पलामू जिला प्रशासन के द्वारा जिला स्तरीय पंचायती राज दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया।कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में राज्य के भू-राजस्व मंत्री अमर कुमार बाऊरी उपस्थित थें।

मेदिनीनगर: 14 अप्रैल से 05 मई 2018 तक चलने वाले ग्राम स्वराज अभियान के तहत मंगलवार को पण्डित दीन दयाल उपाध्याय स्मृति नगर भवन में पलामू जिला प्रशासन के द्वारा जिला स्तरीय पंचायती राज दिवस कार्यक्रम का आयोजन किया गया।कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में राज्य के भू-राजस्व मंत्री अमर कुमार बाऊरी उपस्थित थें। पंचायती राज दिवस को सम्बोधित करते हुए उन्होंने कहा कि भारत सरकार द्वारा झारखण्ड राज्य के 252 गाँवों का चयन ग्राम स्वराज अभियान के लिए किया गया हैं। इसमें पलामू जिला से सर्वाधिक 70 गाँव चयनित हैं। इन सभी गाँवों में ग्राम स्वराज अभियान के तहत केन्द्र सरकार के 07 प्रमुख फ्लैगसिप योजनाओं का क्रियान्वयन एवं सम्बंधित गाँवों के लाभुकों को योजना का लाभ पहुचानें का प्रयास किया जा रहा हैं। केन्द्र एवं राज्य सरकार ‘‘सबका साथ सबका विकास‘‘ की अवधारणा पर कार्य कर रही हैं। प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत सुयोग्य परिवारों को एलपीजी कनेक्शन दिया जा रहा है। सौभाग्य योजना के तहत हर घर में सहज बिजली पहुचाने की व्यवस्था की गई हैं। इसी तरह उन्नत ज्योति के लिए उजाला योजना के तहत सस्ते दर पर एलईडी बल्ब उपलब्ध कराया जा रहा है। मिशन इन्द्रधनुष योजना के तहत दो वर्ष के बच्चे एवं गर्भवती महिलाओं के लिए टीकाकरण एवं प्रतिरक्षण कार्यक्रम चलाया जा रहा हैं। मंत्री जी ने अपने सम्बोधन में बताया की प्रधानमंत्री जनधन योजना, सुरक्षा बीमा योजना एवं जीवन ज्योति योजना के तहत आम लोगों को बैंकों के माध्यम से न्युन्तम प्रीमियम पर बीमा का लाभ दिया जा रहा हैं। पंचायती राज दिवस के जिला स्तरीय सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए पलामू सांसद विष्णु दयाल राम ने कहा की 14 अपै्रल को अम्बेडकर जयंती के अवसर पर सामाजिक न्याय दिवस के तहत ग्राम स्वराज अभियान की शुरूआत की गई। 18 अपै्रल को स्वच्छ भारत दिवस तथा 20 अप्रैल को उज्जवला दिवस के तहत पलामू  के सभी 70 चयनित गाँवों में स्वच्छता अभियान एवं उज्जवला योजना के तहत गाँव, पंचायत एवं प्रखण्ड स्तर पर जागरूकता अभियान चला कर शिविर के माध्यम से लाभुकों के बीच योजना से सम्बंधित लाभांश दिया गया। समारोह को सम्बोधित करते हुए छत्तरपुर विधायक राधा कृष्ण किशोर ने कहा की भारत सरकार द्वारा 119 जिलों को पिछड़ा जिला के रूप में चिन्ह्ति किया गया हैं। राष्ट्रीय स्तर पर पिछड़े जिलो की सूची में पलामू 60वें स्थान पर है। इन पिछड़े जिलो के अनुसूचित जाति, जनजाति बहुल गाँव को ग्राम स्वराज योजना के तहत विकसित करने के लिए चयनित किया गया हैं। झारखण्ड के 252 गाँवों में पलामू जिला में सर्वाधिक 70 गाँव इस अभियान की सूची में हैं। ग्राम स्वराज अभियान से पलामू जैसे पिछड़े जिला का विकास का मार्ग प्रशस्त होगा। आज पंचायत राज दिवस के अवसर पर पंचायती राज संस्थानों के प्रतिनिधियों के माध्यम से स्थानीय स्वशासन के द्वारा केन्द्र एवं राज्य सरकार के ‘‘सबका साथ सबका विकास‘‘ की अवधारणा को अंजाम दिया जा सकता हैं। इससे पुर्व उपायुक्त पलामू अमीत कुमार ने स्वागत भाषण करते हुए ग्राम स्वराज अभियान के तहत पलामू जिला के 70 चयनित गाँवों में 14 अप्रैल से 24 अप्रैल तक की योजनाओं के क्रियान्वयन की दिशा में किए गए कार्यो की जानकारी दी। भारत सरकार के अवर सचिव स्तर के अधिकारी अनुज कुमार(नोडल पदाधिकारी ग्राम स्वराज अभियान, पलामू) ने ग्राम स्वराज अभियान की आवश्यकता उपयोगिता एवं परिकल्पना पर विस्तार से प्रकाश डाला। जिला स्तरीय पंचायती राज समारोह को जिला परिषद अध्यक्ष प्रभा देवी, जिला बीस सूत्री कार्यक्रम के उपाध्यक्ष बिपिन बिहारी सिंह, पांकी (पूर्वी) के जिला परिषद सदस्य लवली गुप्ता, हुसैनाबाद के जिला परिषद सदस्य बिनोद सिंह तथा भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष नरेन्द्र पाण्डेय ने भी सम्बोधित किया। कार्यक्रम का संचालन जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी देवेन्द्र नाथ भादुड़ी तथा आकाशवाणी की उद्घोषिका शर्मिष्ठा द्वारा संयुक्त रूप से किया गया। धन्यवाद ज्ञापन उप विकास आयुक्त बिन्दु माधव सिंह द्वारा किया गया। इससे पूर्व अतिथियों का पुष्पगुच्छ देकर स्वागत किया गया तथा राम-श्याम ग्रुप के सौजन्य से संत मरियम विद्यालय की छात्राओं द्वारा स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया। अतिथियों ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित कर पंचायती राज दिवस समारोह का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर प्रधानमंत्री भारत सरकार द्वारा मध्यप्रदेश, जबलपुर, मे आयोजित राष्ट्रीय पंचायत राज दिवस समारोह के सम्बोधन का सीधा प्रसारण जिला जन सम्पर्क कार्यालय के एलईडी वैन तथा एनआईसी के माध्यम से किया गया। नगर भवन परिसर में सात फ्लैगसिंप योजनाओं पर अलग-अलग स्टॉल संधारित किया गया था। योजनाओं के लाभुकों को सांकेतिक रूप में मुख्य मंच से तथा शेष लाभुको को विभागीय स्टॉल से लाभांश का वितरण किया गया। इस समारोह में ग्राम सतबरवा प्रखण्ड के ग्राम पंचायत रेवारातू के ग्राम चपरना के वार्ड सदस्य श्रीमती कर्मी देवी को स्वच्छता अभियान में उत्कृष्ट कार्य के लिए, चैनपुर प्रखण्ड के भड़गांवा पंचायत की मुखिया चान्दो देवी को नियमित ग्राम सभा आयोजन तथा पंचायत सचिवालय में प्रज्ञा केन्द्र पुस्तकालय एवं जन वितरण प्रणाली दुकान के संधारण हेतु तथा पाटन प्रखण्ड ग्राम पंचायत किशुनपुर के पंचायत समिति सदस्य श्रीमती सुमन गुप्ता को शौचालय निर्माण कार्य  में सक्रिय सहभागिता के लिए प्रशस्ती पत्र देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर समाज कल्याण विभाग द्वारा सेविका के 06, सहायिका के 04, तथा बाल संरक्षण योजना के अन्तर्गत 03 कर्मीयों को नियुक्ति पत्र दिया गया। तीन दिव्यागों क्रमशः आकाश कुमार रवि, संतोष कुमार राम, पुलीकार्स एक्का को मोपेड तथा सुषमा कुजूर को लैपटॉप दिया गया। इसके साथ ही स्वास्थ्य विभाग द्वारा नियुक्ति पत्र का वितरण किया गया। उज्जवला योजना के तहत एलपीजी चूल्हा एवं गैस सिलेँडर, उजाला योजना के तहत एलईडी बल्ब एवं इलेक्ट्रीक मीटर तथा महिला स्वयं सहायता समूह के बीच गोटरी, पीगरी के विकास के लिए समूह में चेक का वितरण किया गया।