जिले में 30 जनवरी से 13 फरवरी तक चलेगा स्पर्श कुष्ठ जागरूकता अभियान

 सभी सहभागिता से ही कुष्ठ रोग मुक्त होगा पलामू :डीसी

 कुष्ठ रोग से पीड़ित मरीजों को घर-घर जाकर दवा देना सुनिश्चित करें: डीसी

उपायुक्त-सह -जिला दंडाधिकारी डॉ शांतनु कुमार अग्रहरि की अध्यक्षता में सोमवार को स्पर्श कार्यक्रम टास्क फोर्स  की बैठक कलेक्ट्रेट के ब्लॉक ए के सभाकक्ष में संपन्न हुई। बैठक में उपयुक्त ने कुष्ठ रोग से संबंधित मरीजों की जानकारी ली।  वहीं कुष्ठ रोग से पीड़ित मरीजों के लिए अलग से वार्ड बनाकर उनके इलाज हेतु सिविल सर्जन से विचार विमर्श किया।इसके अलावा उन्होंने जिले में चिन्हित कुष्ठ रोग पीड़ितों को संबंधित  सहिया से घर-घर जाकर दवा खिलाए जाने की बात कही। इसके लिए उन्होंने सी एस को निर्देशित किया।उन्होंने  जिले में लोगो को कुष्ठ रोग मुक्त बनाने के लिए 30 जनवरी से 13 फ़रवरी तक स्पर्श कुष्ठ जागरूकता अभियान व्यापक रूप से चलाने की बात कही। इस अभियान को सफल बनाने हेतु उन्होंने संबंधित विभागों के अधिकारियों को कई दिशा निर्देश दिए।उन्होंने कहा कि यह  अभियान राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को समर्पित अभियान है।

 लोगों को दी जाएगी जानकारी 

जिला कुष्ठ निवारण पदाधिकारी डॉ. एम पी सिंह ने बताया कि सुन्न दाग धब्बों का ज्ञान ही कुष्ठ रोग की पहचान है। इस अभियान में कुष्ठ रोग के प्रति लोगों में जागरूकता बढ़ाने के लिए दीवार लेखन, नुक्कड़ नाटक, क्विज प्रतियोगिता, जनसंदेश, पम्पलेट्स इत्यादि के द्वारा लोगों को जागरूक किया जाएगा। 
डॉ. सिंह ने बताया कि 30 जनवरी का दिन स्पर्श डे के रूप में मनाया जाएगा, जिसमें जिले के सभी स्वास्थ्य केंद्रों में कुष्ठ जागरुकता के लिए जिला दण्डाधिकारी का संदेश पढ़ा जाएगा और सभी ग्राम सभाओं में ग्राम प्रधानों का संदेश उनके द्वारा पढ़ कर लोगों को सुनाया जाएगा। 

सभी स्कूलों में चलेगा जागरूकता अभियान

स्पर्श कुष्ठ जागरूकता अभियान के दौरान ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्र के सभी सरकारी स्कूल, में प्राचार्य द्वारा अपने संस्थानों में कुष्ठ रोग से संबन्धित आम सवाल जवाब व भ्रांतियों पर चर्चा की जाएगी। बैठक में डॉ. सिंह ने बताया कि पलामू जिले में अप्रैल 2019 से लेकर अभी तक लगभग 136 नए कुष्ठ रोगी खोजे गए है, जिनको दवा दी जा रही है। 

 बैठक में इनकी रही मौजूदगी

बैठक में सिविल सर्जन,जिला शिक्षा अधीक्षक, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, कुष्ठ रोग निवारण पदाधिकारी,डीपीएम, जिला पंचायती राज पदाधिकारी मौजूद रहे।