वाहन चालक व सवार को हेलमेट एवं सीट बेल्ट का उपयोग के प्रति किया गया जागरूक

  • वाहन चालक व सवार को हेलमेट एवं सीट बेल्ट का उपयोग के प्रति किया गया जागरूक
  • कुपोषण से बचाव के लिए साग-सब्जियों का सेवन के लिए किया गया प्रेरित 

खूँटी । सुदूरवर्ती ग्रामीण इलाकों में जिला जनसंपर्क कार्यालय, खूंटी द्वारा लगाातार एलईडी वाहन के माध्यम से वीडियो क्लिप दिखाकर सड़क सुरक्षा, मिशन इंद्रधनुष अभियान एवं कौशल विकास से संबंधित जागरूकता अभियान चलाये जा रहे है। 

सोमवार को तोरपा प्रखंड के तोरपा बाजार में लोगों को एलईडी वैन द्वारा वीडियों क्लिप के माध्यम से सड़क सुरक्षा एवं नए मोटर वाहन अधिनियम 2019 के संबंध में जानकारी दी गई। लोगों को ट्रैफिक के नियमों का अनुपालन करने के प्रति जागरूक किया गया। हेलमेट पहनने फायदे से अवगत कराते हुए दुपहिया वाहन चलाते समय हेलमेट का प्रयोग एवं कार चलाते समय सीट बेल्ट का उपयोग के प्रति सजग किया गया। बताया गया कि सवारी करते समय दोनों सवारों के लिए हेलमेट पहनना जरुरी होता है क्योंकि दुर्घटना के समय चालक व साथ-साथ पीछे बैठे व्यक्ति को चोट लगने का खतरा बराबर रहता है। लोगों को जागरूक किया गया कि किसी भी प्रकार का नशा का सेवन कर वाहन नहीं चलाना चाहिए। 

वीडियो दिखाकर लोगों को बताया गया कि गाड़ी चलाते समय मोबाइल फोन अथवा दूसरे इलेक्ट्राॅनिक उपकरणों के उपयोग करने से घ्यान हटने के कारण सड़क दुर्घटना का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए वाहन चलाते समय उक्त उपकरणों का उपयोग नहीं करना चाहिए।  लोगों को पे्ररित किया गया कि वाहन सदैव निर्धारित गति सीमा में ही चलाना चाहिए। बताया गया कि जल्दीबाजी में वाहनों को ओवर टेक करने की कोशिश नहीं करनी चाहिए।इस दौरान वीडियो क्लिप प्रदर्शित कर मिशन इंद्रधनुष अभियान की विस्तार से जानकारी दी गई। वीडियों के माध्यम से ग्रामीणों को बताया गया कि मिशन इंद्रधनुष का उद्येश्य उन बच्चों का वर्ष 2020 तक टीकाकरण करना है जिन्हें डिफ्थेरिया, बलगम, टिटनस, पोलियो, तपेदिक, खसरा तथा हेपिटाइटिस-बी को रोकने के टीके नहीं लगे हैं या उन्हें आंशिक रूप से टिके लगाए गये हैं। साथ ही महिलाओं को कुपोषण से बचाव के लिए ग्रामीण क्षेत्रों में उपलब्ध पौष्टिक खाद्य पदार्थ यथा-हरी व पत्तीदार साग-सब्जियों का भरपूर सेवन के लिए प्रेरित किया गया। गर्भवती महिलाओं को जच्चा-बच्चा के स्वास्थ्य के प्रति जागरूक किया गया। साथ ही दीनदयाल कौशल विकास योजना से संबंधित वीडीयो का प्रदर्शन कर बेराजगार युवक-युवतियों को स्वरोजगार हेतु इस योजना जुड़कर से लाभ उठाने के लिए प्रेरित किया गया गया।