद अब पलामू में खुलेगा फार्मेसी काॅलेज: स्वास्थ्य मंत्री

मेडिकल काॅलेज के बाद अब पलामू में खुलेगा फार्मेसी काॅलेज: स्वास्थ्य मंत्री

पलामू 29 दिसंबर: पलामू जिले में मेडिकल काॅलेज के बाद अब फार्मेसी काॅलेज खुलने की तैयारी तेज कर दी गयी है. पिछले दिनों हुई केबिनेट की बैठक में इस पर मुहर लगा दी गयी है. काॅलेज खोलने के लिए 12 करोड़ रूपये की भी स्वीकृति भी दे दी गयी है. शनिवार को परिसदन में पत्रकारों से बात करते हुए स्वास्थ्य मंत्री राम चन्द्र चंद्रवंशी ने इसके बारे में जानकारी दी. 

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि सबकुछ ठिकठाक रहा तो पलामू जिले में जल्द फार्मेसी काॅलेज में पढ़ाई शुरू हो जायेगी और इससे पलामू जिले को भरपूर लाभ होगा. फार्मेसी की पढ़ाई के लिए यहां के मेधावी छात्र-छात्राओं को बड़ी शहरों की ओर रूख नहीं करना पड़ेगा. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की कोशिश पलामू जिले को मेडिकल हब बनाने की है. इस दिशा में एक से बढ़कर एक कार्य किये जा रहे हैं.

चार-पांच जनवरी को लगेगा मोतियाबिंद का कैंप 

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि जिले के विश्रामपुर में चन्द्रवंशी ट्रस्ट द्वारा चार और पांच जनवरी को मोतियाबिंद आपरेशन किया जायेगा. इसके लिए तीन जनवरी को मेडिकल कैंप लगाया गया है. उस दिन मरीजों की आंखों की जांच की जायेगी. उन्होंने जिले के लोगांे से अविलंब निबंधन कराने की अपील की है. उन्होंने कहा कि चार जनवरी को डायबीटीज जांच की भी व्यवस्था की गयी है. 

उन्होंने बताया कि पांच जनवरी को एक बजे रेहला स्थित लक्ष्मी चन्द्रवंशी महिला महाविद्यालय में माता लक्ष्मी चन्द्रवंशी की प्रतिमा का अनावरण पलामू के सांसद वीडी राम द्वारा किया जायेगा। इस मौके पर भाजपा के पलामू जिलाध्यक्ष नरेन्द्र पांडेय, विजयानंद पाठक, पूर्णिमा चन्द्रवंशी, धर्मेन्द्र उपाध्याय, आनंद कुमार बाबु सहित कई भाजपा नेता और कार्यकर्ता उपस्थित थे।