चाईबासा ग्राम-शक्ति अभियान के अन्तर्गत प्रधानमंत्री आवास योजना -ग्रामीण एवं प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना के लाभुको का सम्मेलन 2018 पश्चिमी सिंहभूम चाईबासा के पिल्लई हॉल मे आयोजित किया गया। इस सम्मेलन के मुख्य अतिथि स्थानीय सांसद लक्ष्मण गिलुवा, अल्प संख्यक आयोग के उपाध्यक्ष अशोक षाडंगी उपस्थित रहे।

संतोष वर्मा पश्चिमी सिंहभूम चाईबासा ग्राम-शक्ति अभियान के अन्तर्गत प्रधानमंत्री आवास योजना -ग्रामीण एवं प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना के लाभुको का सम्मेलन 2018 पश्चिमी सिंहभूम चाईबासा के पिल्लई हॉल मे आयोजित किया गया। इस सम्मेलन के मुख्य अतिथि स्थानीय सांसद लक्ष्मण गिलुवा, अल्प संख्यक आयोग के उपाध्यक्ष अशोक षाडंगी उपस्थित रहे। उद्घाटन  भाषण में उपायुक्त अरवा राजकमल ने कहा कि ग्राम स्वराज अभियान के तहत पूरे देश में 21000 इक्कीस हजार गांवों का चयन किया गया है। जबकि झारखण्ड  में कुल 252 गांवों का चयन हुआ है। जिसमें कम से कम एक गांव हर जिले से चयन हुआ। पश्चिमी सिंहभूम में दो प्रखण्डों टोन्टो के सन झींकपानी तथा चक्रधरपुर के इटिहासा  अयोध्या तथा चेलाबेड़ा, 4 गांवो को चयनित कर सरकार के विभिन्न योजनाओं में संतृप्त  करने का कार्य किया जा रहा है। मुख्यतः बैंक से जुड़े जन-धन योजना,प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना , हर घर सहज बिजली का सौभाग्य योजना, बिजली  की कम खपत एवं अच्छी रौशनी हेतु एल0ई0डी0 बल्ब उपलब्ध कराने की उजाला योजना सुयोग्य लाभुकों को घरेलू ईधन का एल0पी0जी0 गैस कनेक्सन मुफ्त उपलब्ध  कराने की उज्जवला योजना, तथा दो वर्ष से कम उम्र के सभी बच्चों का टीकाकरण एवं मातृ वन्दना एवं मातृ सुरक्षा का लाभ दिए जाने के लिए मिशन इन्द्रधनुष जैसी योजनाओं से इन चार गांवों को संतृप्त किये जाने का कार्य किया जा रहा है।उपायुक्त ने कहा कि 14 अप्रैल को जिले के सभी गांवों में ग्राम सभा कर कुपोषण की पहचान के लिए कुपोषण दिवस का आयोजन किया गया। जिले के इन गावों में आयुष्मान भारत स्वास्थय बीमा योजना से भी आच्छादित  किया जायगा। जिले में 9 मई को ओ0डी0एफ उत्सव मनाने का भी निर्णय लिया गया है। अधीक्षण  अभियंता विघुत के कहा कि चार गांव  में 1164  घर परिवार है। जिनमें 1064 घरो में विद्युतीकरण किया जा चुका है। प्रधानमंत्री आवास योजना  की प्रगति  में पश्चिमी सिंहभूम जिला राज्य में प्रथम स्थान पर है। वहीं देश में 24  स्थान पर है। देश में हमारे राज्य का स्थान छठे पर है। इस अवसर पर सांसद लक्ष्मण गिलुवा ने कहा कि केन्द्र व राज्य सरकार अन्त्योदय को आधार मानकर कार्य कर रही है। चयनित गांवो में शत-प्रतिशत गैस कनेक्सन, शत-प्रतिशत विद्युतीकरण, तथा शत प्रतिशत घरो में एल0ई0डी बल्ब उपलब्ध कराने की योजना है। सरकार सड़क, पानी तथा बिजली उपलब्ध कराने की समय सीमा निर्धारित कर काम कर रही है। दिसम्बर 2018 तक सभी घरो में बिजली,2022 तक सभी परिवार को पक्का मकान उपलब्ध कराने का लक्ष्य निर्धारित कर काम कर रही है। जिले का तकदीर एवं तस्वीर बदलने के लिए जिला प्रशासन एवं जन प्रतिनिधि मिलकर बदल सकते हैं। सांसद ने कहा  कि प्रत्येक व्यक्ति सुरक्षा बीमा योजना,तथा जीवन ज्योति बीमा योजना से जुड़कर जीवन की सुरक्षा प्राप्त करे। पश्चिमी सिंहभूम राज्य ही नहीं बल्कि पूरे देश में टॉप पर हो यह प्रयास होगा। इस अवसर पर सराहनीय कार्य करने वाले प्रखण्ड विकास पदाधिकारी मनोहरपुर,जितेन्द्र पाण्डेय,प्रखण्ड विकास पदाधिकारी गोईलकेरा, हरि उरांव,प्रखण्ड विकास पदाधिकारी आन्नदपुर, मनोज कुमार तिवारी तथा प्रखण्ड विकास पदाधिकारी  दीपक दुबे तथा विभिन्न पंचायतों के मुखिया एवं पंचायत सेवक को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। इस कार्यक्रम  में सभी प्रखण्डों के पखण्ड विकास पदाधिकारी,मुख्यि,पंचायत स्वयं सेवक, पंचायत सेवक सहित अन्य उपस्थित थे। मंच संचालन निदेशक डी0आर0डी0ए अमित कुमार ने की एवं धन्यवाद ज्ञापन उप विकास आयुक्त कमलेश्वर प्रसाद सिंह ने किया।

----------------------------____-_-_______-----__-----------------_-_-_---_-----------------------_-----________


चाईबासा । उपायुक्त पश्चिमी सिंहभूम, अरवा राजकमल ने समाहरणालय परिसर में नगर पर्षद आम निर्वाचन 2018 के नव निर्वाचित अध्यक्ष, उपाध्यक्ष सहित 21 वार्ड पार्षदो को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलायी।पश्चिमी सिंहभूम चाईबासा  नप अध्यक्ष के रूप में मिथिलेश कुमार ठाकुर को शपथ दिलायी गई, वहीं उपाध्यक्ष के पद पर डोमा मिंज को शपथ दिलायी गई। इस अवसर पर नगर पर्षद चाईबासा के वर्तमान ज्वलंत समस्या पेयजल संकट को प्राथमिकता देकर हल करने का सभी नव चयनित जन-प्रतिनिधियों ने एक स्वर में कहा। इस अवसर पर जिले के अपर उपायुक्त जयकिशोर प्रसाद,जिला शिक्षा पदाधिकारी प्रदीप चौबे, सदर अनुमंडल पदाधिकारी आर रॉनिटा, भूमि सुधार उपसमाहर्त्ता चाईबासा विनय मनीष आर लकड़ा,कार्यपालक पदाधिकारी चाईबासा नरेन्द्र नाराणय समेत अन्य लोग उपस्थित थे।