पलामू की महत्वपूर्ण खबरें एक क्लिक में देखें

परशुराम सेना ने लहलहे व मुरमुसी में चलाया सदस्याता अभियान

समाज में जागरूकता लाना सेना का उद्देश्य: पंडित घनश्याम

मेदिनीनगर: परशुराम सेना का सदस्यता अभियान जिले में लगातार चल रहा है। इसी कड़ी मेें रविवार को सेना के कार्यकारिणी सदस्यों द्वारा लहलहे एवं मुरमुसी में सदस्यता अभियान चलाया गया और सैकड़ों युवाओं को सेना की सदस्यता दिलायी गयी। इस दौरान सेना के संरक्षक मंडल के सदस्य रवि शर्मा द्वारा आज के परिदृश्य में सेना की भूमिका पर चर्चा की गयी। मार्गदर्शक मंडल के सदस्य घनश्याम तिवारी शांडिल्य ने कहा कि सेना के विस्तार का मूल उद्देश्य समाज में जागरुकता लाना है। समाज से कुरीतियों को दूर करने के लिए सभी वर्गों को मिलकर काम करने की जरूरत है। पंडित रवीन्द्रनाथ तिवारी उर्फ गांधी जी ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि परशुराम सेना समाज के सबसे नीचे तबके के लिए काम करने वाली संस्था है। इस दौरान सदस्यता लेने वाले सभी  नये सदस्यों को पंडित घनश्याम तिवारी द्वारा शपथ दिलाते हुए उनसे भगवान परशुराम के मार्ग पर चलने का आह्वान किया। मौके पर परशुराम सेना के कोर कमिटी के संरक्षक नवीन तिवारी सदस्य मुकेश तिवारी, जिला अध्यक्ष पंडित चंदन तिवारी, विकास दुबे, अंगद दुबे, आशुतोष तिवारी, आशीष तिवारी, राहुल पाठक, राहुल चैबे, ब्रजेश तिवारी, मृत्युंजय तिवारी, अमित तिवारी, विष्णु तिवारी, प्रवीण तिवारी, दिलीप तिवारी व प्रदीप तिवारी समेत बड़ी संख्या में लोग उपस्थित थे। 


अखिल भारतीय नवजवान संघ की कार्यकारिणी पुनर्गठित

म्ेदिनीनगर: अखिल भारतीय नवजवान संघ का जिला स्तरीय सम्मेलन कचहरी प्रांगण में आयोजित किया गया। इसकी अध्यक्षता पांच सदस्यीय अध्यक्ष मंडली के जीतेन्द्र कुमार सिंह, आलोक कुमार तिवारी, अजेश कुमार चैहान, अभय कुमार एवं मृत्युंजय कुमार तिवारी ने की। उद्घाटन भाकपा के पलामू जिला सचिव रूचिर कुमार तिवारी ने किया। इस अवसर पर अपने संबोधन में श्री तिवारी ने कहा कि भारत में नवजवानों की सर्वाधिक संख्या है। नवजवानों में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है। उन्होंने कहा कि केन्द्र की मोदी सरकार द्वारा प्रत्येक वर्ष दो करोड़ नवजवानों को रोजगार दिये जाने का किया गया वादा पूरा नहीं किया गया। इससे अलग नवजवानों को सार्वजनिक क्षेत्रों की नौकरियों से वंचित किया जा रहा है। रेल, सेल, प्लेन, बैंक व बीएसएनएल को बेचने का काम भाजपा सरकार कर रही है। पकौड़ा बेचने को रोजगार कहकर बेरोजगारों का मजाक उड़ाया जा रहा है। सरकार के मंत्री सरेआम भाषण में अपशब्दों का इस्तेमाल कर नवजवानों को  धार्मिक उन्माद एवं अपराध मंे धकेलने का काम कर रहे हैं। देश के प्रति स्थित विश्वविद्यालय जेएनयू एवं जामिया आदि में युवा छात्रों को वाक्य एवं अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के अधिकार से वंचित कर उनपर देशद्रोह का मुकदमा लादा जा रहा है। दलित, शोषित व वंचित वर्ग से उनके हक व अधिकार छीन कर संविधान को बदलने का काम किया जा रहा है। इतना ही नहीं शिक्षा का भगवाकरण करने की साजिश चल रही है। ऐसी परिस्थिति में नवजवान संघ युवाओं को संगठित कर उनके हक एवं अधिकार के लिए उन्हें सही रास्ते पर लाने का काम कर रहा है। सम्मेलन में 31 सदस्यीय प्रतिनिधि का चयन किया गया। ये प्रतिनिधि 3 एवं 4 मार्च को रांची में होने वाले राज्य सम्मेलन में भाग लेंगे। इसके अलावे 11 सदस्यीय कार्यकारिणी का गठन किया गया, जिसमें सर्वसम्मति से रूचिर कुमार तिवारी को जिलाध्यक्ष, अजेश चैहान को सचिव, चंद्रशेखर तिवारी व फेकन उरांव कोषाध्यक्ष, अभय कुमार व धीरज कुमार सहायक सचिव तथा आलोक कुमार तिवारी कोषाध्यक्ष चुने गये। जीतेन्द्र कुमार सिंह को संघ का प्रभारी एवं संरक्षक चुना गया। सम्मेलन में लातेहार के प्रमोद कुमार, प्रभु प्रसाद शर्मा, तनु, रामदेव चैधरी, रामजनम राम, सुनील कुमार, आत्मदेव भुईयां, भोला सिंह, कुलदीप सिंह, देवेन्द्र प्रसाद कश्यप, विनोद कुमार, राजेश्वर विश्वकर्मा, अशोक कुमार तिवारी आदि उपस्थित थे। 


मनरेगाकर्मियों ने झामुमो एवं कांग्रेस जिलाध्यक्ष को सौंपा ज्ञापन

मेदिनीनगर: पलामू जिला मनरेगा कर्मचारी संघ का एक प्रतिनिधिमंडल झारखण्ड मुक्ति मोर्चा के जिलाध्यक्ष राजेन्द्र सिन्हा से मिला और उन्हें चुनाव के दौरान मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन द्वारा किये गये वादों की याद दिलाते हुए जेएसएलपीएस के माध्यम से मनरेगा का सोशल आॅडिट नहीं कराने का अनुरोध किया। जिलाध्यक्ष विकास पाण्डेय ने कहा कि अब राज्य में झारखण्ड मुक्ति मोर्चा की सरकार है और चुनाव के दौरान किये गये वादों को पूरा करने का भी समय आ गया है। उन्होंने कहा कि मनरेगा अधिनियम में ग्रामसभा द्वारा सामाजिक अंकेक्षण कराये जाने का प्रावधान है। ग्रामसभा सहयोग के लिए राज्य सरकार को एक स्वतंत्र इकाई का गठन करना था लेकिन पिछली सरकार और उसके कुछ अधिकारियों ने निजी फायदे के लिए स्वतंत्र इकाई का गठन करने के वजाय यह काम जेएसएलपीएस नामक एनजीओ को सौंप दिया है। यह मनरेगा अधिनियम का सरासर उल्लंघन है। श्री पाण्डेय ने कहा कि मनरेगा कर्मचारी संघ सोशल आॅडिट का विरोध नहीं करता है लेकिन एनजीओ द्वारा सोशल आॅडिट कराने के खिलाफ है और इसके लिए निरंतर संघर्ष कर रहा है। इस दौरान झामुमो के जिलाध्यक्ष श्री सिन्हा ने कहा कि हेमंत सोरेन की सरकार मनरेगा और मनेरगाकर्मियों के प्रति काफी सचेत है। उन्होंने मनरेगाकर्मियों की मांगों से मुख्यमंत्री को अवगत कराने एवं चुनाव के दौरान किये गये वादों को पूरा कराने का आश्वासन दिया। इसके उपरांत मनरेगा कर्मचारी संघ के प्रतिनिधिमंडल ने कांग्रेस के जिलाध्यक्ष जैश रंजन पाठक उर्फ बिट्टू पाठक को भी ज्ञापन सौंपकर उन्हें अपनी मांगों से अवगत कराते हुए राज्य के ग्रामीण विकास मंत्री आलमगीर आलम से मनरेगा कर्मियों की मांगों को पूरा कराने का अनुरोध किया। मौके पर देवेन्द्र उपाध्याय, आनंद कुमार, रामाकांत तिवारी, अभिमन्यु सिंह, अमित सिन्हा, पुरूषोत्तम कुमार एवं दिलीप पाण्डेय आदि मनरेगाकर्मी उपस्थित थे।

 

यज्ञ से होता है पाप का नाश: देवेंद्र कुमार सिंह

लेस्लीगंज: क्षेत्र के किरतो गांव स्थित शिव मंदिर परिसर में चल रहे पांच दिवसीय रुद्र महायज्ञ आज महायज्ञ को ले कलश यात्रा निकायी गयी। इस कलश यात्रा में आस्था का समंदर उमड़ पड़ा। सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालुओं ने यज्ञ मंडप की परिक्रमा कर पिरी नदी से वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच कलश में जल भर कर वापस यज्ञ मंडल लौटे। इसके पूर्व कलश यात्रा में मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे पाकी विधानसभा क्षेत्र के पूर्व विधायक देवेंद्र कुमार सिंह उर्फ बिट्टू सिंह ने यज्ञमंडप का फीता काटकर उद्घाटन किया और कलश उठाकर श्रद्धालुओं के साथ कलश यात्रा में शामिल हुए। श्रद्धालुओं को संबोधित करते हुए श्री सिंह ने कहा कि परिक्रमा से पापों का क्षय होता है। रुद्रामालय से लेकर आगम व निगम दोनों प्रकार के शास्त्रों में यज्ञ परिक्रमा की महत्ता का प्रतिपादन किया गया है। शास्त्रों में यहां तक उल्लेख है कि परिक्रमा में जाने व अंजाने में हुए सभी प्रकार के पापों का सर्वनाश होता है। बताया कि महाभारत में द्रौपदी ने कहा था कि दीर्घकालीन तपचर्या से जिस फल की प्राप्ति होती है वह परिक्रमा से अतिशीघ्र मिल जाता है। स्वयं भगवान श्रीकृष्ण ने गीता में बार-बार यज्ञ परिक्रमा करने का उपदेश दिया है। श्री सिंह ने कहा कि हिन्दुओं का मुख्य धर्म-कर्म यज्ञ में छिपा हुआ है। यज्ञ के धुआं से पर्यावरण शुद्ध होता है। उन्होंने कहा कि बाहर से आए हुए विद्वानों द्वारा आध्यात्मिक चर्चाओं से लोगों में आपसी भाईचारा एवं लगाव बढ़ता है। इस कलश यात्रा में शामिल हुए स्वच्छता अभियान के प्रमण्डलीय प्रभारी सह भाजपा नेता डाॅ. अमित प्रकाश उपाध्याय ने कहा कि यज्ञ जैसे पवित्र कार्यक्रम से क्षेत्र की खुशी एवं शांति का माहौल बना रहता है। उन्होंने इस तरह के कार्यक्रम में बढ़-चढ़कर हर संभव सहयोग का आश्वासन दिया। मौके पर रामविचार तिवारी, रवि तिवारी, प्रमोद तिवारी, विनोद उपाध्याय, दिनेश पाण्डेय, गुड्डू तिवारी, मनीष विश्वकर्मा, मनदीप तिवारी, उमेश तिवारी, मंटू तिवारी, दिलीप तिवारी, कमेश यादव एवं सुधीर श्रीवास्तव समेत दर्जनों लोग उपस्थित थे।


शिक्षक समाज की अगली पीढ़ी के मार्गदर्शक: अवर सचिव 

म्ेदिनीनगर: राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद भारत सरकार तथा झारखण्ड शिक्षा परियोजना परिषद द्वारा सतबरवा के बीआरसी भवन में आयोजित पांच दिवसीय ‘निष्ठा’ प्रशिक्षण के दूसरे बैच का शुभारंभ आज स्कूली शिक्षा साक्षरता विभाग एवं माध्यमिक शिक्षा के अवर सचिव ओमप्रकाश तिवारी ने दीप प्रज्ज्वलित कर किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि शिक्षक राष्ट्र निर्माता एवं समाज की अगली पीढ़ी के मार्गदर्शक होते हैं। शिक्षक कभी सेवानिवृत नहीं होते बल्कि उनका दायित्व जीवन पर्यंत बढ़ता ही रहता है। उन्होंने कहा कि शिक्षक प्रशिक्षण का लाभ लेकर समाज के नीचले स्तर तक मानव संसाधन को विकसित करने में अपना अहम योगदान देने का काम करें। प्रखण्ड कार्यक्रम पदाधिकारी डाॅ. मनोज तिवारी ने प्रशिक्षण के एक-एक पल का लाभ उठाते हुए विद्यालय स्तर पर बच्चों के उज्ज्वल भविष्य के लिए काम करने का संकल्प लेने का आह्वान शिक्षकों से किया। स्टेट रिसोर्स पर्सन दिनेश कुमार शुक्ला ने कहा कि ‘निष्ठा’ प्रशिक्षण अन्य प्रशिक्षणों से अलग है। इस प्रशिक्षण के विभिन्न माॅडयूल को अच्छी तरह से समझ के साथ अंतरनिहित करते हुए बच्चों के सर्वांगीण विकास के लिए अपने कार्य एवं दायित्व का निर्वहन के प्रति संकल्पित होना है। हम सबकों जो जिम्मेवारी मिली है उसे पूरा करने का प्रयास करते रहेंगे। मौके पर केआरपी गोविन्द्र प्रसाद, वीरेन्द्र कुमार साहू, पूजा सिन्हा, अनुज ठाकुर, राखी रानी प्रसाद, एसआरपी, दिनेश कुमार शुक्ला, समेत प्रशिक्षण ले रहे शिक्षकों में मो. शोएब, नीतू कुमारी, शीला देवी, जोजलिन मिंज, अशरफ अंसारी, श्यामबिहारी सिंह, अनिल कुमार, विनय कुमार सिंह, पूनम कुमारी एवं रेणु कुमारी आदि उपस्थित थे।


जनगणना 2021 के लिए फील्ड ट्रेनरों का प्रशिक्षण शुरू

मेदिनीनगर: भारत की जनगणना, 2021 के सफल संचालन के लिए आज पलामू समाहरणालय स्थित ब्लॉक सी के सभागार में फील्ड ट्रेनरों के पांच दिवसीय प्रशिक्षण की शुरुआत उपायुक्त डाॅ. शान्तनु कुमार अग्रहरि, नगर आयुक्त दिनेश प्रसाद, उप विकास आयुक्त बिंदु माधव प्रसाद सिंह एवं अपर समाहर्ता प्रदीप कुमार प्रसाद की अगुवाई हुई। बताया गया कि पलामू जिला के 26 चार्जों में से एक 11 चार्जों के 33 फील्ड ट्रेनरों का प्रशिक्षण प्रथम बैच में आज से 28 फरवरी तक होगा। शेष 34 फील्ड ट्रेनरों का प्रशिक्षण 16 से 20 मार्च तक कराया जाएगा। इन फील्ड ट्रेनरों को राज्य से ट्रेनिंग प्राप्त कर आये मास्टर ट्रेनर  प्रशिक्षण देंगे। वहीं  प्रशिक्षण प्राप्त फील्ड ट्रेनर प्रगणक व पर्यवेक्षक को चार्ज स्तर पर प्रशिक्षण देंगे। प्रशिक्षण के उद्घाटन सत्र के दौरान उपायुक्त डाॅ. अग्रहरि ने ट्रेनरों को जनगणना 2021 के राष्ट्रीय कार्य में पूरी ईमानदारी से अपनी भूमिका निभाने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने हर एक चरण में जनगणना के आंकड़ों की एकसारता और सटीकता को बनाए रखने पर भी जोर दिया। उन्होंने कहा कि सही जनगणना से ही जन कल्याण संभव है। इसके लिए सुपरवाइजर हों या फिल्ड ट्रेनर उनके प्रशिक्षण में कोई लापरवाही नहीं बरती जाएगी। डाॅ. अग्रहरि ने कहा कि जनगणना के आधार पर ही लोकहित व कल्याणकारी योजनाएं बनती है। आज के डिजिटल युग में जनगणना के आंकड़े मोबाइल ऐप में भी दर्ज किए जाएंगे। घर में मोबाइल फोन, इंटरनेट की सुविधा, लैपटॉप, डेस्कटॉप, शौचालय की व्यवस्था, पेयजल की व्यवस्था के स्रोत जैसे नए सवाल भी इस बार के जनगणना में शामिल होंगे। नगर आयुक्त ने कहा  कि फील्ड ट्रेनरों को भलीभांति प्रशिक्षण दिया जाए, जिससे त्रुटिरहित जनगणना का कार्य किया जा सके। उन्होंने कहा कि  10 वर्षों में जनसंख्या वृद्धि के साथ ही पारिवारिक सुविधाओं में कितनी वृद्धि हुई है, इसकी जानकारी जनगणना से ही होती है। उन्होंने बताया कि 2021 का जनगणना पिछले जनगणना से बिल्कुल अलग होगा, क्योंकि पहली बार आंकड़े एक विशेष डिजाइन किए गए मोबाइल ऐप से आपके द्वारा एकत्रित किए जाएंगे। बताते चलें कि 2021 की जनगणना 16वीं तथा स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद आठवीं जनगणना होगी। यह दो चरणों में संपन्न होगी। पहले चरण में मकान सूचीकरण में मकानों की गणना तथा दूसरे चरण में वास्तविक परीगणना का कार्य होगा। जनगणना के आंकड़ों को एकत्र करने के लिए एक विशेष मोबाइल ऐप का इस्तेमाल होगा। मोबाइल ऐप पर कार्य करने में दक्ष नहीं होने वाले प्रगणक व पर्यवेक्षक को पेपर पर कार्य करने की अनुमति होगी। जनगणना की समस्त मॉनिटरिंग का कार्य वेबपोर्टल सीएमएमएस के द्वारा किया जाएगा। मौके पर छतरपुर अनुमंडल पदाधिकारी नरेंद्र प्रसाद गुप्ता, हुसैनाबाद अनुमंडल पदाधिकारी कुंदन कुमार, प्रभारी सांख्यिकी पदाधिकारी प्रमोद कुमार सहित फील्ड ट्रेनर मौजूद थे।


कांग्रेस की बैठक में सदस्यता अभियान पर चर्चा

मेदिनीनगर  पलामू जिला कांग्रेस कमिटी के कार्यकारिणी की बैठक आज जिलाध्यक्ष बिट्टू पाठक की अध्यक्षता में कांग्रेस भवन मंे हुई। संचालन कांग्रेस उपाध्यक्ष विनोद तिवारी व धन्यवाद ज्ञापन कोषाध्यक्ष अजय साहु ने किया। बैठक को संबोधित करते हुए जिलाध्यक्ष श्री पाठक ने कहा कि पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ. रामेश्वर उरांव के निर्देशानुसार सभी प्रमण्डलों में सदस्यता अभियान की शुरुआत एक विशेष महत्त्वपूर्ण स्थान से किया जाना है। पलामू प्रमण्डल के लिए सदस्यता अभियान की शुरुआत 2 मार्च    को चतरा जिला के इटखोरी से किया जायेगा। इस दौरान सदस्यता अभियान के प्रभारी आलोक दुबे मुख्य रूप से उपस्थित रहेंगे। उन्होंने कहा कि अभियान के शुभारंभ के लिए जिले के सभी कांग्रेस जन एवं पार्टी के पदाधिकारी पार्टी के लिए आमंत्रित हैं। उन्होंने कहा कि देश और कांग्रेस का इतिहास एक समान है। कांग्रेस की विचारधारा को जन-जन तक पहुंचाकर लोगों को पार्टी से जोड़ा जायेगा। पलामू में सदस्यता का कार्य अभियान के रूप में किया जायेगा। उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में 15 लाख सदस्यों को जोड़ने का लक्ष्य है। श्री पाठक ने बताया कि पलामू में सदस्यता अभियान के लक्ष्य को पूरा करने के लिए सभी प्रखण्डों में प्रभारी व सप्रभारियों की नियुक्ति की जायेगी। बैठक में पदाधिकारियों की सहमति से अनुशासन समिति का गठन करते हुए विनोद तिवारी को इसका चेयरमैन बनाया गया। इश्वरी सिंह, तारकेश्वर पासवान, अजय पाण्डेय एवं अजय साहु समिति के सदस्य होंगे। इस दौरान पार्टी के जिला उपाध्यक्ष नसीम हैदर को पद मुक्त किया गया। बैठक में विनोद तिवारी, राजेन्द्र अग्रवाल, सुधीर चैबे, सिद्धनाथ गुप्ता, विद्या सिंह चेरो, मिथलेश कुमार सिंह, कुश कुमार सिंह, इश्वरी प्रसाद सिंह, नसीम खान, नवल किशोर पाठक व सत्येन्द्र सिंह समेत बड़ी संख्या में कांग्रेसी उपस्थित थे। 


प्रभारी पीडीजे के खिलाफ सड़क पर उतरे अधिवक्ता, निकाला मौन जुलूस

मेदिनीनगर: पलामू के प्रभारी प्रधान जिला जज के खिलाफ पिछले 10 दिनों से अधिवक्ताओं का चल रहा न्यायिक कार्य बहिष्कार आज भी जारी रहा। इस दौरान पलामू अधिवक्ता संघ के बैनर तले अधिवक्ता सड़क पर उतरे और शहर में मौन जुलूस निकालकर प्रभारी पीडीजे को पलामू से हटाने की सांकेतिक मांग की। इस जुलूस के नेतृत्व संघ के उपाध्यक्ष मंधारी दुबे एवं संयुक्त सचिव दीपक कुमार कर रहे थे। इस जुलूस में करीब 500 अधिवक्ता शामिल हुए। कचहरी परिसर से शुरू हुआ अधिवक्ताओं का यह मौन जुलूस शहर के छहमुहान, अस्पताल चैक एवं साहित्य समाज चैक एवं जेलहाता होते कचहरी वापस लौटकर संपन्न हुआ। गौरतलब हो कि पलामू के प्रभारी प्रधान जिला व सत्र न्यायाधीश पंकज कुमार-2 द्वारा अधिवक्ता संघ के अध्यक्ष सच्चिदानंद तिवारी के साथ किये गये दुव्र्यवहार को लेकर अधिवक्ता संघ आंदोलित है। पिछले 15 फरवरी से जिले के अधिवक्ताओं ने न्यायिक कार्यों का बहिष्कार कर रखा है। बताया गया कि आज ही माननीय उच्च न्यायालय के बुलावे पर पलामू जिला अधिवक्ता संघ का सात सदस्यीय टीम अपनी बात रखने रांची कूच कर चुका है। मौके पर दीपक कुमार, संतोष तिवारी, प्रयाग साव, केडी सिंह, वरूण सिंह, विनोद तिवारी, मनउव्वर जमां, ज्ञान रंजन, रामदेव यादव, संतोष दुबे, दिनेशचंद पाण्डेय, संतोष कुमार पाण्डेय, आजाद सिंह व राकेश देव समेत बड़ी संख्या में अधिवक्ता उपस्थित थे। 


माता सबरी जयंती सह परिवार मिलन समारोह में उमड़ी भुईयां समाज की भीड़


मेदिनीनगर: अखिल भारतीय भुईयां संघर्ष समिति के तत्वावधान में आज माता सबरी जयंती सह भुईयां परिवार मिलन समारोह का आयोजन शहर के शिवाजी मैदान में किया गया। इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में भुईयां समाज के महिलायें भी शामिल हुई। समारोह की अध्यक्षता राजू भुईयां व संचालन सुनील भुईयां ने किया। समारोह का उद्घाटन करते हुए मुख्य अतिथि सह पूर्व सांसद मनोज कुमार भुईयां ने समाज के लोगों से शिक्षा के प्रति जागरूक होने की अपील की। उन्होंने कहा कि भुईयां समाज के पिछड़ेपन का सबसे बड़ा कारण अशिक्षा है। शिक्षा के अभाव में ही भुईयां समाज अंधविश्वास व कुरीतियों की मकर जाल मंे आज भी फंसा हुआ है। शिक्षित नहीं होने के कारण ही समाज के लोग सरकार की विकास योजनाओं का समुचित लाभ नहीं ले पा रहे हैं। उन्होंने शिक्षा पर सर्वाधिक जोर देते हुए भुईया समाज के लिए ‘कम खाये, पर बच्चे को जरूर पढ़ाये’ का नारा दिया। समारोह को संबोधित करते हुए अन्य वक्ताओं ने भी समाज के विकास के लिए शिक्षा व एकजुटता को जरूरी बताया। साथ ही माता सबरी की आदर्शों को आत्मसात करने की बात कही। मौके पर जिप सदस्य अनुज भुईयां, राजेन्द्र भुईयां, परमेश्वर भुईयां, पारसनाथ भुईयां, महेन्द्र भुईयां, प्रभु भुईयां, उदयशंकर भुईयां, अशोक भुईयां, विषणुदेव भुईयां, कईल भुईयां, सत्येन्द्र भुईयां, रमन भुईयां आदि उपस्थित थे। समारोह में भुईयां समाज के लोक कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम भी प्रस्तुत किया गया।