समय-समय ________ समय चक्र निरंतर स्वयं निर्मित पथ पर चलता है सदा अली लेकिन.....! स्वार्थी मानव षड्यंत्र रचता हैदर मेहनत से बचता हैदर मिट जाती हैं उस की हस्त रेखाएं जब पछता कर सकते सकते थे थे हाथ मलता हैदर अली जब तक २ . सपाई _____ आजकल शहर की नालियां बहुत साफ रहती हैं ! जब जब क्यों कि........? इन नालियों की गन्दगी सड़कों पर बहती है ३. आठवीं अजूबा ______________ लोग कहते हैं दुनिया में कुल सात अजूबे हैं मै कहता हूं उन से हर इशारात अजूबे हैं तुम्हें आठवां अजूबा दिखला रहा हूं मैं जाने वाला कहता है आ रहा हूं मैं ऊपर आसमान नीचे ज़मीन है तुम्ही बताओ यह क्या अजूबा नहीं है नज़ीरुद्दीन खां सबनवां मोहम्मद गंज पलामू 7781994646

 समय-समय
________ 
समय चक्र निरंतर
स्वयं निर्मित पथ पर
चलता है सदा
अली
लेकिन.....!
स्वार्थी मानव
षड्यंत्र रचता हैदर
मेहनत से बचता हैदर

मिट जाती हैं
उस की हस्त रेखाएं
जब पछता कर सकते सकते थे थे
हाथ मलता हैदर अली
जब तक
२ . सपाई
_____

आजकल
शहर की नालियां
बहुत साफ रहती हैं ! जब जब
क्यों कि........?
इन नालियों की गन्दगी
सड़कों पर बहती है

३. आठवीं अजूबा
______________

लोग कहते हैं
दुनिया में 
कुल सात अजूबे हैं
मै  कहता हूं उन से
हर इशारात अजूबे हैं

तुम्हें आठवां अजूबा
दिखला रहा हूं मैं

जाने वाला कहता है
आ रहा हूं मैं

ऊपर आसमान
नीचे ज़मीन है 
तुम्ही बताओ यह
क्या अजूबा नहीं है

नज़ीरुद्दीन खां
सबनवां
मोहम्मद गंज
पलामू
7781994646