एकरारनामा के छह माह बाद भी सड़क निर्माण कार्य नहीं हुआ शुरू, ग्रामीणों में रोष

                                             छत्तरपुर(पलामू):  पंडवा मोड़ से औरंगाबाद तक जाने वाली एनएच-98 सड़क की स्थिति काफी जर्जर हो गई है। इस महत्वपूर्ण सड़क की बदहाली को देखते हुए अक्टूबर 2017 में पथ निर्माण विभाग की एनएच प्रमंडल मेदिनीनगर द्वारा निविदा निकाल कर संवेदक के साथ एकरारनामा भी कर दिया गया। एनएच -98 की इस सड़क में छत्तरपुर भव फैक्ट्री से छत्तरपुर के  रामगढ़ तक की कुल 4 किलोमीटर सड़क का नवीनीकरण एवं चौड़ीकरण करना है,जिसकी प्राक्कलित राशि 17 करोड़ 68 लाख है। विभाग ने इस पथ की कार्य समाप्ति की तिथि 10 माह निर्धारित की थी।अब लगभग 6 महीना बीत गए परन्तु कार्य की प्रगति शून्य है। जबकि इस सड़क से प्रतिदिन हजारों छोटे-बड़े वाहन गुजरते हैं। इस कारण छत्तरपुर नगरवासियों को अपनी जिंदगी धूल व प्रदूषण के साये में गुजारनी पड़ रही है।धूलभरी इस जिंदगी की सुधि लेने की चिन्ता न तो अधिकारियों को है और न ही स्थानीय जनप्रतिनिधियों को। एनएच -98 पथ पर छत्तरपुर बाजार क्षेत्र में पड़ने वाली सड़क की हालत लगभग दो साल से खास्ताहाल है। इस कारण छत्तरपुर बाजार क्षेत्र में रहने वाले नागरिकों की स्थिति काफी दयनीय है। इस धूल भरे वातावरण से छत्तरपुर के लोग दमा एवं टीबी की बीमारियों से ग्रसित हो रहे हैं।

          संबंधित संवेदक द्वारा सड़क का निर्माण कार्य एकरारनामा तिथि के 6 माह बाद भी प्रारम्भ नहीं कराये जाने के संबंध में एनएच के कार्यपालक अभियंता सुशील कुमार ने बताया कि चार किमी. सड़क में अबतक भरावट व मरम्मति कार्य पूरा कर लेना चाहिए था। उन्होंने स्वीकार किया कि संवेदक द्वारा निर्माण कार्य में  शिथिलता बरती जा रही है। इसकी जवाबदेही तो विभाग की है। इस संबंध में कार्य की प्रगति से संबंधित रिपोर्ट पथ निर्माण विभाग को शीघ्र भेज दी जायेगी। कार्यप