झारखंड हाई कोर्ट के जस्टिस एसएन पाठक ने की बिरसा ओड़ा उलीहातू का दौरा

माननीय न्यायाधीश डाॅ एस.एन पाठक, झारखंड उच्च न्यायालय, प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री अभय कुमार सिन्हा, उपायुक्त समेत जिले के अन्य अधिकारियों द्वारा धरतीआबा भगवान बिरसा मुंडा की जन्मस्थली उलिहातु गांव का दौरा 
बिरसा ओड़ाः में भगवान बिरसा मुंडा जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण

सुदूरवर्ती क्षेत्रों में विकास का पथ प्रशस्त करने के लिए प्रशासन का कार्य सराहनीय- माननीय न्यायाधीश 

खूंटी(2 फर.): माननीय न्यायाधीश डाॅ एस.एन पाठक, झारखंड उच्च न्यायालय, प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री अभय कुमार सिन्हा, उपायुक्त, पुलिस अधीक्षक, परियोजना निदेशक आइटीडीए समेत अन्य अधिकारियों द्वारा धरती आबा बिरसा मुंडा की जन्मस्थली अड़की प्रखंड अंतर्गत उलिहातु गांव का दौरा किया गया। 

इसमें भगवान बिरसा मुंडा की प्रतिमा पर ग्रामीण आदिवासी रीति-रिवाज से पूजा-अर्चना की गई। सबसे पहले भगवान बिरसा मुंडा के वंशज श्री सुखराम मुंडा द्वारा प्रतिमा का पूजन किया गया। साथ ही कांसे के लोटे में जल भरकर आम के पत्तों से प्रतिमा पर शुद्ध जल का छिड़काव कर प्रतिमा का शुद्धीकरण किया गया। इसके पश्चात माननीय न्यायाधीश डाॅ एस.एन पाठक, झारखंड उच्च न्यायालय, प्रधान जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री अभय कुमार सिन्हा, उपायुक्त द्वारा भगवान बिरसा मुंडा की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किए गए। इसी क्रम में बिरसा ओड़ाः में भगवान बिरसा मुंडा की आदमकद प्रतिमा पर माल्यार्पण कर उन्हें नमन किया गया।

      विकास को गति प्रदान करने की दिशा में ग्रामीणों को जागरूक बनने की आवश्यकता-- माननीय न्यायाधीश 

इस दौरान माननीय न्यायाधीश ने बिरसा मुंडा के वंशज श्री सुखराम मुंडा जी एवं अन्य ग्रामीणों से वार्तालाप करने के क्रम बताया कि हम गर्व महसूस करते हैं कि हम भगवान बिरसा मुंडा की भूमि पर आये हैं, जिन्होंने अपने अदम्य साहस एवं चमत्कारी नेतृत्व की क्षमता के लिए एक बहुमूल्य उदाहरण पेश किया है। उन्होंने कहा कि बिरसा मुंडा जी एक ऐसे स्वतंत्रता सेनानी थे, जिन्होंने आम आदमी की पहचान से उपर उठकर भगवान का संबोधन प्राप्त किया है।

साथ ही उन्होंने उलिहातु में किये गए विकास के कार्यों के लिए उपायुक्त श्री सूरज कुमार की सराहना की। *उन्होंने कहा कि विकास इन सुदूरवर्ती क्षेत्रों तक भी पहुंच चुका है। गांव में छात्रों के  शिक्षा के लिए आवासीय विद्यालय, स्वास्थ्य उपकेंद्र, ग्रामीणों को कल्याणकारी योजनाओं का लाभ मिल रहा है।  जो इस बात का प्रमाण है कि इस गांव में विकास की किरण ग्रामीण क्षेत्रों तक पहुंच चुकी है। उन्होंने ग्रामीणों का उत्साहवर्धन करने के क्रम में बताया कि विकास को गति तभी मिलेगी जब ग्रामीण जागरूक होकर सामने आएंगे। उन्होंने कहा कि यही भगवान बिरसा मुंडा को सच्ची श्रद्धांजलि होगी और धरती आबा का सपना साकार होगा। 

        इस दौरान उलिहातु स्थित आवासीय विद्यालय के बच्चों से वार्तालाप कर उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। साथ ही उन्हें मन लगाकर पढ़ाई करने और खूंटी का नाम विश्व पटल पर रौशन करने हेतु प्रोत्साहित किया। 

     मौके पर उपायुक्त श्री सूरज कुमार द्वारा बताया गया कि जिला प्रशसान द्वारा उलिहातु को एक पर्यटन स्थल के रुप में विकसित करने की दिशा में अनेक योजनाएं क्रियान्वित हैं। इन योजनाओं का लाभ आमजनों तक पहुंचाने के लिए लगातार ग्रामीणों से सम्पर्क स्थापित किये जा रहे है। उन्होंने कहा कि आगे भी प्रशासन और आमजनों के बीच बेहतर सम्बन्ध स्थापित करने के सभी प्रयासों को सार्थक रूप प्रदान किया जाएगा।