प्रधानमंत्री आवास योजना में गड़बड़ी, मुखिया सहित पांच पर प्राथमिकी

प्रधानमंत्री आवास योजना में गड़बड़ी, मुखिया सहित पांच पर प्राथमिकी  

पलामू 21 जनवरी : गरीबों को पक्का आवास देने के उद्देश्य से शुरू की गयी प्रधानमंत्री आवास योजना में स्थानीय स्तर पर भ्रष्टाचार सामने आया है. जिन लोगों को इस योजना का लाभ पारदर्शी तरीके से देने के लिए जिम्मेवारी सौंपी गयी है, उल्टे उनके द्वारा ही गड़बड़ी की जा रही है. ताजा मामला पलामू जिले के हरिहरगंज से जुड़ा हुआ है. प्रखंड अंतर्गत डेमा पंचायत में प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के क्रियान्वयन में गड़बड़ी का मामला सामने आया है. 

इस सिलसिले में पंचायत के मुखिया रेशमी देवी समेत अन्य आरोपियों के खिलाफ थाने में प्राथमिकी दर्ज हुई है. जिले के उपायुक्त के आदेशानुसार हरिहरगंज प्रखंड के विकास पदाधिकारी ने डेमा पंचायत के मुखिया श्रीमती रेशमी देवी, उटांरी रोड प्रखंड के तत्कालीन पंचायत सेवक विनोद कुमार, विश्रामपुर के पंचायत सेवक अजय कुमार सिंह, कम्प्यूटर ऑपरेटर विश्वनाथ विश्वकर्मा और पंचायत स्वयंसेवक उमाशंकर यादव के खिलाफ हरिहरगंज थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी है. इन लोगों पर योजना के क्रियान्वयन में अनियमितता बरतने ओर गलत लाभुकों का चयन कर सरकारी राशि का भुगतान करने का आरोप है.

थाना प्रभारी सह पुलिस निरीक्षक वंश नारायण सिंह ने बताया कि आरोपियों के खिलाफ हरिहरगंज थाना प्रभारी ने भादवि की धारा 406, 420, 467, 468, 471, 472 और 34 के तहत कांड दर्ज किया है और इस मामले के अनुसंधानकर्ता सहायक अवर निरीक्षक श्यामनारायण सिंह को बनाया गया है. उन्होंने कहा कि मामले में कार्रवाई का निर्देश दिया गया है.

उच्चस्तरीय टीम ने की थी जांच

हरिहरगंज के बीडीओ हरिशंकर बारी ने बताया कि कुछ माह पूर्व हरिहरगंज में प्रधानमंत्री आवास योजना की जांच के लिए राज्यस्तरीय टीम आयी थी. टीम ने डेमा पंचायत में जांच के दौरान पाया था कि इस योजना में भारी अनियमितता बरती गयी है. गलत लाभुकों का चयन कर सरकारी राशि गलत व्यक्तियों को भुगतान कर दिया गया है. इस सिलसिले में जिले के उपायुक्त को कार्रवाई का निर्देश दिया गया था. उपायुक्त द्वारा पत्र लिखकर कार्रवाई का निर्देश दिया गया। इसी आलोक में प्राथमिकी दर्ज की गयी है. 

दिलीप कुमार, पलामू, 21.1.19