चाईबासा पुलिस को मिली बड़ी सफलता एरिकमाण्डर सहित पांच पीएलएफआई उग्रवादी गिरफ्तार



भारी मात्रा में हथियार सहिन सामान किया गया बरामद


चक्रधरपुर अनुमंडल के बंन्दगांव थाना क्षेत्र में बड़ी घटना का अंजाम देने को ले बना रहे थे पीएलएफआई सदस्य


अपने ही एक हार्डकोर नक्सली साथी की हत्या कुलहाड़ी से काट कर की सदस्यों नें


पिस्टल खरिदने के लिए दिए गये थे एक लाख रुपयै जिसमें से लेवी के 90 हजार रूपये किया गया बरामद


उग्रवादियों तक आर्मस पहुंचाने वाला दो सदस्य भी पकड़ा गया


संतोष वर्मा। शनिवार को पुलिस अधीक्षक मयुर कन्हैया लाल अपने कार्यालय में संवाददात सम्मेलन करते दी जानकारी की गुप्त सुचना के अधार पर बंदगांव थाना अंतर्गत सारदा मारला जंगल के पहाड़ी पर पीएलएफआई का एक दस्ता काफी दिनों से आधुनिक हथियार के साथ 10-12 की संख्या में छुपा हुआ है.और किसी बड़ी घटना को अंजाम देने का प्रोग्राम बना रहा है. जिसका नेतृत्व एरिया कमाण्डर बिरसा पूर्ति उर्फ चट्टान सिंह कर रहा है, और उसके पास कार्बाईन भी है.अन्य दस्ता मेम्बर के पास बन्दुक,पिस्टल आदि हथियार है.इसी दस्ता के द्वारा बीते माह इस्माईल हासा पूर्ति जो हलमद का रहने वाला था कि हत्या सारदा गांव के पास सर काटकर कर दिया गया था. अविलम्ब छापामारी करने पर पुरा दस्ता पकड़ा जा सकता है और हथियार गोली एवं अन्य सामानों की बरामदगी हो सकती है.सूचना के आधार पर अपर पुलिस अधीक्षक चाईबासा, अनुमण्डल पुलिस पदाधिकारी चक्रधरपुर, थाना प्रभारी बंदगांव, कोबरा 209 एवं 203 एवं सीआरपीएफ 174 बटालियन के सहायक समादेष्टा  का एक क्युआरटी टीम तैयार किया गया और सारदा मारला के पहाड़ी पर बीते रात 4 मई को पहाड़ की घेराबन्दी करते हुए अभियान में शामिल पुलिस पदाधिकारी एवं पुलिस कर्मी के साथ छापामारी की गयी और संबंधित पहाड़ी पर पीएलएफआई के उग्रवादियों को घेरा गया तथा हथियार केसाथ आत्मसमर्पण करने के लिए विवश किया गया.जिसमें एरिया कमाण्डर के अतिरिक्त अन्य चार पीऐलएफआई के हार्डकोर उग्रवादी को आधुनिक हथियार गोली के साथ गिरफ्तार किया गया.गिरफ्तार पीएलएफआई उग्रवादियों के पास से कार्बाईन01, डीबीबीएल बन्दुक एक, भुजाली, नक्सली साहित्य, तिरपाल, प्लास्टीक, खाना बनाने का बर्तन, दाल चावल आदि सामानों को बरामद किया गया. तथा कैम्प को ध्वस्त किया गया.एरिया कमाण्डर बिरसा पुर्ति उर्फ चटटान सिंस ने बताया कि बीते माह सारदा मारला के पास ईसमाईल हासा पुर्ति की हत्या इनके एवं इनके दस्ता के सदस्यों के द्वारा कुल्हाड़ी से काटकर किया गया है.मृतक ईस्माईल हेसा पूर्ति का सर काटने वाला खून लगा कुलहाड़ी तथा अन्य सामान बरामद हुआ है.एरिया कमाण्डर बिरसा हेसा पुर्ति उर्फ चटटान सिंह ने बताया कि दस्ता में और चार पिस्टल खरिदने के लिए चक्रधरपुर के अनिल कुमार पान और सुभाष सोना को एक लाख रूपया एक सप्ताह पहले दिये थे.उसके द्वारा हथियार अभी आपूर्ति नहीं किया गया था. चटटान के निशानदेही पर अनिल कुमार पान एवं सुभाष सोना को गिरफ्तार किया गया और लेवी से वसुला गया 90 हजार रूपया जो 04 पिस्टल खरीदने के लिए दिया था उसे अनिल कुमार पान एवं सुभाष सोना के पास से बरामद किया गया है.


गिरफ्तार पीएलएफआई उग्रवाद इस प्रकार है


बिरसा पूर्ति उर्फ चटटान सिंह उर्फ बीचा पूर्ति उम्र 21 वर्ष एरिया कमाण्डर

जादव राय मुंडारी उम्र 30 वर्ष बंदगांव थाना

मान सिंह पूर्ति उम्र 14 वर्ष मरला बंदगांव चाईबासा

माते मुण्डा उम्र 20 वर्ष देदवा थाना अकड़ी जिला खुंटी

नावरू मुंडू उम्र 22 वर्ष उर्फ ऐतवा मुंडु  गांव गाईरी थाना बंदगांव को गिरफ्तार किया गया तथा 5-6 नक्सली अंधेरा का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे.


आर्मस सप्लायर में 


अनिल कुमार पान उम्र 40 वर्ष चक्रधरपुर

सुभाष सोना उम्र 42 चक्रधरपुर


पीएलएफआई नक्सलियों के पास से बरामद सामानों की विवरणी


क्राबाईन एक गोली 07

डीबीबीएल बन्दुक एक गोली 108

पिस्टल एक गोली चार

एसएलआर की गोली दो

अर्ध निर्मित बन्दूक का बैरल एक

मोबाईल फोन सात

पिस्टल खरीदने हेतु भुगतान किया गया एक लाख रूपया में से 90 हजार रूपया बरामद किया गया.

पिटठु सात

वर्दी 05 जोड़ी. लड़कियों का सलवार सूट तीन जोड़ी

नक्सली साहित्य 

jh05 6-7284 हिरो होण्डा स्पेलेंडर

त्रिपाल, भुजाली, प्लास्टीक, खाना बनाने का चावल, दाल, आलु, प्याज वर्तन आदि

खुन लगा टांगी जिससे इस्माईल हेसा पुर्ति की हत्या किया गया था.

इस्माईल हेसा पुर्ति का जला हुआ मोटर साईकिल हीरो होण्डा स्पेलेण्डर एवं अन्य सामान.

डेली व्यवहार में आने वाले दवा आदि.


अभियान में शामिल थे ये पदाधिकारी

अपर पुलिस अधीक्षक अभियान मनीष रमण.

अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी चक्रधरपुर सकलदेव राम.

बंदगांव थाना प्रभारी बमशंकर

सअनि बंदगांव थाना सुमेश्वर पासवान

टू वाई सी 174 सीआरपीएफ अरूण कुमार झा.

कोबरा 203 के डिप्टी कमाण्डेंट वरूनेन्द.

मनीष कुमार डिप्टी कमाण्डेंट कोबरा 209 एवं साथ के साथ पुलिस बल.