सरस्वती शिशु विद्या मंदिर मरानी में मनाया गया मातृ-पितृ पूजन दिवस समारोह

सरस्वती शिशु मंदिर जैसे ही विद्यालय देते हैं  मातृ पितृृ और गुरुजनों के प्रति आदर ज्ञान - कोचे

बानो प्रखंड के रायकेरा पंचायत अंतर्गत सरस्वती शिशु विद्या मंदिर मरानी  में मातृ-पितृ पूजन दिवस समारोह का आयोजन किया गया ‌। प्रबंध समिति के के अध्यक्ष और प्रधानाचार्य जी ने अतिथियों को स्वागत करते हुए मंच तक लाए जिसमें छात्र छात्राओं ने नृत्य गान करते हुए सम्मान पूर्वक मंच में विराजमान किए। मुख्य अतिथि कोचे मुंडा और विशिष्ट अतिथि बृजमोहन मंडल को  पुष्पगुच्छ भेंट कर और शॉल देकर सम्मानित किया गया । 

    इसके पूर्व कार्यक्रम का उद्घाटन भारत माता की और सरस्वती मां के चित्र के सामने दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का उद्घाटन मुख्य अतिथि कोचे मुंडा और विशिष्ट अतिथि बृजमोहन मंडल ने संयुक्त रूप से किए।

    बतौर मुख्य अतिथि तोरपा विधायक कोचे मुंडा ने कहा कि माता-पिता ही हम सभी का पहला गुरु हैं जिसके बदौलत ही समाज में रहने लायक बनते हैं । उन्होंने कहा कि सरस्वती शिशु मंदिर जैसे ही विद्यालय मातृ पितृृ और गुरुजनों के प्रति आदर ज्ञान देते हैं। वैसे तो हम किसी भगवान को देखें तो नहीं है पर भगवान के रूप में हमें माता पिता ही मिले हैं। 

विशिष्ट अतिथि बृजमोहन मंडल ने कहा कि माता-पिता सबसे बड़े भगवान और गुरु हैं जिसके बदौलत हम इस धरती पर आए हैं ।

इस निमित्त आज माता पिता और गुरु स्वरूप वृद्धजनों के बीच कंबल का वितरण भी किया गया। 

इस अवसर पर हुरदा मंडल अध्यक्ष नंदलाल साहु, समाजसेवी जय प्रकाश भुईयां, मुख्य रूप से उपस्थित थे । साथ ही सैकड़ों माता-पिता अभिभावकों का पूजन कर आरती उतारकर के बच्चों ने नमन किया और श्रद्धा के गीत गाए।