पलामू की खबरें - घूस लेते पंचायत सेवक गिरफ्तार ------। बच्चों को कृमि मुक्त बनाने का अभियान शुरू


डालटनगंज, 07 फरवरी: बच्चों को कृमि मुक्त कराने का राज्यव्यापी अभियान आज से शुरू हो गया है। इस सिलसिले में पलामू जिला मुख्यालय डालटनगंज स्थित बीसीसी मिशन गल्र्स स्कूल में आज एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का उद्घाटन जिला परिषद अध्यक्ष प्रभा देवी ने की। इस मौके पर अन्य लोगों के अलावा सिविल सर्जन डाॅ. कलानंद मिश्र, डाॅ. सीमा, डीएसडब्ल्यू कुमारी रंजना, मिशन स्कूल की प्राचार्य सुशाना लकड़ा, सिस्टर इग्नेशिया और प्राईवेट स्कूल एसोसिएशन के अध्यक्ष अविनाश वर्मा भी मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन डीपीएम प्रवीण कुमार सिंह ने किया।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिला परिषद अध्यक्ष प्रभा देवी ने कहा कि साफ सफाई का ध्यान रखकर और एल्वेंडा जोल दवा के जरिए बच्चों को कृमि से मुक्ति दिलायी जा सकती है। इस मौके पर सिविल सर्जन डाॅ. कलानंद मिश्र ने बताया कि एल्वेंडाजोल टैबलेट एक वर्ष से 19 वर्ष तक के बच्चों और युवाओं को दिया जायेगा। कल सभी स्कूलों, काॅलेजों और आंगनबाड़ी केन्द्रों में बच्चों को दवाइयां दी जायेंगी। इसके बाद अगर कोई बच्चा छूट जाता है तो उसे 15 फरवरी को दवा दी जायेगी। उन्होंने यह भी कहा कि इस दवा का कोई साईड इफेक्ट नहीं है।

इस मौके पर डाॅ. सीमा ने इस अभियान के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने बताया कि पलामू जिले में आठ लाख तीस हजार बच्चों को एल्वेंडाजोल टैबलेट खिलाने का लक्ष्य रखा गया है। सभी स्कूलों, काॅलेजों और आंगनबाड़ी केन्द्रों में दवाईयां उपलब्ध करा दी गयी हैं। कार्यक्रम को प्राईवेट स्कूल एसोसिएशन के अध्यक्ष श्री वर्मा ने भी संबोधित किया और स्वास्थ्य विभाग की इस पहल की सराहना की। 

मौके पर अन्य लोगों के अलावा अतुल कुमार, केवल सिंह, मो. रेयाजुद्दीन, जिला परिषद सदस्य लवली गुप्ता और सुखराम भी मौजूद थे।


पलामू: पशु शेड में घूस लेते पंचायत सेवक गिरफ्तार 

डालटनगंज, 7 फरवरी : भ्रष्ट अधिकारियों और कर्मचारियों पर शिकंजा कसने के उद्देश्य से एंटी करप्शन ब्यूरो की ओर से चलाए जा रहे अभियान के तहत बुधवार को एक पंचायत सेवक को गिरफ्तार किया गया। पंचायत सेवक लाभुक से दो हजार रूपये घूस ले रहा था। गिरफ्तार करने के बाद उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। 

एसीबी के पुलिस अधीक्षक ने बताया कि पलामू जिले के पिपरा प्रखंड अंतर्गत तेंदुई पंचायत के सचिव रमेश सिंह उर्फ बैरिस्टर सिंह को स्थानीय पंचायत सचिवालय से उस समय गिरफ्तार किया गया जब वह लाभुक बबलू सिंह से दो हजार रूपए ले रहा था। 

अंबा-झरना निवासी बबलू सिंह को पशु शेड का कार्यादेश मिला था। इसके लिए उसे 66,920 रूपये का भुगतान किया जाना था। किए गए कार्य से संबंधित भुगतान की राशि का डाटा इंट्री एवं संचिता आगे बढ़ाने के एवज में रमेश प्रसाद सिंह द्वारा दो हजार रूपये रिश्वत मांगी का जा रही थी। लाभुक पैसा नहीं देना चाहता था। कई दिनों तक परेशान रहने के बाद लाभुक द्वारा इसकी शिकायत एसीबी की डालटनगंज इकाई में की गयी थी। शिकायत को सही पाकर कार्रवाई की गयी।

पिपरा से अबतक चार गिरफ्तार

एसीबी की कार्रवाई में पिपरा प्रखंड से अबतक चार भ्रष्ट कर्मचारियों को गिरफ्तार किया गया है। इससे पहले हल्का कर्मचारी सुनील विश्वकर्मा और विजय चैबे, पंचायत सेवक परशुराम प्रसाद को गिरफ्तार किया गया था। लगातार हो रही कार्रवाई के बाद भी इस प्रखंड के पदाधिकारी और कर्मचारी अपनी आदतों से बाज नहीं आ रहे हैं।