दो महीने से बिजली की किल्लत झेल रही है राजधानी

दो महीने से बिजली की किल्लत झेल रही है राजधानी


News Description : 

कछुए की रफ्तार से चल रहा अंडरग्राउंड केबलिंग का काम  रांची :राजधानी में पिछले दो महीनें से बिजली की स्थित खराब है और लोग परेशान हैं. शहर के बड़े इलाके में लगातार छह घंटे से बिजली अधिक बंद रह रही है. विभाग की अोर से तय समय के घंटों बाद उपभोक्ताअों को बिजली मिल रही है. पॉली कैब की अोर से राजधानी में अंडरग्राउंड केबलिंग, नये ट्रांसफारमर लगाने, जरूरी उपकरण बदलने  और सब-स्टेशन बनाये जाने समेत अन्य काम किये जा रहे हैं.  इस वजह से घंटों बिजली बंद की जा रही है. विभाग की ओर से बताया गया है कि पॉली कैब को जून 18 तक शहर में बिजली व्यवस्था को दुरुस्त करने का का पूरा करना है. जबकि, वास्तविकता यह है कि अब तक 30 प्रतिशत काम भी पूरा नहीं हो पाया है. इधर, विभाग के अधिकारी भी मानते हैं कि तय समय तक 60 प्रतिशत काम ही पूरा हो पायेगा. ऐसे में आशंका है कि जब तक यह काम पूरा नहीं हो जाता है, तब तक घंटों बिजली बाधित रहेगी.  शाम पांच बजे आनी थी बिजली, छह बजे आयी : राजधानी के बड़े इलाके में रविवार को भी मरम्मत कार्य किये जाने के कारण बिजली बंद थी. विभाग की अोर से इसकी सूचना दी गयी थी कि शाम पांच बजे तक आरएंडडी फीडर के  परासटोली, दर्जी मोहल्ला, मेकन, साउथ व नार्थ अॉफिस पाड़ा, डोरंडा कॉलेज रोड, बिरसा चौक, हवाई नगर, शुक्ला कॉलोनी, गांधीनगर सहित अन्य संबंधित इलाकों को बिजली नहीं मिलेगी. लेकिन, बिजली छह बजे के बाद मिली. ऐसा ही हाल अन्य इलाके में भी रहता है.  ये हाल है  पॉली कैब को मिली है शहर की बिजली व्यवस्था को दुरुस्त करने की जिम्मेदारी  जून 18 तक काम पूरा करना है एजेंसी को, लेकिन अब तक 30 प्रतिशत भी नहीं हुआ  पॉली कैब के प्रतिनिधि से कहा गया है कि वे मार्च तक केबल लगाने का काम पूरा कर लें. केबल लगाने का काम बिजली व्यवस्था को बेहत