हुसैनाबाद के सक्सेस पब्लिक स्कूल में हुआ कवि-सम्मेलन का आयोजन

नई चाहत नई अभिलाषा, मिलकर लिखेंगे नए साल की नई परिभाषा : सागर

                                                                कवि -विनोद सागर                                      

 हुसैनाबाद :- पुराने साल की विदाई एवं नए साल के आगमन के अवसर पर हुसैनाबाद के छतरपुर रोड स्थित सक्सेस पब्लिक स्कूल के प्रांगण में साहित्यिक संस्था मौसम के तत्वावधान में कवि सम्मेलन सह परिचर्चा का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता संस्था के अध्यक्ष विनोद सागर ने की, वहीं मंच संचालन संस्था के सचिव मनोज कुमार प्रजापति ने किया।   मौके पर डॉ. नादिर ने कहा कि कवि सम्मेलन के आयोजन से मनोरंजन के साथ-साथ समाज को सकारात्मक दिशा मिलती है, वहीं मौके पर संस्था के अध्यक्ष सह युवा कवि विनोद सागर ने नई चाहत नई अभिलाषा, मिलकर लिखेंगे नए साल की नई परिभाषा एवं ठंड से ठिठुर रहा अपना शहर, नेताजी है हनीमून को गयें बाहर, सत्ता पर काबिज होते ऐसे लोग, जो चुराये टोटी और कंप्यूटर से राजनीति पर कुठाराघात किया। वरिष्ठ कथाकार बिपिन बिहारी ने अपनी कविता अब भी गँवार बैठे हैं, लगता है बेशुमार बैठे हैं, उन्हें दिखाओ जरा आईना तो, जरूरत से ज्यादा ही होशियार बैठे हैं से दर्शकों को सच का आईना दिखाया, वहीं कवि शेख मुजाहिद हुसैनाबादी ने अपनी कविता मौसम की बेईमानियाँ नजर आती हैं, उन चंद लम्हों की शाखों पर जो मुखालिफ हवाओं के संग संग इंसानी जज्बातों को अपनी शीतलहरी से थरथराकर, डराकर नहीं निकलने देती, घरों से बाहर से आज की व्यवस्था पर चोट की। कार्यक्रम का धन्यवाद-ज्ञापन विद्यालय के निदेशक मो. नासिर ने किया, वहीं कार्यक्रम को सफल बनाने में नदीम, पवन सिंह, अजय प्रसाद गुप्ता, शिफ्ते मिर्जा, लक्ष्मी सिंह, अशोक सोनी, अमृत कांस्यकार आदि ने सक्रिय भूमिका अदा की।