163 Views

राषटीय विधिक सेवा प्राधिकरण नालसा मॉड्यूल पार्ट थ्री के तहत शनिवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के पैनल अधिवक्ताओं के लिए तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन

राषटीय विधिक सेवा प्राधिकरण नालसा मॉड्यूल पार्ट थ्री के तहत शनिवार को जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के पैनल अधिवक्ताओं के लिए तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस मौके पर पलामू के प्रधान जिला व सत्र न्यायाधीश विजय कुमार ने पैनल अधिवक्ताओं के दायित्वों का निर्वहन पूरी निष्ठा के साथ करने का आह्वान किया । वे प्रशिक्षण शिविर  के उदघाटन समारोह में बोल रहे थे।इसके पूर्व उन्होंने प्रशिक्षण शिविर का उदघाटन द्वीप प्रज्वलित कर किया।उन्होंने कहा कि पैनल अधिवक्ता का महत्व काफी बढ़ गया है। लोगों को मदद करने में इनका योगदान काफी सराहनीय है ।न्यायिक प्रक्रिया में पैनल अधिवक्ताओं का गरीब वंचित लोगों का सम्मान बचाने का बड़ा दायित्व है। उन्होंने कहा कि पैनल अधिवक्ता अपना भूमिका का निर्वहन सही तरीके से करें तो उनका समाज में अलग से पहचान मिलेगा ।उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण से आगे बढ़कर मानवीय संवेदना का  भी परिचय देना होगा।उन्होंने कहा  कि जिस उद्देश्य से अधिवक्ताओं का पैनल  बनाया गया है उस पर आपको खरा उतरने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि अधिवक्ता के पास ही  मुवक्किल सारा दुःख दर्द रखते हैं ।इसलिए अधिवक्ता उनके काफी करीबी हो जाते हैं।मौके पर अधिवक्ता संघ के महासचिव सुबोध कुमार सिन्हा ने कहा कि पैनल अधिवक्ता को क्षमता विकसित करने के उद्देश्य से समय समय पर इस तरह का प्रशिक्षण होना जरूरी है।उन्होने कहा कि पैनल अधिवक्ता कम समय मे बेहतर कार्य किया है।उन्होंने कहा कि  समाज के अंतिम ब्यक्ति को सुलभ न्याय पहुचाने में पैनल अधिवक्ता अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। बिदित हो कि   जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के 142 अधिवक्ताओं को नालसा मॉडल पार्ट थ्री के तहत प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षण के पहले दिन हिंदू विवाह अधिनियम ,महिला के संपत्ति के अधिकारों का प्रावधान, भरण पोषण प्राप्त करने के प्रावधान की विस्तृत जानकारी दी गई।इस मौके पर न  कुटुंब न्यायालय के प्रधान न्यायाधीश बी डी तिवारी, डीजे  डी के पाठक,बी के तिवारी,शत्रुंजय कुमार सिंह,आनन्द प्रकाश,संजय कुमार चौधरी,आसिफ इकबाल प्रफुल्ल कुमार,विक्रांत रंजन,सफदर अली नैयर,रोहित कुमार, राजेन्द्र प्रसाद,दीपक कुमार,अधिवक्ता मंधारी दुबे,अखिलेश्वर प्रसाद,मदन तिवारी,संजय पांडे,छाया सिंह,संतोष कुमार पांडेय, प्रकाश रंजन,सुनील मिश्रा,सचिंदर पांडेय, डीसी पांडेय, राजेन्द्र सिन्हा,वीना मिश्रा, के अलावे दर्जनो पैनल अधिवक्ता उपस्थित थे।