शिक्षकों ने काला बिल्ला लगा किया शैक्षणिक कार्य , सरकार की गलत नीतियों से नहीं मिल रहा है अनुदान

             

फोटो कैप्शन- एसबीएस कॉलेज जपला में काला बिल्ला लगाकर मंत्रणा करते शिक्षक।

पलामू- झारखंड राज्य वित रहित शिक्षा संयुक्त संघर्ष मोर्चा के आह्वान पर

मंगलवार को शिक्षक काला बिल्ला लगाकर शैक्षणिक कार्य में शामिल हुए। एसबीएस कालेज जपला के सभाकक्ष में मोर्चा के प्रदेश महासचिव प्रो. अरविन्द कुमार सिंह ने

अनुमंडल के सभी वित्त रहित शिक्षकों के साथ बैठक में कहा कि बिगत ढाई दशक से इंटर कॉलेजों, 

प्लस टू हाईस्कूल, संस्कृत व मदरसों में कार्यरत शिक्षक बगैर वेतन के काम

करते रहे हैं। झारखंड सरकार के उदासीन रवैये व स्कूली शिक्षा एवं

साक्षरता विभाग की गलत नीति की वजह से शिक्षक प्रदेश में आंदोलनरत हैं। सरकार ने माह सितंबर 2017 में 88 करोड़ रुपये का अनुदान पास किया। जिसमें सिर्फ 43 करोड़ भेजे गये अनुदान गलत नीति

की वजह से कालेजों तक नहीं पहुंच सके। जिस कारण उक्त राशि भी लैप्स हो गया। मोर्चा ने सरकार

से अनुदान राशि पूर्ववत व्यवस्था के तहत अविलंब भेजने, उच्चस्तरीय

कमिटी की रिपोर्ट के आधार पर शिक्षण संस्थानों को अधिग्रहण करने व घाटा

अनुदान देने की मांग की है। बैठक में प्रो. संजय कुमार सिंह, प्रो.सचिदानंद तिवारी,

प्रो. महेन्द्र कुमार सिंह, प्रो .उषा सिंह, प्रो .धनंजय कुमार सिंह,प्रो दिलीप कुमार सिंह,

प्रो. अरुण कुमार सिंह, प्रो. अजय सिंह ,प्रो. कामता सिंह ,प्रो. नागेन्द्र सिंह के अलावे कई अन्य

शिक्षक व कर्मी शामिल थे।

-