59 Views

बच्चा चोरी की अफवाह में एक साधु चढ़ा भीड़ के हत्थे


सामाजिक कार्यकर्ताओं और पुलिस की पहल से बची साधु की जान 

लातेहार :  बच्चा चोरी के अपवाह में चंदवा में एक साधु उग्र भीड़ के हत्थे चढ़ गया और भीड़ ने उसकी पिटाई कर दी। मामला थाना क्षेत्र के नेवाड़ी गांव का है। जानकारी के अनुसार भिक्षाटन करते एक साधु गांव पहुंचा। साधु को देखते कुछ असामाजिक तत्वों ने बच्चा चोर-बच्चा चोर कह कर चिल्लाना शुरू कर दिया। बस क्या था। भीड़ उस साधु पर टूट पड़ी और साधु को बंधक बनाकर पीटना शुरू कर दिया। गनीमत यह रही कि समय रहते लोगों ने इसकी सूचना सामाजिक कार्यकर्ताओं और प्रशासन को दे दी। शंकर, राहुल समेत अन्य लोगों ने सार्थक पहल करते संबंधित सूचना पुलिस को दी और पिटते साधु को भीड़ से छुड़ाया। इस बीच वहां पहुंची पुलिस साधु को लेकर गांव से निकली। पिटाई से आहत साधु ने बताया कि वह भिक्षु है। जो इलाहाबाद से आया था। सामाजिक लोगों ने उक्त साधु को पैसा भी दिया ताकि वो अपने गंतव्य स्थान को चले जा सकें। इधर बच्चा चोरी की अफवाह से ग्रामीण क्षेत्रों के परिजनों में डर समाया हुआ है। कुछ लोग तो अपने बच्चों को स्कूल भेजने को लेकर सशंकित हो रहे हैं। बच्चा चोरी की अफवाह में पिटे जा रहे साधु व भिखारी: बच्चा चोरी की अफवाह में भिखारी एवं मानसिक रूप से विक्षिप्त पिटे जा रहे हैं। ऐसे लोग आसानी से असामाजिक लोगों का निशाना बनते हैं। थाना क्षेत्र के नेवाडी (चेटर) गांव में जो व्यक्ति ग्रामीणों के हत्थे चढ़ा वह भी एक साधु था जो भिक्षा के लिए गांव पहुंचा था।कहते हैं पुलिस निरीक्षक: पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी मोहन पांडेय ने कहा कि जिला प्रशासन के निर्देश पर थाना क्षेत्र में जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। बावजूद इसके यदि किसी प्रकार सूचना या घटना सामने आती है तो तुरंत इसकी सूचना पुलिस को दें। किसी भी कीमत पर कानून अपने हाथ में ना लें। बावजूद यदि कोई ऐसा करता है तो ऐसे असामाजिक तत्वों को चिन्हित कर उनपर कारवाई की जाएगी। उन्हें जेल भेजा जाएगा।