झारखंड : राजभवन-कांटाटोली स्मार्ट रोड के लिए टूटेंगे 113 भवन , 24 महीने में पूरा कर देना है सड़क का निर्माण



रांची : राजभवन से कांटाटाेली वाया सर्कुलर रोड  स्मार्ट रोड का निर्माण होगा. इसका शिलान्यास हो चुका है.  सड़क की चौड़ाई बढ़ा कर 29 मीटर की जायेगी. अभी सड़क की चौड़ाई 19 से 23 मीटर तक है. यानी सड़क के दोनों तरफ लगभग पांच-पांच मीटर भूमि का अधिग्रहण किया जायेगा.


इस सड़क पर बड़े-बड़े शॉपिंग मॉल, महिला कॉलेज व कोचिंग संस्थान, होटल, बिरसा मुंडा स्मृति पार्क, पेट्रोल पंप भी है. नगर विकास विभाग की कंपनी जुडको द्वारा तैयार डीपीआर के तहत कुल 113 संरचनाओं को तोड़ा जायेगा. सड़क की चौड़ाई के लिए कुल 13.22 एकड़  जमीन ली जायेगी. इसमें 3.73 एकड़ जमीन सरकारी है. शेष 9.49 एकड़ जमीन निजी जमीन है.राजभवन से सर्कुलर रोड होते हुए कांटा टोली पथ की प्राक्कलन राशि  633.88  करोड़ रुपये हैं, जिसमें सड़क निर्माण पर 92.99 करोड़ रुपये खर्च होंगे. 



सड़क निर्माण के लिए  भूमि अधिग्रहण एवं मुआवजे पर 541.88 करोड़ रुपये खर्च  होंगे. सड़क की कुल लंबाई 2.88 किलोमीटर है. बताया गया कि रांची जिला प्रशासन द्वारा एक बार फिर से रैयतों की सूची का मिलान किया जायेगा. मापी की जायेगी, इसके बाद भूमि अधिग्रहण की अधिसूचना जारी कर रैयतों की अंतिम रूप से सूची जारी होगी. फिर रैयतों से आपत्ति मांगी जायेगी. इसके बाद भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया आरंभ होगी. भूमि अधिग्रहण के बाद सड़क निर्माण कार्य आरंभ होगा. सड़क का निर्माण 24 माह में करना है.


भूमि की दर 6844 रुपये वर्ग फीट तक : विभाग द्वारा सरकुलर रोड, कचहरी चौक, लालपुर चौक, डंगराटोली चौक व पुरुलिया रोड में भूमि की दर 5072 से लेकर 6844 रुपये प्रति वर्ग फीट रखी गयी है. जिनकी भूमि ली जायेगी, उन्हें दोगुना मुआवजा भी दिया जायेगा.



साथ ही ट्रांसफर डेवलपमेंट राइट(टीडीआर) के तहत फ्लोर एरिया रेशियो  (एफएआर) बढ़ाने की अनुमति भी दी जायेगी. टीडीआर धारक चाहें, तो किसी अन्य को टीडीआर बेच भी सकते हैं या अन्यत्र उसी कीमत की भूमि टीडीआर के एवज में ले भी सकते हैं.



चार स्मार्ट रोड बनने हैं : राज्य सरकार रांची की चार प्रमुख सड़कों को स्मार्ट रोड बनायेगी. राजभवन से हरमू रोड होते हुए बिरसा चौक की सड़क व एयरपोर्ट से बिरसा चौक व राजभवन से कांटा टोली चौक की सड़क का शिलान्यास सरकार कर चुकी है. चौथा रोड राजभवन से बूटी मोड़ वाया बरियातू रोड है, जिसकी  टेंडर की प्रक्रिया चल रही है.   


 

नगर विकास एवं आवास विभाग रांची स्मार्ट के तहत  पैन सिटी डेवलपमेंट के रूप में इन सड़कों का निर्माण कराया जा रहा है.


 छह-छह मीटर के पैदल पथ बनेंगे : राजभवन से कांटा टोली चौक तक की  सड़क की कुल चौड़ाई 29  मीटर की होगी,  जिसमें सड़क के दोनों तरफ छह-छह मीटर के पैदल पथ बनाये जायेंगे. डिवाइडर दो मीटर का होगा. वहीं दोनों तरफ काली सड़क की चौड़ाई 7.5-7.5 मीटर की  होगी.


 

इसी में लगभग 2.5 मीटर केवल नन मोटराइज्ड वाहन के लिए रास्ता होगा. यानी साइकिल रिक्शा के लिए अलग से लेन बनेगा. 3.5 मीटर में पैदल पथ होगा. इस छह मीटर के पैदल पथ में अंडरग्राउंड यूटिलिटी बॉक्स होगा. जिसमें अंडरग्राउंड बिजली के केबुल, टेलीफोन के केबुल के साथ-साथ पानी का सर्विस पाइपलाइन भी होगा. भविष्य की संभावनाओं को देखते हुए गैस पाइपलाइन का डक्ट भी बनाया जायेगा. 



     

 छह मीटर में जगह-जगह डस्टबिन लगाये जायेंगे. साथ ही 50 से 100 मीटर की दूरी पर बेंच भी लगाये जायेंगे, ताकि पैदल चलने वाले चाहें तो बैठ कर आराम भी कर सकते हैं. इस छह मीटर में मोटराइज्ड वाहन किसी भी हालत में नहीं चल सकते. इसके ऊपर टाइल्स लगाये जायेंगे.   सड़क का डिवाइडर दो मीटर का होगा. इसके नीच सीवर लाइन होगा. साथ ही स्ट्रीट लाइट भी इसी डिवाइडर में लगाये जायेंगे. जगह-जगह पेड़ लगायें जायेंगे.