अबीर गुलाल के साथ मासूम का कार्यक्रम हुआ रंगीन

अबीर गुलाल के साथ मासूम का कार्यक्रम हुआ रंगीन 

आप कौन चीज के डाइरेक्टर है जी नाटक का हुआ मंचन 
मेदिनीनगर: प्रतिनिधि: सांस्कृतिक निदेशालय के सहयोग से मासूम आर्ट ग्रुप द्वारा आयोजित सांस्कृतिक संध्या उस समय रंगीन हो गया जब कलाकार के साथ सभी दर्शक और अतिथि सिकंदर कुमार के होलीगीतो पर जमकर अबीर गुलाल उड़ाया।  इससे पहले मासूम का कलाकारों ने अपने बहुचर्चित नाटक आप कौन चीज के डाइरेक्टर है जी का प्रदर्शन किया. यह इस नाटक की  100 वीं प्रस्तुति थी. कार्यक्रम में मौजूद महापौर अरुणा शंकर ने कहा की मासूम आर्ट ग्रुप ने कला के माध्यम से पलामू का नाम रौशन किया है.  पलामू के डीडीसी बिंदुमाधव प्रसाद सिंह ने कहा की नाटक समाज का दर्पण है और मासूम के कलाकारों ने अपने नाटक के माध्यम से समाज को आईना दिखाने का काम किया है. सीआरपीएफ के कमानडेंट एडी शर्मा ने कहा की नाटक के माध्यम से कलाकारों ने जो सन्देश दिया वो काफी प्रासंगिक है.  सांस्कृतिक  निदेशालय के उप निदेशक विजय पासवान ने कहा की विभागीय सहयोग का सदुपोयग करते हुए मासूम ने एक बेहतर कार्यक्रम प्रस्तुत किया है. सदर एसडीओ सुरजीत कुमार सिंह ने कहा की मासूम के सभी कलाकारों ने शानदार अभिनय करते हुए नाटक को जीवंत बनाये रखा.  नाटक के लेखक व निर्देशक सैकत चट्टोपाध्याय व मुख्य प्रशिक्षक नीमू भौमिक थे. नाटक में डाइरेक्टर की भूमिका में सैकत चट्टोपाध्याय, दुर्योधन की भूमिका में कामरूप सिन्हा, कृष्ण की भूमिका में उज्जवल सिन्हा, भीम की भूमिका में राज प्रतिक पाल, मुखिया की भूमिका में अमर भांजा व गांधारी की भूमिका में मुनमुन चक्रवर्ती ने शानदार अभिनय किया. नाटक के बाद सिकंदर कुमार, रामकिशोर पांडेय, श्यामकिशोर पांडेय व शालिनी श्रीवास्तव ने होली गीत प्रस्तुत किया। कार्यक्रम को सफल बनाने में मुकेश, संजीत, आशिफ, गुलशन, नसीम, आदि का सराहनीय योगदान रहा. कार्यक्रम का संचालन शर्मीला वर्मा व  धन्यवाद ज्ञापन मासूम के अध्यक्ष विनोद पांडेय ने किया. 
कई विभूति व कलाकार हुए सन्मानित 
इस अवसर पर मासूम द्वारा कई लोगो का सन्मानित किया गया. कलाकारों तथा कार्यक्रमों में सहयोग करने के लिए आनंद शंकर को रंगबन्धु सन्मान, डॉ अरुण शुक्ला को रंगमित्र सन्मान, अरविंद सिन्हा को रंग सहयोगी सन्मान,  प्रशिक्षण के लिए नीमू भौमिक को रंग गुरु सन्मान, नाटक में संगीत के लिए विजय शंकर राम को रंग सुर  सम्राट सन्मान, स्वस्तिक अंकित को रंग धुन सन्मान, अभिनय के लिए कामरूप सिन्हा व मनीषा सिंह  को रंगश्री सन्मान, मंच निर्माण के लिए संजीत प्रजापति को रंग विश्वकर्मा सन्मान, उज्जवल सिन्हा को रंग समर्पण सन्मान, राज प्रतिक पाल को उदीयमान रंगकर्मी सन्मान से सन्मानित किया गया.