संत मरियम विद्यालय में धूमधाम से मनाया गया मकर संक्रांति का त्योहार समेत पलामू की अन्य खबरें।

संत मरियम विद्यालय में धूमधाम से मनाया गया मकर संक्रांति का त्योहार 

डालटनगंज, 15 जनवरी : स्थानीय नावाहाता स्थित संत मरियम आवासीय विद्यालय में मकर संक्रांति का त्योहार उत्साह के साथ मनाया गया। मौके पर विद्यालय के निदेशक अविनाश देव ने विद्यालय के बच्चों को तिलकुट, दही, चुड़ा खिलाते हुए कहा कि मकर संक्रांति आपसी सौहार्द का त्यौहार है। इस त्यौहार पर एकत्रित होकर प्रसाद पाने का एक अलग ही आनंद है। 

उन्होंने कहा कि विद्यालय ही हमारा परिवार है और विद्यालय के बच्चों को खुश रखते हुए उन्हें मंजिल तक पहुंचाना हमारी प्राथमिकता है। इसके लिए सभी सहयोगी शिक्षकों लगातार मेहनत कर रहे हैं। इससे रास्ता बनता जा रहा है। बच्चे अपने मुकाम तक पहुंचने लगे हैं। 

विद्यालय के बच्चों ने बताया कि संत मरियम आवासीय विद्यालय अन्य विद्यालयों से बिल्कुल ही अलग है। यहां वे सारी सुविधाएं उपलब्ध हैं, जो हमें चाहिए। अगर कभी हमें माता-पिता की याद आती है तो हम अविनाश भैयाजी से मिल लेते हैं, जहां हमें माता-पिता व अन्य परिजनों का प्यार व मार्गदर्शन मिल जाता है। 

कार्यक्रम को सफल बनाने में विद्यालय के शिक्षक, शिक्षिकाओं के अलावे ललन प्रजापति ने भी सक्रिय भूमिका अदा की।




छत्तरपुर ग्रामीण जलापूर्ति योजना के लिए हुआ भूमि पूजन, 34 गांवों को मिलेगा सोन नदी से पीने का पानी                                                                                                                                

डालटनगंज/छत्तरपुर 15 जनवरी : पलामू के सांसद विष्णु दयाल राम और छत्तरपुर के विधायक राधाकृष्ण किशोर ने संयुक्त रूप से छत्तरपुर ग्रामीण जलापूर्ति योजना का छत्तरपुर और लठेया गांव में भूमि पूजन किया। इस योजना के पूरा हो जाने पर छत्तरपुर और हुसैनाबाद के 18-18 गांवों को पानी मिल सकेगा। 50 हजार से अधिक की अबादी को इस पेयजलापूर्ति योजना से प्यास बुझेगी।

ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत करने पर सरकार का है पूरा फोकस: सांसद  

भूमि पूजन को लेकर छत्तरपुर में कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मौके पर सांसद ने कहा कि केन्द्र व राज्य सरकार ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। पलामू संसदीय क्षेत्र में शुद्ध पेयजल की उपलब्धता, कृषि उत्पादन की वृद्धि के लिए समुचित सिंचाई का प्रबंध, प्रधानमंत्री आवास का निर्माण, उज्जवला योजना के तहत महिलाओं को मुफ्त गैस चुल्हा व सिलेन्डर का वितरण जैसे अनेकों योजनाओं को धरातल पर उतारा जा रहा है। सांसद ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की प्रशंसा करते हुए कहा कि समान्य जाति के आर्थिक रूप से पिछड़े हुए लोगों को 10 प्रतिशत आरक्षण देने का फैसला सामाजिक समानता के लिए एक ऐतिहासिक पहल है। 

रघुवर सरकार का शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने पर फोकस: किशोर 

मौके पर विधायक राधाकृष्ण किशोर ने कहा कि भाजपा ‘सबका साथ सबका विकास’ नारे को सफलीभूत करते हुए मुख्यमंत्री रघुवर दास द्वारा वर्ष 2015-16 में छत्तरपुर ग्रामीण जलापूर्ति योजना की स्वीकृति प्रदान की गई है। अब तक छत्तरपुर प्रखंड में हैंड पम्प, कुंआ आदि से पेयजल उपलब्ध होता रहा है। पहली बार पाइप लाइन के द्वारा लगभग 50 हजार आबादी को पयजल की सुविधा उपलब्ध होगी। 

68 करोड़ रूपये होंगे खर्च

इस योजना पर लगभग 68 करोड़ रूपये खर्च होंगे। छत्तरपुर पाईपलाइन ग्रामीण जलापूर्ति योजना से छत्तरपुर प्रखंड के छत्तरपुर, सड़मा, कंगालीडीह, बारा, खाटीन, मसिहानी, मदनपुर, पहाड़ी, खेन्द्रा खूर्द, खेन्द्रा कला, लठेया, गोठा, कालापहाड़, लावादाग एवं डूंडर गांव को शुद्ध पेयजल की सुविधा उपलब्ध होगी। विधायक ने कहा कि इस योजना के कमांड क्षेत्र में पड़ने वाले सभी स्कूल, आंगनबाड़ी, पंचायत भवन, अस्पताल तथा अन्य संस्थानों को भी पाइप लाइन  जलापूर्ति से जोड़ा जायेगा। इसके अतिरिक्त हुसैनाबाद के 18 गांवों को भी इस योजना का लाभ प्राप्त होगा। 

मौके पर पीएचइडी विभाग के अधीक्षक अभियंता यमुना राम, कार्यपालक अभियंता अजय सिंह, लठेया मंडल ध्यक्ष नरेश यादव, हरेन्द्र सिंह, मनोज गुप्ता, अशोक सोनी, सुधीर सिन्हा, अनिल सिंह, चंदन यादव, रितेश सोनी, सोनू गुप्ता, अजीत प्रजापति, बिटू गुप्ता, भगवान दास, मुरली गुप्ता, सुनील कुमार, पप्पू सिंह सहित सैकड़ों की संख्या में लोग उपस्थित थे।



मोर्चा कार्यालय में मनेगा एनपीयू का स्थापना दिवस   

डालटनगंज, 15 जनवरी : अनुसूचित जाति-जनजाति छात्र संघर्ष मोर्चा ने आगामी 17 जनवरी को नीलाम्बर-पीताम्बर का 10वां स्थापना दिवस मनाने का निर्णय लिया है। मोर्चा के अध्यक्ष उदय राम की अध्यक्षता में आज बारालोटा स्थित जिला कार्यालय में हुई मोर्चा सदस्य की बैठक में इसका निर्णय लिया गया। साथ ही छात्रहित में चलाए जा रहे आन्दोलन की समीक्षा की गयी। 

मोर्चा अध्यक्ष ने कहा कि जिला कार्यालय में एनपीयू का स्थापना दिवस धूमधाम से मनाया जायेगा। इस दौरान नीपी विश्वविद्यालय के क्रियाकलापों पर विस्तार से चर्चा की जायेगी। विश्वविद्यालय द्वारा पिछले 10 वर्षों के दौरान क्या खोया, क्या पाया, इस पर चिंतन-मनन किया जायेगा। गोष्ठी, खेलकूद, एवं क्वीज प्रतियोगिता का आयोजन किया जायेगा। इसमें सफल आने वाले छात्रों को पुरस्कृत किया जायेगा। 

बैठक में अन्य लोगों के अलावा विवेक कुमार, रामबचन राम, प्रभात कुमार, जीतू राम, नवीन कुमार, बबन कुमार, रोहित कुमार, विजय राम, आयुष कुमार, अनिल राम, प्रेम कुमार, कुंदन कुमार भी उपस्थित थे।


‘द सक्सेस हब’ विद्यार्थियों के लिए सफलता का द्वार खोलेगा: दिलीप 

डालटनगंज, 15 जनवरी : झारखंड विकास मोर्चा (प्र.) के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य दिलीप सिंह नामधारी ने आज चैनपुर ब्लाॅक के सामने ‘द सक्सेस हब’ कोचिंग संस्थान का उद्घाटन किया। इस संस्थान में नौवीं से लेकर बारहवीं तक के सभी विषयों की पढ़ाई होगी। जिले के विद्यार्थियों को एस.एस.सी., बैंकिंग, रेलवे, नेवी, एयर फोर्स के विषयों में शिक्षा दी जाएगी, ताकि वे अच्छे रोजगार पा सकें। 

मौके पर श्री नामधारी ने कहा कि ‘द सक्सेस हब’ विद्यार्थियों के लिए सफलता का द्वार खोलेगा। दिलीप ने कोचिंग के संस्थापक आलोक से गरीब बच्चों के फीस में विशेष रूप से छूट देने का आग्रह किया। इस पर कोचिंग के संस्थापक ने बताया कि लड़कियों के लिए फीस में 50 प्रतिशत तक की छूट रहेगी एवं मेधावी छात्रों के लिए स्काॅलरशिप की भी व्यवस्था है। उद्घाटन के अवसर पर अन्य लोगों के अलावा हरिहर प्रसाद, विरेन्द्र प्रसाद, सूर्य प्रकाश, ओम कुमार, सदानन्द तिवारी, मो. जावेद, मो. साकिब भी उपस्थित थे।



बाल प्रताड़ना के आरोपियों पर हो कड़ी कार्रवाई: हर्ष  

डालटनगंज, 15 जनवरी : जिले के नावाबाजार प्रखंड अंतर्गत सिंजो में संचालित ‘समर्थ आवासीय विद्यालय’ के अनाथ बच्चों के साथ बुरा व्यवहार करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की मांग तेज हो गयी है। राष्ट्रीय मानवाधिकार संगठन के प्रदेश संयुक्त सचिव हर्ष सहानी ने बाल संरक्षण आयोग की अध्यक्ष आरती कुजुर को पत्र प्रेषित कर कार्रवाई की मांग की है। श्री सहानी ने अपने पत्र में कहा है कि छात्रावास में बच्चों के साथ अत्याचार के साथ-साथ बाल अधिकारों (अक्टूबर 1993) का हनन हुआ है। श्री सहानी ने कार्रवाई के साथ-साथ छात्रावास के जर्जर शौचालय को दुरूस्त करने की भी मांग की है। 



संस्कार का गुरूकुल साबित होगा एनपीपीएस: कुलपति

डालटनगंज, 15 जनवरी: सदर प्रखंड अंतर्गत जमुने में संचालित नीलांबर-पीतांबर पब्लिक स्कूल का आज तीसरा स्थापना दिवस समारोह धूम-धाम से मनाया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि नीलांबर-पीतांबर विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ सत्येन्द्र नारायण सिंह एवं विशिष्ट अतिथि पूर्व मंत्री के.एन त्रिपाठी मौजूद थे। अन्य अतिथियों में शहर थाना प्रभारी आंनद मिश्रा, जनता शिवरात्रि महाविद्यालय के प्राचार्य राणा प्रताप सिंह, प्राध्यापक एस.के पाण्डेय, युवा छात्र नेता कमलेश पांडेय भी उपस्थित थे।

मौके पर कुलपति ने विद्यालय के कार्यक्रम को सराहते हुए इसे भविष्य गढ़ने वाला संस्कारवाद गुरूकल की संज्ञा दी। साथ ही गांववासियों को शिक्षा के लिए प्रेरित भी किया। पूर्व मंत्री श्री त्रिपाठी ने कहा कि स्कूल के उज्जवल भविष्य की कामना की। मौके पर स्कूली बच्चों के देशभक्ति गीत और नृत्य से कार्यक्रम को चार चांद लगा गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्राचार्य अविनाश मिश्र ने की, जबकि संचालन प्रभाकर पाण्डेय ने किया। अतिथियों का स्वागत  निदेशक अभिषेक मिश्रा ने किया। मौके पर राजा, दीपक ठाकुर, राजु गुप्ता, सोनू मिश्रा समेत दर्जनों लोग मौजूद थे। धन्यवाद ज्ञापन शिक्षिका आकांक्षा मिश्रा ने किया।


ज्ञान सेतु की समीक्षात्मक बैठक 

प्रशिक्षण में भाग नहीं लेने वाले शिक्षकों पर कार्रवाई का निर्णय 

डालटनगंज/गढ़वा 15 जनवरी: गढ़वा के प्लस टू गोविंद उच्च विद्यालय में ज्ञान सेतु की समीक्षात्मक बैठक हुई। बैठक में ज्ञानसेतु के प्रशिक्षकों को कई आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। प्रशिक्षण के दौरान सभी शिक्षकों की शत-प्रतिशत उपस्थिति, प्रशिक्षण के दौरान आने वाले व्यवधान, टीएनए, अनुश्रवण तथा लर्निंग आउटकमस, ओपनिंग एंड क्लोजिंग, यू डू लेशन प्लान तथा प्रशिक्षण सफल बनाने पर विस्तार पूर्वक चर्चा की गई। 

ज्ञानसेतू कार्यक्रम के राज्य समन्वयक (नीति आयोग के) आर्यन गर्ग ने बताया कि हर हाल में सभी शिक्षक ज्ञान सेतु का प्रशिक्षण लेंगे। प्रशिक्षण के दौरान अनुपस्थित रहने वाले शिक्षक पर विभागीय कार्रवाई की जाएगी। श्री गर्ग ने बताया कि गढ़वा का ज्ञानसेतु में तीसरा स्थान पर है। ज्ञान सेतु कार्यक्रम में विद्यालय स्तर पर किसी भी तरह की कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। 

स्टेट मॉनिटरिंग टीम के सदस्य डीके शुक्ला ने सभी प्रशिक्षकों को स्पष्ट निर्देश दिया कि प्रशिक्षण निर्धारित समय से शुरू एवं समय से समाप्त किया जाए। आधा घंटा भी जो विलंब से शिक्षक आते हैं, उन्हें प्रशिक्षण में शामिल नहीं किया जाए। लेट आने वाले शिक्षकों को अगले बैच में प्रशिक्षण दिया जाए। उन्होंने कहा कि ज्ञानसेतु का क्रियान्वयन विद्यालयों में बेहतर तरीके से हो एवं सरकारी विद्यालयों में पढ़ रहे बच्चे का लर्निंग गैप समाप्त किया जा सके, इस पर विशेष रूप से बल दिया जाना चाहिए। किसी तरह की परेशानी आने पर प्रतिदिनि संध्या में पांच बजे से सात बजे तक शिक्षकों को फोन कर उनसे जानकारी प्राप्त करने की सलाह दी। कहा कि संपर्क करने पर सरल तरीके से शिक्षकों को जानकारी दी जायेगी। 

बैठक में आनंद प्रभात कुल्लू, अंकेश पाठक, एडमिन कच्छप, वीरेंद्र प्रसाद संतोष कुमार पाठक, विद्यार्थी कुमार, बलदेव मिश्रा, संजय कुमार तिर्की, हरिनंदन, अरविंद, प्रभात रंजन मिश्रा, शशि कुमार समेत सभी प्रखंड के बीपीओ एवं ज्ञानसेतु के प्रशिक्षक मौजूद थे। 



पलामू: सड़क हादसे के शिकार हुई महिला मजदूर मनरेगा जाॅब कार्डधारी थी, गांव में रोजगार नहीं मिलने पर पलायन कर गयी थी बिहार 

  

पलामू, 15 जनवरी: पलामू जिले के नावाबाजार में सोमवार को सड़क हादसे में जान गंवाने वाली महिला मजदूर उर्मिला भुइन को मनरेगा के तहत जाॅब कार्ड मिला था. गांव में रोजगार का कोई साधन नहीं होने पर वह अपने परिवार के साथ बिहार पलायन कर गयी थी. यहां एक महीने तक धान काटने के बाद अपने घर लौट रही थी. 

2006 से अबतक मात्र 23 दिन मिला था काम 

प्रखंड की रबदा पंचायत के ठेमा गांव की जाॅब कार्डधारी गरीब महिला मजदूर उर्मिला भुईन (40) की मौत के बाद मंगलवार को दाह संस्कार किया गया. महिला मनरेगा के मजदूर थी, जिसका जॉब निबंधन संख्या 7/30 है। 2006 से अभी तक मात्र 23 दिन उसे काम मिला है. कई बार काम मांगने पर जब उसे कोई रोजगार नहीं मिला तो वह पलायन कर गयी. 

दाह संस्कार के लिए मिले छह हजार रूपये 

दाह संस्कार के लिये महिला के परिजन को छह हजार रूपये आज मिले हैं. इनमें सीआई ने तीन, जीपीएस ने दो हजार और मनिका के सतबरवा विधायक के प्रतिनिधि सुरेश प्रसाद ने एक हजार रूपये की आर्थिक मदद की है.  

मालूम हो कि महिला की मौत सोमवार को पिकअप वैन पलटने के बाद इलाज के क्रम में मेदिनीनगर के सदर अस्पताल में हो गयी थी. मृतका उर्मिला देवी बिकोर राम की पत्नी थी. वही इस हादसे में 18 लोग घायल हैं, जो सभी ठेमा गांव के हैं. जीपीएस लालमोहम्मद अंसारी ने बताया कि सरकारी प्रावधान के अनुसार मृतका के परिजन को लाभ दिया जायेगा. मौके पर रबदा के पंचायत समिति सदस्य धीरज कुमार, अरविंद सिंह, बीस सूत्री अध्यक्ष रवि प्रसाद, बेचन मुंडा के अलावा कई लोग मौजूद थे।


25 मजदूरों की मौत के बाद मिला था मुआवजा 

नौ जनवरी 2013 बिहार के औरंगाबाद में सड़क हादसे मंे मारे गये 25 मजदूरों को मुआवजा मिला था. इस हादसे में सतबरवा के डोडांग, मारीभांग, रांकीकला के मजदूर मारे गये थे. इसमें एक ही परिवार के नौ मजदूर शामिल थे. मृतक के आश्रित मंगर भुईयां ने बताया कि सात लाख रूपये प्रत्येक लोगों पर मुआवजा मिला था. इसमें झारखंड सरकार ने पांच और बिहार सरकार ने दो लाख दिये थे. 

सरकार के नीति के चलते पलायन 

झाविमो के प्रखंड अध्यक्ष आशीष कुमार सिंहा ने कहा है कि सरकार की गलत नीति के चलते मजदूर मरने को विवश हैं. कही पर कोई काम नहीं चल रहा है. भय, भूख और भ्रष्टाचार चरम पर है. मनरेगा को केवल कागजों पर ही महत्वाकांक्षी बताया जाता है, उसका हकीकत से कोई वास्ता नहीं रह गया है. 


काम मांगने के बाद नहीं मिलता है: प्रो. जयाद्रेंज 

मनरेगा के संस्थापक और प्रख्यात अर्थशास्त्री प्रो. जयाद्रेज ने कहा है कि पलामू जिले में मनरेगा का संचालन ठीक ढंग से नहीं हो रहा है. अगर ठीक से होता तो मजदूरों को बाहर कमाने जाना नहीं पड़ता. मनरेगा को हमसब लगातार पटरी पर लाने का प्रयास कर रहे हैं.