रांची : राज्यसभा चुनाव को लेकर विपक्ष में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है़

रांची : राज्यसभा चुनाव को लेकर  विपक्ष में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है़  ऐसे में कभी भी विपक्ष की गोलबंदी बिखर सकती है़  गठबंधन में कांग्रेस तेज भाग रही है़  विपक्षी खेमे में समन्वय का अभाव दिख रहा है़  


 


राज्यसभा चुनाव में झाविमो दूर-दूर है़  प्रत्याशी चयन से लेकर नामांकन तक कांग्रेस ने झाविमो से दूरी बनाये रखी है.  लिहाजा, झाविमो खेमे में नाराजगी बतायी जा रही है़  कांग्रेस प्रत्याशी धीरज साहू के नामांकन में झाविमो विधायक प्रदीप यादव और प्रकाश राम नहीं पहुंचे़  पार्टी अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी ने नामांकन को लेकर बहुत रुचि नहीं दिखायी़ पार्टी की ओर से विधायकों को खास संदेश नहीं था़  हालांकि सूचना के मुताबिक नामांकन के दिन पार्टी प्रभारी आरपीएन सिंह और प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय कुमार ने झाविमो विधायक दल के नेता श्री यादव से बातचीत भी थी़  लेकिन श्री यादव ने आने में असमर्थता जतायी़  कांग्रेस ने प्रत्याशी चयन को लेकर भी झाविमो से किसी तरह की बात नहीं की़  ऐसे झाविमो इस पक्ष में था कि किसी स्थानीय और दमदार उम्मीदवार को ही प्रत्याशी बनाया जाये़  


 


इधर-उधर हुए, ताे पलट सकता है पासा : जानकारों की मानें, तो विपक्ष की स्थिति आर या पार वाली है़   कारण है कि विपक्ष के पास बहुत सरप्लस वोट नहीं है़ं  दो-चार वोट इधर उधर हुए, तो पासा पलट सकता है़  कांग्रेस प्रत्याशी धीरज साहू के लिए रास्ता मुश्किल हो सकता है़  धीरज साहू को 27 से कम वोट मिले, तो फिर मुश्किल बढ़ेगी़  ऐसे हालात में झाविमो के दो वोट पर भी नजर होगी़


 प्रभात खबर