448 Views

पलामू- सोमवार को देर शाम तक अजाप्टा हुसैनाबाद की आपात बैठक रा०म०वि०हुसैनाबाद परिसर में संपन्न हुई।इसकी अध्यक्षता मध्य विद्यालय नावाडीह के प्रधानाध्यापक विजय सिंह ने की।

पलामू- सोमवार को देर शाम तक अजाप्टा हुसैनाबाद  की आपात बैठक रा०म०वि०हुसैनाबाद परिसर में संपन्न हुई।इसकी अध्यक्षता  मध्य विद्यालय नावाडीह के प्रधानाध्यापक विजय सिंह ने की।

  बैठक का  एकसूत्री मुख्य उद्येश्य  रामेश्वर मेहता डीडीओ हुसैनाबाद व सुनील कुमार एच एम उर्दू मध्य विद्यालय हुसैनाबाद का अब तक निलंबनमुक्त नहीं होना है।

 वक्ताओं ने बेबाक रुप से कहा कि डीडीओ रामेश्वर सर बेशक ईमानदार व कर्तव्यनिष्ठ शिक्षक हैं।अहर्निश शिक्षकों की सेवा प्रदान की है। राज्य स्तरीय शिक्षक पुरस्कार ,प्रभात खबर द्वारा आयोजित गुरु सम्मान समारोह में भी वर्तमान एस पी महोदय द्वारा शाल ओढ़ाकार व शील्ड प्रदान कर सम्मानित किया गया है ,इसके बावजूद इन्हें बिना शो कॉज पूछे नैसर्गिक न्याय के प्रतिकूल निलंबित किया गया जो खेदजनक है। इस कार्रवाई से लोकतांत्रिक व्यवस्था तार तार हुई है। जो नीति आयोग के दिशा-निर्देश पर चल रहे ज्ञानसेतु पाठ्यक्रम के लिये अभिशाप है। क्वालिटी एजुकेशन के तहत  मान्य बिन्दुओं के प्रतिकूल है।

 द्वय एच एम निर्धारित अवधि के अंदर विभागीय जांचोपरान्त  जवाब भी प्रषित किये ,फिर भी तीन महीना बीत जाने के बाद भी निलंबन मुक्त नहीं किया गया ,विचारणीय पहलू है।

  उक्त समस्या पर त्वरित पहल हेतु दस सदस्यीय संघर्ष समिति का गठन किया गया। जिसमें संयोजक विजय सिंह एच एम, सहसंयोजक जुबैर अंसारी अजाप्टा प्रखंड़ अध्यक्ष को चुना गया।

  दीर्घसूत्रता कारवाई में तेजी लाने हेतु लोकतांत्रिक तरीकों से प्रथम फेज में इस प्रखंड़ के सभी शिक्षकों का हस्ताक्षर युक्त ज्ञापन शिष्टमंड़ल के साथ सांसद महोदय, उपायुक्त ,जिला शिक्षा पदाधिकारी व जिला शिक्षा अधीक्षक  से व्यक्तिगत मिलकर सौंपने का निर्णय लिया गया है। ताकि व्यथित शिक्षकों की मनोदशा से वेसब अवगत  हो सके।अगर विभाग इसके बावजूद अपेक्षित सकारात्मक ध्यान नहीं देती है तो, शिक्षक लोकतांत्रिक तरीकों के तहत काला बिल्ला लगाकर शैक्षिक कार्य करने ,एक दिन का सामूहिक अवकाश व अंतिम में धरना देने का निर्णय लिया गया।

 बैठक  में एच एम विजय सिंह, प्रखंड अध्यक्ष जुबैर अंसारी,सचिव निर्मल कुमार,विनोद प्रसाद,अंगद प्रसाद,मनोज सिंह,राजनंदन प्रभाकर थे।गहमागमी बैठक लगभग दो घंटे तक चली जिसमें शिक्षक राजेश कुमार गुप्ता,सुरेन्द्र प्रसाद ,रंजीत कुमार,कन्हैया ,गिरिवर राम,महेंद्र,सुदर्शन राम,उदेश्वर राम,योगेन्द्र पासवान,जितेन्द्र राम,विजय चौधरी,मनोज चौधरी,नलिनी सिंह,सउद अंसारी,सैय्यद इकबाल हुसैंन,महेन्द्र विश्वकर्मा,राम प्रवेश राम ,राजेश्वर प्र०,दीपनारायण सिंह,शंकर पासवान,राजेन्द्र चौधरी सहित दर्जनों शिक्षक उपस्थित थे।