सदमा धर्म सो तो समिति की बंदगांव शाखा ने मनाया स्थापना दिवस और आयोजित की प्रार्थना सभा

सुख, शांति और खुशहाली के लिए सिङबोंगा की कृपा जरूरी : धर्मगुरु बगरय ओड़ेया

खूंँटी (03 फर.): सरना धर्म सोतोः समिति की बंदगांव प्रखण्ड के लुम्बई ग्राम में सोमवार को  शाखा की स्थापना दिवस सह सरना धर्म प्रार्थना सभा आयोजित की गई। 

       इस अवसर पर धर्मगुरु अविनाश हेम्बरोम, करमू हेम्बरोम,  सोमा हेम्बरोम और बेला मुंडरी की अगुवाई में अनुयायियों के साथ सरना स्थल में सिङबोंगा की पूजा कर सुख, शांति और खुशहाली की कामना की गयी । प्रार्थना सभा में आये अनुयायियों को संबोधित करते हुए धर्मगुरु बगरय ओड़ेया ने कहा कि जीवन में सुख, शांति और समृद्धि के लिए भगवान सिङबोंगा की कृपा जरूरी है। हमें इसके लिए सदा धर्म के रास्ते पर श्रध्दा और विश्वास के साथ सिङबोंगा की स्तुति करनी चाहिए। जिससे दुःख तथा विपत्ति दोनों स्थिति में समान रूप से मानव, जीव-जंतु एवं सारी सृष्टि की रक्षा होती हैें। इससे धरती में संतुलन बना रहता है और खुशहाली बनी रहेगी। रेलवे के मुख्य अधीक्षक सुखराम पूर्ति ने शिक्षा पर जोर देते हुए कहा कि शिक्षा ऐसी चीज है, जिससे बुराई और अच्छाई के बारे मनुष्य को जानकारी होती है। इससे मनुष्य हमेशा सही रास्ते पर आगे बढ़कर लक्ष्य तक पहुंचता है। अतः हर माता-पिता को शिक्षा पर जोर देते हुए अपने बच्चों को स्कूल भेजना चाहिए। धर्मगुरु सोमा कंडीर, सूरज सोय, जेठा पहान, मधु बारला, बुधराम मुंडा, मथुरा कंडीर, मंगल मुंडा, जगदीश बोदरा, कानुराम मुंडा, सनिका मुंडा, जगदेव मुंडा आदि ने अपने वचनों से लोगों को अनुग्रहित किया। समारोह में मुरहू, खूंटी, अड़की, बिरबांकी, बंदगांव, तोरपा, कामड़ा, तपकारा, खजूरदाग, अरहरा, कोलाद, उलिहातु आदि जगहों के अनुयायी भक्ति और श्रद्धा के साथ शामिल हुए।