रांची के जमीन कारोबारी काशीनाथ साहू को गोली मारने के आरोप में पुलिस ने राजा और वरुण नामक दो अपराधियो को गिरफ्तार किया है। दोनों को अरगोड़ा थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया है। इस हमले में काशीनाथ साहू को तीन गोलियां लगी थी अभी भी काशीनाथ साहू का इलाज अस्पताल में चल रहा है।

रांची के  जमीन कारोबारी काशीनाथ साहू को गोली मारने के आरोप में पुलिस ने राजा और वरुण नामक दो अपराधियो को गिरफ्तार किया है। दोनों को अरगोड़ा थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया है। इस हमले में काशीनाथ साहू को तीन गोलियां लगी थी अभी भी काशीनाथ साहू का इलाज अस्पताल में चल रहा है। रांची के सिटी एसपी अमन कुमार ने बताया की गोलीबारी में प्रयुक्त किया गया हथियार भी पुलिस ने बरामद कर लिया गया है आरोपी के खिलाफ पुलिस को सबूत मिल गया था पर दोनों घर से फरार थे लेकिन तभी पुलिस को सूचना मिली कि दोनों आरोपी और अरगोड़ा इलाके में घूम रहे हैं। जिसके बाद पुलिस की एक टीम ने दोनों का पीछा करना शुरू किया ।इस दौरान दोनों फरार होने की कोशिश करने लगे ,लेकिन इसी बीच अरगोड़ा थाना प्रभारी रतिभान सिंह और दूसरे पुलिसकर्मियों ने उसे दोनों को दौड़ाकर पकड़ लिया सात लाख में तय हुआ था सौदा राजा ने यह भी बताया है कि काशीनाथ की हत्या के लिए सौदा सात लाख में तय हुआ था। इसके एवज में एक लाख रुपये एडवांस के तौर पर दिए गए थे। काशीनाथ की हत्या होने के बाद बल्ली साहू तीन लाख रुपये अतिरिक्त खुशी में देने वाला था। लेकिन , गोलीबारी की घटना में काशीनाथ बच गया। काशीनाथ पर गोली चलाते समय राजा, वरुण और चंदन एक बाइक पर थे। हालांकि, चंदन अब भी पुलिस गिरफ्त से बाहर है हमले की साजिश रच बली सिंगापुर चला गया था ।अशोक नगर रोड- 4 में दो फरवरी को हुए काशीनाथ पर जानलेवा हमले मामले में हत्या की योजना बनाने से एक हफ्ता पूर्व बल्ली साहू सिंगापुर चला गया था। पूरी योजना के तहत बल्ली ने काशीनाथ पर हमला कराया था। गिरफ्तार बल्ली का भतीजा राजा साहू ने पुलिस पूछताछ में इस बात का खुलासा किया है।पुलिस ने घटना में इस्तेमाल देसी पिस्टल और गोली भी बरामद किया है। गिरफ्तार राजा रांची के  पुंदाग, जबकि वरुण अरगोड़ा चौक का रहने वाला है। इस घटना में संलिप्त दूसरा सूटर चंदन अब भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। पूरा मामला जमीन से जुड़ा हुआ है बलि साहू और शशिनाथ साहू ने रांची के पुंदाग इलाके में एक जमीन की डील की थी जिसमें बलि साहू को 1करोड़ रुपए काशीनाथ साहू को देना था। पैसे मांगने पर बली लगातार इनकार करता रहा उसके बाद उसने काशीनाथ साहू को जान से मारने की साजिश ही रच डाली। पुलिस फरार शूटर और बलि साहू के गिरफ्तारी के लिए प्रयास कर रही है.