आपसी भाईचारा के रूप में शांतिपूर्ण मनाएं रामनवमीः उपायुक्त व एसपी

रामनवमी के दौरान सुरक्षा व्यवस्था को लेकर जिला प्रशासन व पुलिस प्रबंधन ने कि संयुक्त बैठक


 

 

संतोष वर्मा। रामनवमी को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था को लेकर शुक्रवार को उपायुक्त अरवा राजकमल व पुलिस कप्तान मयुर पटेल कन्हैया लाल के संयुक्त तत्वाधान में जिला प्रशासन व पुलिस प्रबंधन कि साझा बैठक समाहरणालय सभागार में हुई.बैठक में सदर सह जगन्नाथपुर अनुमंडलाधिकारी आर रोनिटा के साथ साथ जिला प्रशासन व पुलिस पदाधिकारी मौजूद थे. बैठक में जहां उपायुक्त अरवा राजकमल व पुलिस कप्तान मयूर पटेल कन्हैयालाल द्वारा जिलेवासियों से शहोद्रपूर्ण वातावरण के साथ शांतीपूर्ण रूप से रामनवमी पर्व को मनाने का अह्वान किया गया. दूसरी ओर सुरक्षा व्यवस्था को लेकर कहा गया कि इसबार रामनवमी के दौरान निकलने वाली अखाड़ा को लेकर जिले कि सुरक्षा व्यवस्था ड्रोन कैमरा के निगरानी में होगी.बताया गया जिले के सदर अनुमंडल, जगन्नाथपुर अनुमंडल व चक्रधरपुर अनुमंडल में रामनवमी को लेकर विशेष सुरक्षा व्यवस्था रहेगी.सुरक्षा को लेकर प्रयाप्त जवान उपलब्ध है और विशेष सुरक्षा बल भी बाहर से मंगाया गया है.वहीं कहा गया सुरक्षा के दौरान सभी क्षेत्रों में सुरक्षा बल गस्ती लगाते रहेगें.कहा गया जिले के सभी क्षेत्रों में रामनवमी के अवसर पर निकलने वाली सभी अखाड़ा कमेटी में एक एक एएसआई स्तर के पदाधिकारियों कि नियुक्त किये जायेगें और इन पदाधिकारियों की सुरक्षा में ही जूलूश निकाली जायेगी.रामनवमी के दौरान नगर निकाय चुनाव में चुनाव लड़ने के लिए उतरे प्रत्याशियों पर भी नजर रहेगी प्रत्याशी यदी इस दौरान चुनाव प्रचार करते पकड़े गये तो अचारसंहिता के दायरे में आयेगें और वैसे प्रत्याशियों के बिरूद्व कार्रवाई भी होगी. रामनवमी के दौरान जहां सुरक्षा व्यवस्था पर पुलिस पैनी नजर रखेगें वही आखाड़ा कमेटी में या जुलुश के दौरान डीजे पर किसी तरह की असलील या फिर किसी भी समुदाय के भावनाओं पर ठेस पहूंचाने वाले गाना बजाना सख्त मनाही है.यदी डीजे बजाने के क्रम में किसी भी तरह के ठेस पहुंचाने वाले गाने बजाते पकड़ा गया तो डीजे मालिक के बिरूद्व सिधे कार्रवाई होगी और जेल भी जायेगें.साथ ही शोशल मिडिया पर भी रामनवमी को लेकर कहा गया कि किसी भी ग्रुप में रामनवमी को लेकर कोई भी सदस्य किसी तरह कोई आपतीजनक बातें पोस्ट ना करें. सभी शोशल मिडिया ग्रुप पर भी रहेगी पुलिस की निगाह. साथ ही झुठी अफवाह फैलाने वाले लोगों पर रहेगी नजर.