खूंटी -कुपोषण रहित जिला बनाने के उद्देश्य से प्रवेक्षिकाओं को प्रशिक्षण

खूँटी : जिले में पोषण के प्रति जागरूकता लाने और कुपोषण रहित जिला बनाने के उद्देश्य से आज समाहरणालय में प्रशिक्षण कार्यक्रम आरंभ किया गया। इस दो दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ जिला समाज कल्याण पदाधिकारी उषा मुण्डू ने किया। श्रीमती मुण्डू द्वारा बताया कि यह त्रिस्तरीय प्रशिक्षण प्राप्त कर प्रशिक्षणार्थी क्षेत्र में जाकर लोगों को सिखलाने और जागरुक करने का काम करेंगी। जिसमें शिशुओं के कुपोषण रहित पालन पोषण के तौर तरीका पर  त्रिस्तरीय मोड्यूल 17,18 और 19 पर प्रशिक्षण दिया गया। जिसमें पहला बीमार नवजात शिशु की पहचान एवं रेफ़रल सेवा, दूसरा कुपोषण और मृत्यु से बचने के लिए बीमारियों से बचाव तथा तीसरा बच्चों और किशोरियों में खून की कमी व एनीमिया की रोकथाम की जानकारी पर प्रशिक्षण दिया जा रहा है । जिसमें प्रशिक्षक तोरपा प्रखण्ड के सीडीपीओ नीलम केरकेट्टा और अड़की प्रखंड के सीडीपीओ मेरीस मुंडू द्वारा दिया गया। यह प्रशिक्षण कार्यक्रम 6 मार्च तक चलेगा। जिसमें जिले के सभी 20 महिला प्रवेक्षिका उपस्थित थीं जिनको प्रशिक्षित किया जा रहा है । जो क्षेत्र में सेविकाओं को गाइड करेंगी।