जगन्नाथपुर प्रखंड मुख्यालय के करंजिया व छोटामहुलडिहा पंचायत के पांच गांवों की पेयजल समस्याओं का हुआ निदान


विधायक गीता कोड़ा ने की पांच डीपबोरिंग का उद्वघाटन, पांच हजार ग्रामीणों को मिलेगी लाभ


संतोष वर्मा। जगन्नाथपुर अनुमंडल के प्रखंड मुख्यालय के करंजिया पंचायत के पुर्णिया, सोनापोसी व कुन्दुरसाई गांव तथा छोटामहुलडिया पंचायत के निश्चिंतपुर तथा पोखरिया गांव के ग्रामीणों की वर्षो पुरानी पेयजलापुर्ति के समस्याओं का निदान बुधवार को क्षेत्रिय विधायक गीता कोड़ा के द्वारा डीप बोरिंग का उद्वघाटन कर किया गया. श्रीमती कोड़ा के द्वारा बुधवार को कंरजिया पंचायत के कुन्दुरसाई, पुर्णिया, सोनापोसी व छोटामहुलडिया पंचायत के निश्चिंतपुर तथा पोखरिया गांव में अपने निधि से बनाये गयें डीप बोरिंग का उद्वघाटन किया गया.ज्ञांत हो कि करंजिया पंचायत के ग्रामीणों ने पेयजलापूर्ति की समस्या को श्रीमती कोड़ा के समक्क्ष कई साल से रख रहे थे.ग्रामीणों कि समस्याओं को देखते हुए इस भीषण गर्मी में क्षेत्र के लोगों को पानी की समस्या का सामना ना करना पड़े इसी संकल्प के साथ डीप बोरिंग दिया गया.बाद में तीनों गांव में ग्रामीणो के साथ श्रीमती कोड़ा द्वारा आमसभा कर समस्याओं को सुनी और उन समस्याओं का निदान कराने का आश्वासन भी दिया गया. बाद में छोटामहुलडिया पंचायत के निश्चिंतपुर व पोखरिया गांव में भी डीपबोरिंग का उद्वघाटन नारियल फोड़ कर किया और पानी को चालु कर ग्रामीणों कि सुविधा के नाम सौंप दी.साथ ही कहा गया की पानी की समस्या से जूझ रहे ग्रामीणों की समस्याओं को हल करने की दिषा में  एक अहम कदम बढाया है. बोरिंग करवाकर सभी जगहों पर एक एक 3000 लीटर का आॅवर हैंड टेंक बनवाया गया. साथ ही आॅवर हैड टेंक के चारों तरफ नहाने व कपडा धोने के चबूतरे भी बनवाये गये।   

इस अवसर पर श्रीमती कोड़ा द्वारा रहीम की एक कविता का उल्लेख करते हुए उन्होंने कहा कि


"रहिमन पानी राखिये, बिन पानी सब सुन

बिन पानी ना उबरे, मोती मानुस चुन"

 जल ही जीवन है और बिन पानी सब सुना है।

इस अवसर पर ग्रामीणें को सम्बोधित करते हुए कहा कि हमारी कोषिष लगातार इस क्षेत्र में जन-जन तक पहुंचाने की है.श्रीमती कोड़ा ने कही की प्रयास है सामुदायिक कार्यो में लगातार जारी रहेगी व अपने सामाजिक कार्यों से पीछे नही हटुंगा. मौके पर मुखिया मंजु हेस्सा, बसंत गोप, लक्षमण गोप, बीरबल हेस्सा, मोती देवी, आगंनबाड़ी सेविका जयमती देवी, बहादुर हेस्सा, जेमा कुमारी पंचायत समिति सदस्य, बैशणु गोप, नीरंजन पान, विश्वनाथ गोप, मोहन बोबोंगा, कैलाश पान, प्रकाश, जुलियम हेंब्रम, मंगल हेस्सा, माताविन प्रधान, हाबिल गोप, शैलेंद्र हेस्सा, अमोद साव, अफताब आलम, चंचल यादव, नदीम, सुमित महापात्रो आदि उपस्थित थे.