428 Views

सुन्दरापाहाड़ी उत्क्रमित मध्य विद्यालय के प्रधनाध्यापक की अनोखी पहल

सुन्दरापाहाड़ी उत्क्रमित मध्य विद्यालय के प्रधनाध्यापक की अनोखी पहल

  बच्चो के पढ़ाई में रुचि  के लिए विद्यालय  के क्लास को बना दिया रेल का डब्बा।

पाकुड़ निस:- प्रखंड के नसीपुर पँचायत स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय सुन्दरापाहाड़ी जिले को आगे बढ़ाने में प्रधान शिक्षक ने अद्भुत पेंटिंग के  माध्यम से  विद्यायल के क्लासरूम को रेलगाड़ी की डब्बा और  बरांडा को स्टेशन का रूप दिया गया है। जो इन दिनों आकर्षण का केंद्र बना है। विद्यायल की यह पेंटिंग देख कर आप हैरान हो जाएंगे कि बच्चे इस  विद्यालय के रूम में कैसे पढ़ते होंगे।  जी हाँ यह विद्यालय का क्लास रूम और बरांडा है  यह कोई रेल गाड़ी नही । दिवालो पर रेल गाड़ी की तरह पेंटिंग देख  कर पाकुड़ जिले में यह चर्चा का विषय बना हुआ है।  सुन्दरापाहाड़ी का यह विद्यालय इन दिनों बच्चो  के साथ साथ अभिभावकों  के लिए  आकर्षण का केंद्र  है।  विद्यालय के  प्रधानाध्यापक ने इस पेंटिंग के माध्यम से स्कूल के बच्चों का पढ़ाई में रुचि बढ़ाने का काम किया है । विद्यालय में कुल 455 छात्र छात्राएं  नामांकित है । विद्यालय में वर्ग एक से  अष्टम की अध्यन होती है । पहले तो  इस विद्यालय में  बच्चों की संख्या भी कम थी व बच्चे पढ़ने में रुचि  नही रखते थे। अब बच्चे  अपने आप  विद्यालय आने को रुचि लेते है। और प्रति दिन  विद्यालय आते है। 

 विद्यालय के प्रधानाध्यापक  बद्री रविदास से इस रेल गाड़ी के पेंटिंग के बारे में पूछने से  बताया  की  विद्यालय को रेलगाड़ी का रूप  देकर बच्चो में पढ़ने के प्रति रुचि बढ़ाने का काम किया गया है।जिसे बच्चे  रोज विद्यालय आये। प्रधनाद्यापक श्री दास ने ये भी बताया कि जो बच्चे इस विद्यालय में नही आये थे।अब वे पेंटिंग देखकर रोज आने लगे है। प्रधनाद्यापक ने बताया कि   आंध्रप्रदेश के एक विद्यालय के इस तरह की पेंटिंग मेने मोबाइल नेट में देखे थे । जिससे प्रभवति होकर मेने इस विद्यालय को रेलगाड़ी के डिब्बे का रूप दिया।  साथ ही  बताया कि  विद्यालय में मेरे साथ कुल पांच शिक्षक कार्यरत है जो बच्चों का भविष्य सुधारने में लगे है।