अब नक्सल प्रभावित गांव के ग्रामीणों को पानी के लिए नहीं जाना पड़ेगा चुंआ और नाले के पास


अपने ही घर के पास मिलेगी स्वच्छ डीप बोरिंग से पास


विधायक गीता कोड़ा ने बिछाया डीपबोरिंग का जाल


 52 डीपबोरिंग का कार्य हुआ पुरा,ग्रामीणों की सुविधा के लिए हुआ चालु


संतोष वर्मा।  इस भीषण गर्मी के मौसम में कोई प्यासा ना रह जाये इसी उद्वेश्य के साथ जजगन्नाथपुर विधान सभा क्षेत्र की विधायक गीता कोड़ा सामान्य क्षेत्र व नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में ग्रामीणों के लिए स्वच्छ पेयजल की सुविधा उपलब्ध कराने के लिए अपने विधायक निधि से करीब एक करोड़ रूपये खर्च कर डीप बोरिंग,चापानल व कुछ कुंए का निर्माण कराया गया है.डीपबोरिंग कर पाईप लाईन के सहारे नोवामुण्डी व जगन्नाथपुर में पानी का जाल बिछा रखा है.सोमबार को नोवामुण्डी प्रखंड क्षेत्र के नक्सल प्रभावित क्षेत्र माने जाने वाले लंपासाई, बड़ापासिया,चिरूपासिया व सिलदौड़ी गांव में विधायक निधि से बनाया गया पांच डीप बोरिंग का उद्वघाटन राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा व क्षेत्र की विधायक गीता कोड़ा संयुक्त रूप से किये.वहीं गांव के ग्रामीणों नें जहां श्री कोड़ा व अपनी चर्चित विधायक गीता कोड़ा स्वागत भी अपने परंपरागत रुप में भव्य रूप से किया.ज्ञांत हो कि नोवामुण्डी प्रखंड के पोखरपी पंचायत और जेटिया तथा बड़ापासिया पंचायत के गांवों में रहने वाली महिलाओं को पानी के लिए खास कर गर्मी के दिनों में गांव से तीन तीन किमी दूर जाना पड़ता था. पानी लाने के लिए साढ़े तीने चार बजे सुबह निकलना पड़ता तब जा घंटो लाईन लगने के बाद चुंआ और नालें से पानी मिलती थी वह गंदी पानी. इस कारण गांव के ग्रामीण महामारी जैसी बिमारी के चपेट में आ जाता था. इन समस्याओं को देखते हुए गांव के ग्रामीणों को गर्मी मे खास कर प्यासा ना रह जाय और स्वच्छ पानी मिले ताकी ग्रामीण किसी बिमारी के चपेट में ना आये.इन्ही सब कारणों से गर्मी के पहले से ही गांव में डीप बोरिंग कर पाईप लाईन के सहारे पानी का जाल बिछाया गया.वहीं अब इस सुविधा का बहाल होने पर ग्रामीण महिलाओं में खुशी की लहर देखी गई.महिलाओं ने कहा कि अब नहीं जाने होगें तीन किमी दूर और नहीं पीनी होगी गंदी पानी.विधायक गीता कोड़ा के द्वारा किये गये कार्यो की प्रशंसा करते हुआ साधुवाद भी दी गई.इधर गांव के ग्रामीणों नें सभा के दौरान अपनी अपनी समस्याओं को रखा.जिस पर पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा ने कहा कि जल ही जीवन है इसे वेयर्थ का बर्बाद ना होने दें. इसका उपयोग सही रूप से करें और प्रयास करें की पानी की बर्बादी ना हो. साथ ही अन्य समस्याओं पर श्री कोड़ा ने कहा की विधायक गीता कोड़ा के माध्यम से अन्य समस्याओं का भी समाधान कराया जायेगा. स्वच्छ स्वस्थ रहने के लिए स्वच्छ जल की जरूरत पहले है इंसान को इसलिए स्वच्छ जल उपलब्ध कराया गया है.जरूरत के अनुसार सभी अन्य सुविधाएं भी पुरी करा दी जायेगी.वहीं विधायक गीता कोड़ा द्वारा कहा गया कि गांव की सबसे बड़ी समस्या स्वच्छ पेयजल था जो मैने पुरी कर दी है और भी समस्याएं जिसे पुरा करने का आश्वासन दिया गया. श्रीमती कोड़ा नें कहा पहले स्वस्थ रहे.विकास कार्य शुरू हो गया है.गांव की जो भी समस्या हो हमारा निवास आप ग्रामीणों के लिए हमेशा खुला है.वहीं लंपासाई के ग्रामीण मुण्डा द्वारा कहा गया क्षेत्र में शौचालय बना दिया लेकिन पानी की सुविधा नहीं होने के कारण शौचालय का उपयोग नहीं होता, स्कुल में शिक्षक का अभाव है, गांव की सड़क टूटी फुटी है.इस समस्या को देखते हुए श्रीमती कोड़ा द्वारा पांच सौ फिट पीसीसी सड़क का शिल्नयास भी लंपासाई गांव में की. श्रीमती कोड़ा ने कहा कि एक बार में एक गांव में छह हजार लिटर पानी की सुविधा उठा पायेगें.साथ ही कहा गया जिन वृद्व ग्रामीणों को पेंशन नहीं मिल रहा है वैसे लाभुक के लिए सरकार द्वारा सभी पंचायत भवन में विशेस शिविर लगाया गया है वहां आधार कार्ड, बैंक पास और आवेदन देकर अपना अपना नाम दर्ज करा कर पेंशन योजनाओं का लाभ उठायें.मौके पर लक्षमी लागुरी,सुमित्रा लागुरी, बीपीन लागुरी, तुरी लागुरी,सिलदौड़ी ग्रामीण मुण्डा कुशल लागुरी,अमरनाथ लागुरी,भूषण लागुरी, सागर लागुरी, सुखमोहन लागुरी, जगदीप लागुरी, बेलमती लागुरी, सुभद्रा लागुरी, जयभारत सामंता पार्टी के प्रखंड अध्यक्ष प्रदीप जोशी, अमोद साव, बसंत गोप, निरंजन समेत सैकड़ो ग्रामीण उपस्थित थे.