27 क्लोनिंग एटीएम कार्ड्स के साथ 3 साइबर अपराधी गिरफ्तार, लोगों को ऐसे लगाते थे चूना

27 क्लोनिंग एटीएम कार्ड्स के साथ 3 साइबर अपराधी गिरफ्तार, लोगों को ऐसे लगाते थे चूना

साइबर अपराधियों के एक अतंरराज्यीय गैंग का रांची पुलिस ने पर्दापाश किया. पुलिस ने गिरोह के तीन सदस्यों को 27 फर्जी एटीएम कार्ड्स के साथ गिरफ्तार किया

    झारखंड पुलिस के तमाम प्रयासों के बाद भी साइबर अपराध घटने का नाम नहीं ले रहा. आये दिन साइबर अपराधियों की गिरफ्तारी होती है, लेकिन नये तरीके इजाद कर नये अपराध को अंजाम दे दिया जाता है. साइबर अपराधियों के एक अतंरराज्यीय गैंग का रांची पुलिस ने पर्दापाश किया. पुलिस ने गिरोह के तीन सदस्यों को 27 फर्जी एटीएम कार्ड्स के साथ गिरफ्तार किया.

सिटी एसपी सुजाता वीणापाणि के मुताबिक यह गैंग एटीएम कार्ड क्लोनिंग कर लोगों के खातों से रुपये उड़ाया करता था. गिरोह के सदस्य स्पाई कैमरे की मदद से लोगों के एटीएम इस्तेमाल करने का वीडियो शूट करते थे. फिर ऐप की मदद से एटीएम कार्ड का क्लोनिंग कर लोगों को चूना लगाते थे.

पुलिस ने गिरोह के तीन सदस्यों को 27 क्लोनिंग एटीएम कार्ड्स के साथ गिरफ्तार किया. इनके पास से तीन ऐंड्रॉयड मोबाइल और एक कार भी बरामद किये गये. सिटी एसपी के मुताबिक गिरोह का सरगना समेत तीन अन्य अभी भी फरार चल रहे हैं. उनकी गिरफ्तारी के प्रयास किये जा रहे हैं.

सिटी एसपी ने लोगों से अपील की है कि वे एटीएम या दूसरे कार्ड्स के इस्तेमाल के वक्त सावधानी बरतें. अपना पिन किसी को ना बताएं. पैसे निकालते समय ये भी ध्यान रखें कि कोई आपको वाच तो नहीं कर रहा है. इसके अलावा एटीएम इस्तेमाल से पहले और बाद में कैंसिल बटन जरुर दबाएं. गौरतलब है कि रांची पुलिस साइबर अपराधियों के खिलाफ लगातार अभियान चला रही है. बीते एक हप्ते में यह दूसरा गिरोह है, जिसका पर्दाफाश किया गया है.