पर्यटन बढ़ावा देने के लिए खूंटी में टूरिस्म बस बनेगा माध्यम

सुदूरवर्ती इलाकों में ग्रामीण बस सेवा से मिलेंगे रोजगार के अवसर

पर्यटन बढ़ावा देने के लिए खूंटी में टूरिस्म बस बनेगा माध्यम


खूंटी':

 सुदूरवर्ती इलाकों में जहां आवागमन के क्रम में ओवरलोडेड गाड़ियां चलाई जाती हैं। इस दिशा में उन्होंने बताया कि ग्रामीण बस सेवा शुरू की जाएगी। जिसमें विशेष केंद्रीय सहायता से सब्सिडाइज्ड ऑटो चलाए जाएंगे। उन्होंने बताया कि इक्छुक व्यक्ति ऐसे डिफिकल्ट रुट का चयन कर जिला परिवहन कार्यालय में आकर अपना नाम व आवश्यक दस्तावेज के साथ आवेदन कर सकते हैं। साथ ही उनके द्वारा बताया गया कि पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से खूंटी टूरिस्म बस प्रारंभ करने की योजना बनाई जा रही है। उन्होंने बताया कि उक्त बस नगर पंचायत द्वारा संचालित किया जाएगा। साथ ही बताया गया कि स्थल व तिथि निर्धारण कर रांची - बिरसा चौक से प्रारम्भ होते हुए जिले के विभिन्न पर्यटन स्थलों के दर्शन हेतु चलाया जाएगा। साथ ही उन्होंने बताया कि पर्यटन स्थलों को विकसित करने के क्रम में विशेषकर दो पर्यटन स्थल पेरवाघाघ व सेनिटेशन पार्क में ठहरने की व्यवस्था की जाएगी। साथ ही वैसे सैलानी जो दो या दो से अधिक दिन के लिए खूंटी दर्शन के लिए आये हों उनके लिए भी आवश्यक व्यवस्थाएं की जाएंगी। उन्होंने बताया कि साइक्लिंग व ट्रैकिंग की व्यवस्था हेतु भी विचार किया जा रहा है। ताकि खूंटी जिले मे पर्यटन का विकास व्यापक रूप से सम्भव हो।

उपायुक्त, खूंटी द्वारा कार्यपालक पदाधिकारी नगर पंचायत को व्यवस्थित पार्किंग व यातायात की सुगमता हेतु अवैध रूप से अतिक्रमण किए गए दुकानों को मुक्त करने की दिशा में आवश्यक दिशा-निर्देश दिए गए। 

साथ ही सड़कों पर लगाए जा रहे ठेलों को स्टेडियम परिसर में लगाया जाय। 

उपायुक्त द्वारा बताया गया कि व्यापक तौर पर सड़क सुरक्षा के नियमों का प्रचार- प्रसार किया जाना चाहिए ताकि हर एक व्यक्ति सड़क सुरक्षा को अपनी जिम्मेदारी समझे।

इसी क्रम में जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, खूंटी को निर्देश दिया गया कि विभिन्न सड़कों, चौक-चौराहों तथा हाट बाजारों में एलईडी वेन के माध्यम से सड़क सुरक्षा से संबंधित वीडियो क्लिप प्रदर्शित कर लोगों में यातायात नियमों के प्रति जागरूकता बढ़ाएंँ।