मारंग गोमके जयपाल सिंह के घर को संग्रहालय का रुप - डीडीसी

मारंग गोमके जयपाल सिंह के घर को संग्रहालय का रुप - डीडीसी

खूँटी : सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत जयपाल सिंह मुंडा शहीद के गांव को आदर्श ग्राम के रूप में विकसित करने की दिशा में आज उप विकास आयुक्त अरविंद कुमार मिश्र, प्रखण्ड विकास पदाधिकारी, खूंटी, अंचल अधिकारी, खूंँटी सहित जिले के अन्य पदाधिकारियों द्वारा क्षेत्र भ्रमण किया गया। इस उद्देश्‍य से माननीय सांसद खूंटी सह मंत्री जनजातीय मंत्रालय भारत सरकार, नई दिल्ली की देख-रेख में चुनी हुई ग्राम टकरा के विकास के लिए कार्ययोजना बनाई गई। 

इसी क्रम में सामुदायिक केंद्र का निरीक्षण भी किया गया। साथ ही सामुदायिक केंद्र के लिए सौर ऊर्जा प्रदान करने एवं एक पुस्तकालय, इंटरनेट शिक्षण सुविधा और व्यावसायिक प्रशिक्षण केंद्र के साथ विकसित किये जाने के लिए अधिकारियों के साथ मिलकर योजना बनाई गई। इसी क्रम में दिवंगत मारांग गोमके का पैतृक घर का भ्रमण कर वहांँ एक पुस्तकालय और संग्रहालय के रूप में उपयोग किये जाने पर विचार- विमर्श किया गया। कृषि के क्षेत्र में विकास हेतु खेतों में सिंचाई की व्यवस्था करने के लिए चेक डैम के निर्माण हेतु स्थल का भ्रमण किया गया। 

इस दौरान शौचालय क्रियाशील बनाने के लिए शौचालय से पानी के कनेक्शन दिए जाने के लिए सम्बन्धित अधिकारी को निर्देश दिए गए। जिससे स्वच्छ और स्वास्थ्य वातावरण सुनिश्चित होगा।  इस दौरान स्पोर्ट्स अकादमी के लिए भूमि चिन्हित करने हेतु क्षेत्र भ्रमण किया गया। मौके पर उप विकास आयुक्त द्वारा उपस्थित ग्रामीणों को बताया गया कि उक्त अकादमी विश्वस्तरीय होगी और एथलीटों के लिए पूरी सुविधा प्रदान की जाएगी। तथा उन्हें हॉस्टल, शिक्षा, भोजन और सभी खेल उपकरण प्रदान किए जाएंगे। इससे विशेषकर वैसे युवा जो शराब, अपराध और अन्य सामाजिक गतिविधियों के लिए भटक रहे हैं उन युवाओं को सकारात्मक दिशा मे प्रोत्साहित किया जा सकता है। उप विकास आयुक्त ने उपस्थित ग्रामीणों को जागरूक करने के क्रम में बताया कि इस योजना के तहत ग्राम को विकसित कर ग्रामीणों के जीवन स्‍तर में सुधार लाने का कार्य किया जाएगा। साथ ही योजना के तहत सामाजिक और आर्थिक विकास के लिए सार्वजनिक सेवाओं में सुधार लाने के लिए सामुदायिक सहभागिता महत्वपूर्ण है। इसके लिए आवश्यक कार्ययोजना तैयार की जा रही है। ताकि ये गांव पड़ोस की अन्‍य ग्राम पंचायतों के लिए आदर्श उदाहरण प्रस्तुत कर सकें।