टाटा स्टील नोआमुंडी में भव्य आदिवासी संगीत संध्या का आयोजन करेगी



संतोष वर्मा। नोआमुंडी, अपने संचालन क्षेत्रों में आदिवासी संस्कृति को बढ़ावा देने पर टाटा स्टील विशेष ध्यान देती है। नोआमुंडी में टाटा ने आदिवासी खाद्य परंपरा से जुड़ा कार्यक्रम ‘प्रजातीय खाद्योत्सव’, जनजातीय कला को बढ़ावा देने वाला कार्यक्रम ‘जैवकला विविधता’ और ‘जुईम सॉम’ आदि का आयोजन करती है। आदिवासी संगीत सम्मेलन ’सारजोम बा’ समुदाय के लोगों के साथ जश्न की इसी कड़ी का एक हिस्सा है, जिसे टाटा स्टील मनाने जा रही है। आदिवासी हो समाज महासभा, चाईबासा और आदिवासी एसोसिएशन, नोआमुंडी के साथ इस कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा। यह नोआमुंडी स्पोर्ट्स कॉम्प्लेक्स में 28 मार्च को शाम 5 बजे से होगा। 

कोल्हान क्षेत्र के लगभग 400 आदिवासी संगीतकार एक मंच पर मधुर आदिवासी संगीत की धुन छेड़ेंगे। यह विविध वाद्ययंत्रों के साथ सुरों का अनूठा संगम होगा। देखने को मिलेगा। 

समुदाय के साथ महत्वपूर्ण दिनों का जश्न मनाने से लेकर आदिवासी मुद्दों पर डॉक्यूमेंट्री फिल्मों के माध्यम से युवओं के साथ जुड़ाव का मुख्य पहलू एक ऐसा मंच प्रदान करना है, जहां जनजातीय कला, संस्कृति और मौखिक इतिहास का आदान-प्रदान हो सके। वर्तमान में 350 से अधिक आदिवासी संगीतकार 3 दिवसीय कार्यशाला में हिस्सा ले रहे हैं, जो न केवल विभिन्न संगीतकारों के बीच सह-शिक्षा के लिए मंच प्रदान करेगा, बल्कि आने वाले दिनों में उनके बड़े भविष्य के प्रयासों के लिए एक आधार बनेगा।