यात्रीगण कृपया ध्यान दें 1 अप्रैल से बदल जाएगा रेलवे पीएनआर का यह नियम, जानें

यात्रीगण कृपया ध्यान दें  1 अप्रैल से बदल जाएगा रेलवे पीएनआर का यह नियम, जानें

रेलवे हर दिन अपने नियमों में नए बदलाव करता रहता है. यात्रियों की सुविधा के लिए रेलवे हर संभव प्रयास करता दिख रहा है. इसी सिलसिले में यात्रियों को भारतीय रेलवे बड़ी राहत देने वाला है. एयरलाइंस के सिस्टम की तरह रेलवे भी ऐसी यात्रा के सभी टिकटों का पीएनआर नंबर आपस में लिंक करना शुरू करेगा. इस सुविधा के बाद पहली ट्रेन के लेट होने के कारण अगली ट्रेन छूट जाने की स्थिति में यात्री को उसकी शेष यात्रा का पूरा किराया कैंसिलेशन चार्ज काटे बिना लौटाया जाएगा.

बता दें कि एयरलाइंस में कुछ ऐसा ही सिस्टम लागू है. वहां पर एक ही यात्रा के दौरान कई जगह हवाई जहाज बदले जाने की स्थिति में यदि यात्री एक ही एयरलाइंस या कुछ एयरलाइंसों के पूल के हवाई जहाज से ही आगे की यात्रा कर रहा है तो उसके सभी टिकटों पर एक ही पीएनआर नंबर दिया जाता है.

बता दें कि ये नया नियम सभी क्लास के पैसेंजर्स के लिए लागू होगा. अगर अभी एक यात्रा के लिए 2 ट्रेन टिकट बुक की जाती है तो यात्रियों के नाम पर 2 पीएनआर नंबर जेनरेट होते हैं. वहीं नए नियम के आने के बाद अब दो पीएनआर को लिंक कर दिया जाएगा.

रिफंड के लिए रेलवे की ओर से कुछ शर्तें हैं. इसमें दोनों टिकट पर पैसेंजर की डिटेल एक जैसी होनी चाहिए. इसके अलावा जिस स्टेशन पर पहली ट्रेन पहुंची है और जिस स्टेशन से दूसरी ट्रेन पकड़नी है दोनों स्टेशन एक होने चाहिए. यह नियम ऑनलाइन या फिर काउंटर से बुक किए टिकट पर भी मान्य होंगे