305 Views

अस्पताल के बेड पर डेढ़ घण्टे तक इलाज के आभाव में तड़पते रहे मरीज,हो गई मौत

         

               अस्पताल के बेड पर डेढ़ घण्टे तक इलाज के आभाव में तड़पते रहे मरीज,हो गई मौत                                                                                                                                                               ड्यूटी पर तैनात चिकित्सक डॉक्टर अरविंद कुमार पर परिजनों ने इलाज नही करने लगाया आरोप

मक़सूद आलम पाकुड                                                                                                                                                                                    .पाकुड ---समाज में डॉक्टर को भगवान का दर्जा दिया गया है,क्योंकि वही एक ऐसा शख्स है,जो किसी को मौत के मुंह में जाने से बचा सकता है। तिल-तिल मरते किसी इंसान को जिंदगी दे सकता है और खोई हुई उम्मीदों को जीता-जागता उत्साह दे सकता है। लेकिन वही चिकित्सक अगर इलाज किये बिना मरने के लिए छोड़ दे तो ऐसे चिकित्सक को आप किया कहेंगे?शनिवार को सदर अस्पताल के पुरुष वार्ड में अज्ञात ऑटो से दुर्घटना में घायल एक 58 वर्षीय वृद्ध को तड़प तड़प कर मरते हुए देखा गया लेकिन चिकित्सक ने इलाज तक नही की।परिजनों ने बताया जब वृद्ध मर चुके थे और परिजन ने चीख पुकार शुरू कर दी तब डॉक्टर इंजेक्शन देने के लिए पहुंचे।इसके बाद परिजनों ने चिकित्सक को मृत व्यक्ति का इलाज करने से रोक दिया और जमकर हंगामा किया।जानकारी के अनुसार मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के जयकीस्टो पुर निवासी इसहाक सेख (58)वर्ष अपनी साइकिल से पाकुड आ रहा था।शहर में अज्ञात ऑटो के चपेट में आ जाने से सड़क पर गिर पड़ा।इसकी सूचना कुछ लोगों ने नगर थाना को दी।नगर थाना की पुलिस ने सदर अस्पताल में लगभग दोपहर एक बजे भर्ती कराया और इसकी सूचना परिजनों को दी। परिजन आनन फानन में सदर अस्पताल पहुंचे।मृतक के पुत्र ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर अरविंद कुमार से अपने पिता को इलाज की गुहार लगा रहे थे।परिजन डेढ़ घंटे तक इधर से उधर भटकते रहे लेकिन चिकित्सक ने इलाज करना मुनासिब नही समझा।जब इसहाक सेख की मौत हो गई और परिजन की चीख पुकार सुनकर डॉक्टर आये और मृत व्यक्ति को इंजेक्शन लगाने लगे।इसपर परिजन भड़क गए और चिकित्सक से तू तू मे मे होने लगी।इसके बाद इसकी सूचना सिविल सर्जन डॉक्टर एस एन झा को दिया गया।डाक्टर झा ने परिजनों को आश्वासन दिया कि लापरवाही करने वाले चिकित्सक के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी तब जाकर परिजन शांत हुए।सीएस ने बताया कि मृतक के परिजन को लिखित रूप से आवेदन देने के लिए कहा है।जांच कर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।इधर घटना की सूचना मिलते ही जयकीस्टो पुर पंचायत के मुखिया अफजल सेख,पृथ्वीनगर पंचायत के मुखिया अफजल हुसैन,कांग्रेस नेता अब्दुल अलीम सहित दर्जनों लोग अस्पताल पहुंचकर मृतक के परिजनों को ढांढस दे रहे थे और लापरवाही बरतने वाले चिकित्सक पर कार्रवाई की मांग कर रहे थे।