पलामू को टीबी मुक्त जिला बनाने को लेकर प्रशासन कटिबद्ध

  • पलामू जिले के चिन्हित टीबी एवं एचआईवी मरीजों को मिलने वाली धनराशि का शीघ्र भुगतान करने का निर्देश

Palamu #उपायुक्त-सह-जिला दंडाधिकारी डॉ0 शांतनु कुमार अग्रहरि ने पलामू जिले के चिन्हित टीबी व एचआईवी मरीजों को इलाज के दौरान मिलने वाली धनराशि का भुगतान सुनिश्चित करने का निर्देश दिया है। चिन्हित टीबी मरीजों का भुगतान 15 फरवरी तक 90 प्रतिशत और 29 फरवरी तक शत प्रतिशत करने तथा एचआईवी पीडि़त मरीजों को 15 फवरी तक भुगतान करने का निर्देश दिया। उपायुक्त 31 जनवरी 2020 को समाहरणालय स्थित कार्यालय कक्ष में जिलास्तरीय टीबी फोरम की बैठक में फोरम द्वारा अबतक किए गये कार्यो की समीक्षा कर रहे थे। 

उपायुक्त ने कहा कि टीबी जैसी बीमारी के उन्मूलन के लिए सरकार व जिला प्रशासन कटिबद्ध है। रोगियों के इलाज के साथ उनकी सेहत का भी ख्याल रखा जाए। इसके तहत इलाज की अवधि पूर्ण होने तक रोगियों को निक्षय पोषण योजना के तहत पोषण आहार के लिए मिलने वाली 500 रूपये की धनराशि को उनतक पहुंचाना अनिवार्य है। इसमें किसी तरह की कोई कोताही नहीं होनी चाहिए। मरीजों को शत प्रतिशत राशि का भुगतान सुनिश्चि करें, ताकि मरीजों को किसी प्रकार की कोई असुविधा नहीं हो सके। उपायुक्त ने जिले में टीबी से संबंधित सभी एआरटी सेंटरों को दुरूस्त करते हुए मेडिकल ऑफिसर की शीघ्र नियुक्ति करने, सभी निजी चिकित्सकों एवं फरमासिस्टों को अगले 15 दिनों के भीतर निक्षय पोर्टल पर अपना निबंधन कराने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने निबंधन कराने और टीबी उन्मूलन के लिए विशेष जागरूकता अभियान चलाने पर भी जोर दिया। उन्होंने कहा कि दृश्य एवं श्रव्य माध्यम, पोस्टर, पंपलेट, हैंडबिल आदि के माध्यम से टीबी उन्मूलन के लिए गांव-गांव एवं शैक्षणिक संस्थानों में जागरूकता फैलाई जाये। समाज के अंतिम व्यक्तियों तक जागरूकता फैलाया जाना आवश्यक है। उन्होंने आईएमए, सामाजिक संगठनों द्वारा भी सेमिनार व अन्य कार्यक्रमों का आयोजन कर टीबी उन्मूलन के लिए जागरूकता फैलाने का निर्देश दिया।  

उपायुक्त ने एचआईवी पीडि़त मरीजों को भी भुगतान करने एवं इसके लिए जगरूकता कार्यक्रम करने का निर्देश दिया। बैठक में सिविल सर्जन डॉ0 जॉन एफ केनेडी, डॉ0 एमपी सिंह, डॉ0 एसकेपी यादव, डॉ0 हरि प्रसाद, आईएमए सचिव डॉ0अनवर नेजाम आदि उपस्थित थे।