खूँटी//बाल संरक्षण पदाधिकारी ने स्पॉन्सरशिप योजना पर दिए कई निर्देश

स्पॉन्सरशिप एंड फोस्टर केअर योजना के तहत 40 बच्चों को दी जानेवाली आर्थिक मदद के लिए हुआ लक्ष्य पूरा - अल्ताफ 

खूँटी(14जन.) : आज जिला बाल संरक्षण ईकाई के कार्यालय में जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी अल्ताफ खान की अध्यक्षता में स्पॉन्सरशिप एंड फोस्टर केअर अप्रूवल कमिटी की बैठक की गई ।

     संरक्षण पदाधिकारी गैर संस्थागत देखरेख शिवाजी प्रसाद ने बताया कि द्वितीय चरण में जोड़े गए 27 बच्चों को स्पॉन्सरशिप के तहत दिए जाने वाले आर्थिक मदद प्रतिमाह दो हजार रुपये की द्वितीय क़िस्त दिया जाना है । तथा चार बच्चों को स्पॉन्सरशिप योजना से जोड़ने के लिए आवेदन सहित आवश्यक कागजात प्रस्तुत किया गया ।

 जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी ने दिए कल निर्देश 

     इस पर जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी सह अध्यक्ष स्पॉन्सरशिप एंड फॉस्टर् केअर अप्रूवल कमिटी के अल्ताफ खान ने शिवाजी प्रसाद को उक्त 27 बच्चों को द्वितीय  क़िस्त दिए जाने की  अग्रतर कार्रवाई सात दिनों के अंदर करने और चार बच्चों को स्पॉन्सरशिप योजना से जोड़ने के लिए नियमानुसार आवश्यक दस्तावेज सहित अंतिम आदेश के लिए बाल कल्याण समिति के समक्ष जमा करने का निर्देश दिया। तथा संरक्षण पदाधिकारी शमिमुद्दीन अन्सारी को निर्देश दिया गया कि वैसे बच्चे जो काफ़ी समय से बाल गृह में अंतावासित हैं, उनकी सूची बाल कल्याण समिति को प्रस्तुत करें। ऐसे बच्चों को फोस्टर केअर योजना से जोड़ा जायेगा। फोस्टर केअर योजना का प्रचार प्रसार के लिए प्रेस विज्ञप्ति निकालने का निर्णय लिया गया। इस अनुरूप बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष बिरेश्वर बिंदिया ने स्पॉन्सरशिप एंड फॉस्टर् केअर योजना को सफल बनाने के लिए  स्पॉन्सरशिप योजना से जोड़े गए सभी बच्चों का अनुवर्तन प्रतिवेदन प्रत्येक माह ससमय जमा करना सुनिश्चित करें।स्पॉन्सरशिप योजना से जोड़े गए बच्चों का MIS बनाने पर  चर्चा की गई ।

       उल्लेखनीय है कि उपायुक्त महोदय के निर्देशानुसार जिले में स्पॉन्सरशिप एंड फोस्टर केअर योजना के तहत 40 बच्चों को दी जानेवाली आर्थिक मदद का लक्ष्य पूरा कर लिया गया है। राज्य भर में खूँटी जिला लक्ष्य को हासिल करनेवाला पहला जिला बन गया है।

       संरक्षण पदाधिकारी शमिमुद्दीन अंसारी ने धन्यवाद ज्ञापन किया। बैठक में बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष बिरेश्वर बिंदिया,सिनी की निपा बासु ,शिल्पा जायसवाल, अर्चना कुमारी, एमिल, जिला बाल संरक्षण इकाई के प्रेमवती उपस्थित थे।