पश्चिमी विक्षोभ ने दी दस्तक, पलामू में फिर लौटी ठंड-24 घंटे रहेगा असर समेत पलामू की अन्य खबरें भी।

पश्चिमी विक्षोभ ने दी दस्तक, पलामू में फिर लौटी ठंड-24 घंटे रहेगा असर  

डालटनगंज, 8 फरवरी: वेस्टर्न डिस्टरबेंस और चक्रवाती तूफान के कारण पलामू के मौसम ने अचानक से करवट ली है। शुक्रवार की सुबह से ही आसमान में बादल छा गए हैं और बारिश भी हुई। ओले पड़ने की भी संभावना व्यक्त की गयी है। इस तरह की स्थिति अगले 24 घंटे तक रहने की संभावना व्यक्त की गयी है।  

बादलों के छाने के बाद सुबह में हल्की बारिश हुई। साथ ही ठंडी हवा भी चल रही है। बादल और हवा ने एक बार फिर से ठंड बढ़ा दी है। मौसम विभाग की मानें तो पश्चिमी विक्षोभ की दस्तक की वजह से मौसम में अचानक बदलाव आया है। इससे कई क्षेत्रों में बारिश की भी संभावना बढ़ गई है।  

मौसम बदलने की वजह से ठंड भी बढ़ गई है। बदले मौसम से सबसे ज्यादा दिक्कत सड़कों पर देखने को मिला। मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार अगले 24 घंटे घने बादल छाए रहेंगे। कई क्षेत्रों में बारिश के साथ ओलावृष्टि और तेज हवाओं के भी चलने की संभावना है।  

मौसम विभाग की भविष्यवाणी है कि पलामू प्रमंडल के डालटनगंज, गढ़वा और लातेहार में गरज के साथ बारिश होगी और ओले भी पड़ सकते हैं। आसमान में नौ फरवरी तक बादल छाये रहेंगे। मौसम विभाग का कहना है कि वेस्टर्न डिस्टरबेंस की वजह से तापमान में भी कमी आयेगी। न्यूनतम 14 और अधिकतम 24 डिग्री सेल्सियस तक रहेगा।  

40 लीटर चुलाई शराब बरामद, एक गिरफ्तार-तीन पर प्राथमिकी 

डालटनगंज, 8 फरवरी: अवैध शराब के भंडारण, बिक्री और तस्करी रोकने के लिए पुलिस और उत्पाद विभाग की ओर से पाटन थाना क्षेत्र में संयुक्त रूप से कार्रवाई की गयी। इस दौरान जहां 170 किलो ग्राम जावा महुआ नष्ट किया गया, वहीं 40 लीटर चुलाई शराब बरामद की गयी। मौके से एक व्यक्ति को शराब बनाने के आरोप में गिरफ्तार किया गया। कुल तीन लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गयी है। 

उत्पाद अधीक्षक संजय कुमार श्रीवास्तव के निर्देश पर मोबाइल फोर्स इंचार्ज पुरूषोतम कुमार द्वारा पाटन थाना क्षेत्र के कांके कला में छापामारी की गयी। उनके साथ उत्पाद विभाग के अवर निरीक्षक अखिलेश कुमार, उत्पाद बल और सशस्त्र गृहरक्षक शामिल थे। अचानक गांव में कार्रवाई देखकर शराब तस्करों में अफरा-तफरी मच गयी। कई शराब विक्रेता मौके से फरार हो गए। 

जावा महुआ और शराब को मौके पर ही नष्ट कर दिया गया। बाद में छानबीन कर एक व्यक्ति को गिरफ्तार किया गया, जबकि कुल तीन के खिलाफ मामला दर्ज किया गया।

पांकी विधायक ने उठाया शिक्षक पात्रता परीक्षा का मामला 

डालटनगंज, 8 फरवरी : पांकी के कांग्रेस विधायक देवेन्द्र कुमा सिंह ने आज शून्यकाल के दौरान शिक्षक पात्रता परीक्षा का मामला उठाया। विधायक श्री सिंह ने कहा कि झारखंड राज्य में वर्ष 2016 के पश्चात अभी तक शिक्षक पात्रता परीक्षा का आयोजन नहीं किया जा रहा है, जबकि हजारों की संख्या में प्रतिभावान छात्र छात्राएं परीक्षा में उच्च डिग्री हासिल कर बैठे हुए हैं। विधायक द्वारा सदन के माध्यम से सरकार से अविलंब प्रति वर्ष शिक्षक पात्रता परीक्षा (टेट) आयोजित करने की मांग की गयी।


जनप्रतिनिधियों की उपेक्षा से रामगढ़ इलाका उपेक्षित: जिप उपाध्यक्ष   

डालटनगंज, 8 फरवरी: पलामू जिला परिषद के उपाध्यक्ष संजय सिंह ने जिले के आदिवासी बाहुल्य इलाके रामगढ़ के पिछड़ेपन के पीछे जनप्रतिनिधियों की उपेक्षापूर्ण रवैया को बताया है। श्री सिंह शुक्रवार को रामगढ़ प्रखंड क्षेत्र के गांवों के दौरा पर थे। दौरे के दौरान जिप उपाध्यक्ष ने जहां नजदीक से समस्याओं को देखा, वहीं केन्द्र एवं राज्य सरकार द्वारा चलायी जा रहीे योजनाओं की जानकारी ली। लोगों से वार्ता करने पर पता चला कि यहां की सबसे बड़ी समस्या सभी तरह के पेंशन व राशनकार्ड नहीं बनने का है। स्थानीय लोगों का कहना है कि राजस्व विभाग के कोई भी पदाधिकारी क्षेत्र में नहीं आते। 

श्री सिंह ने कहा कि चैनपुर के अंचलाधिकारी ही रामगढ़ के अतिरिक्त प्रभार में हैं। पहले बीडीओ द्वारा पेंशन की स्वीकृति दी जाती थी, पर जबसे अंचलाधिकारी के पास प्रभार गया है तब से किसी भी मामले का निष्पादन सही समय पर नहीं हो पा रहा है। साथ ही कुछ विद्यालय में भी शिक्षा का हाल बदतर है। गांव में सड़क, पेयजल, बिजली की बदतर स्थिति है। 

ग्रामीणों की शिकायत सुनने के बाद जिप उपाध्यक्ष ने प्रखण्ड विकास पदाधिकारी से केंद्र व राज्य सरकार के द्वारा चलायी जा रही योजनाओं के बारे में जानकारी ली। साथ ही योजनाओं को शत प्रतिशत लाभ मिले, इसे सुनिश्चित करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि जनहित में केंद्र व सूबे की सरकार कई योजनाएं संचालित कर रही है। 

एसवीडी के बच्चों को दी गयी कृमि मुक्ति की दवा 

चैनपुर 8 फरवरी: स्थानीय एसवीडी स्कूल में ‘कृमि मुक्ति दिवस’ के अवसर पर बच्चों को एल्बेंडाजोल की दवा दी गई। दवा पीने को लेकर बच्चों में भारी उत्साह देखा गया। विद्यालय निदेशक अविनाश वर्मा ने दवा पिलाने में भी सहयोग किया। मौके पर शिक्षक-शिक्षिकाओं के अलावा स्वास्थ्य विभाग के कर्मी उपस्थित थे। 

विदित हो कि जिला प्रशासन आज जिला स्तर पर ‘कृमि मुक्ति दिवस’ मनाया जा रहा है। पिछले कई दिनों से विशेषकर के जिला प्रशासन द्वारा सभी विद्यालयों में आंगनबाड़ी केंद्रों में यह दवा बच्चों को देने का निर्देश दिया गया था, जिसके लिए स्वास्थ्य विभाग के साथ निजी विद्यालय के संचालकों के साथ बैठके हुई थी। यह तय किया गया था की सभी कोटि के विद्यालय अपने अपने विद्यालय के छात्र-छात्राओं को कृमि से मुक्ति हेतु यह दवा जरूर खिलाएं।

प्राचार्य और प्रोफेसर पर प्रैक्टिकल परीक्षा में पास कराने के लिए पैसा लेने का आरोप

डालटनगंज 8 फरवरी : सतबरवा स्थित बलवंत सिंह नामधारी काॅलेज की प्राचार्या और एक प्रोफेसर पर इंटरमीडिएट प्रैक्टिकल की परीक्षा में पास कराने के बदले विद्यार्थियों से अवैध वसूली करने का संगीन आरोप लगाया गया है। इस सिलसिले में सोशल मीडिया पर एक वीडियो भी वायरल हुआ है, जिसमें आरोपियों को पैसा लेते दिखा गया है। कई विद्यार्थियों का भी आरोप है कि प्रैक्टिकल परीक्षा में पास कराने के लिए प्राचार्या ज्योति सिन्हा और प्रोफेसर सुशीला मिश्रा ने 500-500 रूपये लिये हैं।

कठोर कार्रवाई करेंगे: नामधारी

काॅलेज के सचिव इंदर सिंह नामधारी ने कहा कि शिकायत उन्हें भी प्राप्त हुई है। आरोपों की सत्यता की जांच की जा रही है। अगर यह सच पाया गया तो आरोपियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जायेगी। श्री नामधारी ने कहा कि वे शुरू से ही भ्रष्टाचार के खिलाफ रहे हैं और विद्या के मंदिर में ऐसी हरकत तो कतई बर्दाश्त नहीं की जा सकती है। 

क्या कहती हैं प्राचार्या? 

काॅलेज की प्राचार्या ज्योति सिन्हा से जब दूरभाष पर उनका पक्ष लिया गया तो उन्होंने इससे साफ इनकार किया। उन्होंने कहा कि विद्यार्थी अपना एटेंडेंस बनाने आये थे। किसी से कोई नाजायज पैसा नहीं लिया गया है। कुछ लोगांे ने उन्हें बदनाम करने की नीयत से यह कृत्य किया है।

जब लाभुकों ने खाद्य सामग्री के लिए घेरा पीडीएस दुकान तो खुली उपमुखिया की पोल 

कांडी, (गढ़वा) 8 फरवरी : प्रखण्ड अंतर्गत राजघटहुआ के लाभुकों ने तीन महीने से बकाये राशन सामग्री के लिए डीलर का घेराव किया। घेराव के दौरान क्षेत्र के उपमुखिया अजीज अंसारी की पोल खुल गयी। जब लाभुकों ने डीलर से राशन की मांग की तो डीलर पुत्र शशि कुमार ने कहा कि उपमुखिया-अजीज अंसारी ने एक महीने का राशन यह कह कर बेचवाया था कि गरदहा खेल के मैदान में घटहुआ कला के पक्ष से मैच खेलाना है। इसलिए दो महीने का ही राशन लाभुकों में वितरण किया जायेगा। 

दिसम्बर से फरवरी तक का नहीं मिला राशन 

लाभुकों ने बताया कि उन्हें दिसम्बर 2018 से फरवरी 2019 तक की राशन सामग्री नहीं दी गयी है। कई बार मांग की गयी। यहां तक की इसकी शिकायत पदाधिकारियों तक पहुंचायी गयी, लेकिन कार्रवाई की जगह उन्हें डांट फटकार मिला। लगातार ऐसी स्थिति रहने पर घेराव किया गया। ग्रामीणों ने कहा कि उपमुखिया को राशन वितरण में सहयोग करना चाहिए, लेकिन उल्टा डीलर के साथ मिलकर उनके हिस्से की राशन सामग्री बेचवा दी जा रही है।  

ग्रामीणों के घेराव का एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें साफ-साफ देख जा सकता है कि उपमुखिया-अजीज अंसारी लाभुकों के साथ शामिल होकर कैसे अपना तेवर दिखा रहे हैं। डीलर पर शीघ्र राशन वितरण करने का दबाव भी डाल रहे हैं।

जांच के बाद होगी कार्रवाई: बीडीओ 

फोन के माध्यम से जानकारी लेने पर बीडियो गुलाम समदानी ने कहा कि उन्हें इस बाबत किसी भी प्रकार की जानकारी नहीं है। अगर उपमुखिया ने ऐसा किया है तो यह पूरी तरह गलत है। इस मामले की जांच की जायेगी और गलत पाए जाने पर दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी।

घेराव में सरयू राम, वार्ड सदस्य सुरेंद्र राम, राजेन्द्र राम, संजय मेहता, भरत राम, बुचुन राम, सुदामा राम, रामजी राम, लालजी राम, सुनील राम, श्रवण राम, हीरा राम सहित दर्जनों लाभुक व ग्रामीण शामिल थे।

जेनिथ में 200 बच्चों को दी गयी कृमि मुक्ति की दवा 

डालटनगंज, 8 फरवरी : स्थानीय कन्नी राम चैक स्थित जेनिथ फ्यूचर पब्लिक स्कूल में 200 बच्चों को कृमि मुक्ति की दवा दी गयी। दवा देने के लिए स्कूल परिसर में कार्यक्रम किया गया। बच्चों को दवा दिलाने में विद्यालय के प्राचार्य अजय श्रीवास्तव ने सहयोग किया। श्री श्रीवास्तव ने सभी बच्चों को स्वास्थ्य संबंधित कई जानकारियां दी गयी।   

मौके पर सहिया शगुफ्ता अनवर, विद्यालय के वरिष्ठ शिक्षक सुदामा प्रसाद, अशोक कुमार, प्रमोद कुमार पांडे, मृदुला घोष, बंदना सिंहा, मोहित आदि उपस्थित थे।

भारत ने टी-20 में पहली बार न्यूजीलैंड को उसके घर में हराया

ऑकलैंड, 8 फरवरी (एजेंसियां): भारत ने तीन मैच की सीरीज के दूसरे टी-20 में न्यूजीलैंड को सात विकेट से हरा दिया। इसके साथ ही उसने सीरीज में 1-1 से बराबरी की। सीरीज का पहला मैच न्यूजीलैंड ने 80 रन से जीता था। भारत ने अंतरराष्ट्रीय टी-20 क्रिकेट में न्यूजीलैंड को उसके घरेलू मैदान पर पहली बार हराया है। इस मैच में न्यूजीलैंड ने टॉस जीता और बल्लेबाजी का फैसला किया। न्यूजीलैंड ने 20 ओवर में 8 विकेट पर 158 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने सात गेंदें शेष रहते मैच अपने नाम किया। उसने तीन विकेट पर 162 रन बनाए। क्रुणाल पंड्या को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

भारत की ओर से रोहित शर्मा ने सबसे ज्यादा 50 रन बनाए। उन्होंने 29 गेंद की अपनी पारी में 3 चैके और 4 छक्के लगाए। वे अंतरराष्ट्रीय टी-20 क्रिकेट के टॉप स्कोरर बने। उनके अब 2288 रन हो गए हैं। उनसे पहले यह रिकॉर्ड मार्टिन गुप्टिल के नाम था। गुप्टिल ने 76 टी-20 में 2272 रन बनाए हैं। वहीं, रोहित ने 92वें टी-20 में इस आंकड़े को पार किया।

ज्ञान सेतु फेज टू के प्रशिक्षण की हुई समीक्षा

ज्ञानसेतु के कांसेप्ट को विद्यालयों में शत-प्रतिशत उतारा जाए: डीईओ 

डालटनगंज, 8 फरवरी : पलामू जिले में ज्ञान सेतु फेज टू के प्रशिक्षण समाप्ति के उपरांत इसकी समीक्षा के लिए जिला शिक्षा पदाधिकारी सुशील कुमार की अध्यक्षता में बैठक हुई। बैठक में आर्यन गर्ग कंसलटेंट नीति आयोग, जिले के सभी 20 प्रखंडों के प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी एवं प्रखंड कार्यक्रम पदाधिकारी, सीआरपी शामिल हुए।

 प्रखंड के विद्यालयों में ज्ञानसेतु के क्रियान्वयन एवं लक्ष्य को लेकर जिले के मेदिनीनगर, चैनपुर, लेस्लीगंज, हुसैनाबाद, रामगढ़ आदि प्रखंड ने पावर प्रेजेंटेशन दिया। इस माध्यम से वर्तमान सत्र में ज्ञानसेतु द्वारा उपलब्धि एवं आने वाले सत्र के लिए अपनी प्लानिंग को प्रदर्शित किया। इसमें पलामू के सभी ब्लॉकों द्वारा अपने प्रदर्शन में बताया गया कि सत्र 2019-20 में 75 प्रतिशत बच्चे अपने कक्षा स्तर को अवश्य प्राप्त कर लेंगे। वहीं रामगढ़-चैनपुर ब्लॉक के बीपीओ क्रमशः अनु सिंह एवं अमरेंद्र नारायण द्वारा अपने प्रेजेंटेशन में अपने ब्लॉक के सभी विद्यालयों में आधार रेखीय आकलन के द्वारा समूह निर्माण कर लेने की बात कही। 

मेदिनीनगर ब्लॉक का प्रेजेंटेशन दिनेश कुमार शुक्ल, मास्टर ट्रेनर ने किया। श्री शुक्ला ने अपने प्रेजेंटेशन में बताया कि  ज्ञान सेतु के लिए टाइम टेबल एवं लेसन प्लान के द्वारा प्रखंड के सभी विद्यालयों में कक्षा संचालन की जानी है एवं बीआरसी लेवल पर इस हेतु लगातार मॉनिटरिंग करने की बात रखी। हुसैनाबाद ब्लॉक द्वारा सभी विद्यालय में ज्ञानसेतु  कार्यक्रम चलाए जाने की बात कही एवं प्रखंड के सभी बच्चों का डेटाबेस ई-विद्यावाहिनी के द्वारा अपलोड किए जाने की सूचना दी। 

नीति आयोग के कंसलटेंट आर्यन गर्ग ने कहा कि विद्यालय में बच्चों के अधिगम स्तर को सुधार के लिए आवश्यक है कि उनके अभिभावकों एवं समुदाय के अन्य सदस्यों के साथ भी सहयोगात्मक रूख अपनाकर विद्यालय में बच्चों के अधिगम स्तर को कक्षा स्तर तक पहुंचाया जा सकता है। 

डीइओ ने सभी बीईईओ, बीपीओ को संबोधित करते हुए कहा कि आगामी सत्र में ज्ञानसेतु कार्यक्रम को विद्यालयों में शत प्रतिशत क्रियान्वयन किए जाने के लिए हर सम्भव प्रयास आवश्यक है। क्योंकि इस सत्र में थोड़ी बहुत त्रुटियां विभाग ने सॉफ्ट कॉर्नर रखा, लेकिन आने वाले सत्र में ज्ञानसेतु के कांसेप्ट को विद्यालयों में शत-प्रतिशत उतारा जाए।

पलामू एपीओ अशोक कुमार रजक पलामू में ज्ञान सेतु प्राशिक्षण बेहतर सम्पन्न होने पर खुशी जाहिर की। 

समग्र शिक्षा अभियान के एएसपी जितेंद्र कुमार के द्वारा जिले का ज्ञान सेतु कार्यक्रम में उपलब्धि व चुनौतियों को प्रेजेंट किया गया। बैठक में अन्य लोगों के अलावा विनय बन्धु कश्यप, राजीव कुमार, विकास कुमार दुबे, सदर बीईईओ पांडेय प्रेम प्रकाश शर्मा, सत्येंद्र पाठक, दीपाली कुमारी, राजीव रंजन सिंह, डॉ मनोज कुमार तिवारी, नरेंद्र सिंह समेत अन्य प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी, बीपीओ एवं जिले के सभी संकुल साधन सेवी भी उपस्थित थे।

भाजपा का प्रबुद्ध जन सम्मेलन में भाग लेंगे सुधांशु त्रिवेदी  

डालटनगंज, 8 फरवरी : भारतीय जनता पार्टी के तत्वावधान में स्थानीय दीनदयाल स्मृति नगर भवन में शनिवार को प्रबुद्ध जन सम्मेलन का आयोजन पूर्वाहन 11.30 बजे से किया गया है। इस सम्मेलन में बतौर मुख्य अतिथि भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता डा. सुधांशु त्रिवेदी भाग लेंगे। जिला अध्यक्ष नरेन्द्र कुमार पांडेय ने बताया कि प्रबुद्ध वर्ग समाज व राष्ट्र की दिशा की नियामक शक्ति होती है और यह शक्ति निरपेक्ष दृष्टि से राष्ट्रीय व जनहित के परिप्रेक्ष्य में समग्र मूल्यांकन करती है। इसी उद्देश्य से इस सम्मेलन का आयोजन किया गया है।

जनता दरबार में 21 मामले आए, कार्रवाई शुरू 

डालटनगंज, 8 फरवरी: उपायुक्त के साप्ताहिक जनता दरबार में विभिन्न प्रखण्डों से 21 आवेदन प्राप्त हुए, जिसमें से कई मामलों का निष्पादन किया गया तथा सम्बंधित पदाधिकारियों को शिकायतों का अविलंब निष्पादन हेतु निदेश दिया गया।

उपायुक्त की अनुपस्थिति में उपविकास आयुक्त बिन्दू माधव सिंह ने शिकायतें सुनी। सतौवा के अरूण राम ने गलत आम सभा करके अवैध तरीके से पीडीएस दुकान लेने के संबंध में शिकायत की। उप विकास आयुक्त ने जिला आपूर्ति पदाधिकारी को जांच कर कार्रवाई करने का निर्देश दिया। पाटन के महेन्द्र राम ने शौचालय निर्माण का पैसा नहीं मिलने की शिकायत की। पी.एच.ई.डी. को अविलंब कार्रवाई कर निष्पादन करने को उप विकास आयुक्त द्वारा कहा गया। 

नौडीहा के शिवदयाल सिंह ने सरईडीह पंचायत में फर्जी निकासी के संबंध में समस्या उप विकास आयुक्त के समक्ष रखा। उन्होंने इसकी कार्रवाई कर जल्द समस्या का निदान दिलाने का भरोसा दिलाया। लेस्लीगंज के विजय राम ने स्वामित्व प्रमाण पत्र निर्गत करने के संबंध में आवेदन किया। अपर समाहर्ता को अविलंब निष्पादन करने का निदेश उप विकास आयुक्त द्वारा दिया गया। लेस्लीगंज के शिव प्रकाश राम तथा हुसैनाबाद के पंडेरिया देवी ने प्रधानमंत्री आवास योजना से संबंधित समस्या उप विकास आयुक्त के समक्ष रखी गयी। उन्होने संबंधित प्रखण्ड विकास पदाधिकारी को जांच कर कार्रवाई हेतु निष्पादन का निदेश दिया।

इसी तरह अन्य शिकायतों के आलोक में कार्रवाई का निर्देश दिया गया। 

पलामू: हिन्दू से ईसाई धर्म अपनाने वाले 120 लोगों की हुई घर वापसी  

पलामू, 8 फरवरी: लगभग नौ वर्ष से हिन्दू से ईसाई बने 28 परिवारों के 125 लोगों की घर वापसी हुई है. शुक्रवार को वनवासी कल्याण केंद्र के तत्वाधान में समारोह आयोजित कर सभी लोगों को पुनः हिन्दू धर्म स्वीकार कराया गया. कार्यक्रम में आरएसएस के जिला प्रचारक अजय जी, भाजपा के प्रदेश मंत्री मनोज कुमार सिंह, विभाकर नारायण पांडेय, महेंद्र जी, सत्येंद्र, कैलाश, संदीप उरांव, महरंग उरांव बिगू उरांव सहित काफी संख्या मंे लोग उपस्थित थे.  

किस इलाके के लोगों का हुआ था धर्म परिवर्तन   

दरअसल, गरीबी और लाचारी झेल रहे पलामू जिले के रामगढ़ प्रखंड अंतर्गत बाघी गांव के आदिवासी और भुइयां समाज के लोगों को ईसाई धर्म अपना दिया गया था. काफी दिनों तक यह मामला दबा रहा. बाद में इस बात की जानकारी वनवासी कल्याण केंद्र के सदस्यों को हुई. इस संगठन के अध्यक्ष अमलेश्वर दुबे और सचिव अश्विनी मिश्रा ने अथक प्रयास कर सभी को पुनः हिंदू धर्म में वापस लाने का अभियान शुरू किया. अदिवासी और भुइंया समाज के लोगों ने वनवासी कल्याण केंद्र के विचारों से प्रभावित होकर पुनः हिंदू धर्म अपनाने की सहमति दी. 

विधि विधान से हुई घर वापसी   

आदिवासी और भुइंया समाज के लोगों को पुनः हिंदू धर्म में वापसी कराने के लिए कार्यक्रम आयोजित किया गया. इस दौरान वनवासी कल्याण केंद्र के सदस्यों ने इसाई धर्म छोड़कर हिंदू धर्म अपनाने वाले लोगों का ना सिर्फ गर्मजोशी के साथ स्वागत किया, बल्कि उनके पैर भी धोए. विभाकर नारायण पांडेय सहित अन्य लोगों ने विधि विधान से वापसी का अनुष्ठान कराया. 

बता दंे कि वर्ष 2009 में गांव में इसाई धर्म के लोगों ने गरीबी और लाचारी का फयादा उठाते हुए आदिवासी और भुइंया समाज के लोगों से संपर्क किया. इसके बाद सभी को खाना, कपड़ा और रोजगार देने के नाम पर इसाई धर्म में परिर्वतन करा दिया गया. आदिवासी और भुइंया समाज के लोगों ने अपना धर्म छोड़कर इसाई धर्म में ही रहने लगे. उन लोगों का नियमित चर्च मंे जाना भी शुरू हो गया.

धर्म परिवर्तन रोकने के लिए पुलिस से आग्रह 

इधर, इसाई समुदाय के लोगों ने रामगढ़ थाना में आवेदन देकर इस प्रकार के कार्यक्रम पर रोक लगाने की मांग की है. हालांकि पुलिस प्रशासन की ओर से रोक लगाये जाने से संबंधित किसी तरह की जानकारी नहीं मिली है. रामगढ़ पुलिस ने बताया कि उन्हें इस तरह की कोई जानकारी नहीं मिली है. 

धर्म वापसी करने वाले में कौन-कौन लोग शामिल 

जिला मुख्यालय से करीब 25 किलोमीटर बाघी गांव में इस गांव के अलावा लरगहिया, चपलसी और उलडंडा के लोगों ने घर वापसी की. इसमें एक परिवार उरांव, तीन परिवार खरवार और 24 परिवार भुईयां जनजाति व जाति से संबंधित हैं. मूल धर्म में लौटने पर सभी लोगों को गंगा जल ग्रहण कराते हुए शुद्धिकरण कर हवन कराया गया. उसके पश्चात सभी लोगों को तिलक और भगवान शिव का लॉकेट पहनाया गया. मौके पर भारत माता की जय और सरना माता की जयकारा भी लगाया गया.  

लोकसभा चुनाव को लेकर पलामू में इंटर स्टेट कोर्डिनेशन कमिटी की बैठक

नक्सलियों-अपराधियों से निपटने के लिए बनी साझा रणनीति

पलामू 8 फरवरी: आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर आज पलामू जिला मुख्यालय डालटनगंज स्थित डीआइजी कार्यालय में इंटर स्टेट पुलिस कोर्डिनेशन कमिटी की बैठक आयोजित की गयी। बैठक में कई बिन्दुओं पर विस्तार से चर्चा की गयीं और नक्सलियों-अपराधियों से निपटने के लिए साझा रणनीति बनायी गयी।

पलामू प्रक्षेत्र के डीआईजी विपुल शुक्ला की अध्यक्षता में आयोजित इस बैठक में पलामू के प्रमंडलीय आयुक्त मनोज कुमार झा, उपायुक्त डा. शांतनु कुमार अग्रहरि, पुलिस अधीक्षक इन्द्रजीत माहथा के अलावा बिहार के गया, औरंगाबाद और रोहतास के भी अधिकारी शामिल हुए।

बैठक के दौरान सीमावर्ती इलाके में सघन गश्ती चलाने का निर्णय लिया गया। इसके अलावा सूचनाओं, वारंटों के अदान-प्रदान को तेज करने पर बल दिया गया। सीमा पर अवस्थित मतदान केन्द्रों का सत्यापन, रास्ते की स्थिति और ईवीएम की सुरक्षा को लेकर चर्चा हुई। शराब और पशु तस्करी पर भी रोक लगाने की विशेष रणनीति तैयार की गयी। 

साथ ही नक्सलियों और अपराधियों की गतिविधियों पर पैनी नजर रखने और संयुक्त रूप से कार्रवाई तेज करने की रणनीति बनायी गयी। आज की बैठक में लिये गये निर्णयों पर की गयी कार्रवाई की समीक्षा अगली बैठक में की जायेगी।