कालेज कर्मियोँ को छह माह से नहीं मिला मानदेय, करेंगे आत्मदाह


पलामू- ए के सिंह कालेज जपला मे कालेज कर्मीयो ने अपने लंबित मानधन की मांग को लेकर अनिश्चितकालीन धरना आठवे  दिन भी जारी रहा। उन्होंने कहा है कि भूखे मरने से बेहतर है मानधन की मांग को लेकर आत्मदाह कर के ही मरा जाये। उन्होने आनदोलन की रूप रेथा भी तय कर लिया है। कालेज कर्मियों का कहना है कि जिन कर्मचारियों की बहाली रोस्टर के अनुसार तथा नियम संगत तरीके से किया गया है ।उसे फिलहाल मे बनी तदर्थ कमिटी द्वारा विवादित कहा जा रहा है और छः महीने से मानधन का भुगतान नही किया जा रहा हैं। धरना पर बैठे कर्मियों की सूधी अभी तक नाही कालेज प्रबंधन ने लिया और ना ही कोई प्रशासनिक अधिकारी ही। इससे  कर्मियों में काफी रोष देखा गया । धरना पर बैठे कालेज कर्मियों ने आज चरणबद्ध तरीके से आन्दोलन करने का निर्णय लिया ।दिनांक 5 /5 /18 को अनुमंडल कार्यालय हुसैनाबाद के समक्ष। 7/5/2018 से 8/5/2018 तक नीलाम्बर पीतांबर विश्वविविद्यालय मेदिनी नगर मे दो दिवसीय धरना' 9/5/18  से 11/5/2018 तक विश्वविद्यालय परिसर मे तीन दिवसीय भूख हड़ताल तथा अंतमे 12/5/2018 नीलांबर पीतांबर विश्वविद्यालय परिसर मे  आत्मदाह कर लेंगे। कालेज कर्मियों ने इस संबंध में राज्यपाल, मुख्य मंत्री सहित अन्य पदाधिकारी को सूचना दे दी है।  धरना पर बैठने वालों में मुख्य रुप से प्रो विश्वजीत पासवान, सत्येंद्र प्रसाद, उदेश्वर राम, रानी सिंह, उषा देवी, संध्या कश्यप, कुमारी श्वेता, तलत खातून, यशवंत कुमार, सौरभ कुमार सिंह, रविन्द्र कुमार, बब्लु सिंह, प्रणीत प्रणव, अनिमेष अग्रवाल, अंकित कश्यप , श्वेतांत अंबष्ट, रंजना सिंह  सतीस कुमार मुकेश सिह आदि अन्य कालेज कर्मी शामिल है।