108 Views

संस्था मौसम के तत्वावधान में होली मिलन समारोह सह हास्य कवि-सम्मेलन का हुआ सम्मेलन

संस्था मौसम के तत्वावधान में होली मिलन समारोह सह हास्य कवि-सम्मेलन का हुआ सम्मेलन

हुसैनाबाद के छत्तरपुर रोड स्थित सक्सेस पब्लिक स्कूल के प्रांगण में साहित्यिक संस्था मौसम के तत्वावधान में होली मिलन समारोह सह हास्य कवि-सम्मेलन का आयोजन किया गया, जिसकी अध्यक्षता संस्था के अध्यक्ष विनोद सागर एवं मंच-संचालन मो. नासिर ने किया। कार्यक्रम के पूर्व गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर जी के आकस्मिक निधन पर दो मिनट का मौन धारण कर शोक संवेदना व्यक्त की गई। तत्पश्चात एक-दूसरे को अबीर-गुलाल लगाकर होली की शुभकामनाएँ दी गईं। 

 हास्य कवि-सम्मेलन के दौरान विपिन बिहारी ने पुरनकी न भेटाइल तो नइकी से काम चलवली हो, हँस-खेल के होली मनवली हो के माध्यम से पुरानी प्रेमिका को भुलाने का प्रयास किया, वहीं युवा कवि विनोद सागर ने अपनी रचनाएँ होली के रंग में भंग डाला करोगे क्या, चुनाव में नेताओं के मुँह काला करोगे क्या एवं होली के रंग में भंग मिलाने लगें, चोर चौकीदार को चोर बताने लगें से सत्ता की ईंट से ईंट बजा दी। वहीं कवि शेख मुजाहिद हुसैनाबादी ने रचना चेहरा तो मिलता है पर रंग नहीं मिलता, तहज़ीब के घर ही अब ढंग नहीं मिलता, किस तरह बचाएगी इज़्ज़त को होली, अपने ही घर में भी आँगन नहीं मिलता से सबक दिल जीत लिया, वहीं कवि मनोज कुमार प्रजापति ने होली में प्रेम के महत्त्व पर प्रकाश डाला। 

कार्यक्रम का धन्यवाद-ज्ञापन युवा कवि उत्तम कुमार ने किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में दीपनारायण कुमार दीपक, कृष्णा राम, लक्ष्मी प्रसाद सिंह, रविन्द्र कुमार विश्वकर्मा, रौशन कुमार मुन्ना आदि ने अहम भूमिका अदा की।