करोना के संदिग्ध मरीज की खोज में जुटा हैदरनगर का पूरा प्रशासन, आम लोगों में हड़कंप

लठेया के प्रमोद भुईंया की पत्नी सविता देवी आई थी हैदरनगर देवी धाम, प्रशासन के पहुंचने से पहले ही हुई फरार

पलामूःछतरपुर के लठेया गांव से कुछ लोग हैदरनगर देवी धाम झाड़ फूंक के लिए अये थे। देवी धाम में कुछ देर रुकने के बाद उन्हें बताया गया कि मंदिर 14 अप्रैल तक बंद है। इसी बीच हुसैनाबाद के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी एसके रवि ने बीडीओ राहुल देव व चिकित्सा पदाधिकारी अशोक कुमार को सूचना दी कि छतरपुर के लठेया गांव के कोरोना से पीड़ित संदिग्ध मरीज देवी धाम हैदरनगर गये हैं। बीडीओ, थाना प्रभारी व चिकित्सा पदाधिकारी के पहुंचे के पहले ही वहां से संदिग्ध मरीज भाग गयी। उनकी खोज में दल के लोग लगे हैं। इससे आम लोगों में हड़कंप मच गया है। लोग भयभीत हैं। स्थानीय प्रशासन ने पलामू जिला प्रषासन, छतरपुर के एसडीओ, स्वास्थ्य विभाग, पुलिस महकमा को इसकी जानकारी दी गई है। चिकित्सा पदाधिकारी अषोक कुमार ने बताया कि प्रमोद भुईंया की पत्नी सरीता देवी हैदरनगर देवी धाम आयी थी। यह सूचना उन्हें अनुमंडलीय अस्पताल हुसैनाबाद से प्राप्त हुई है। उन्होंने बताया कि फिल्हाल उसके घर काम से लौटकर हैदराबाद से एक व्यक्ति आया था। उसकी व एक अन्य की मौत हुई है। जिसका लक्षण कोरोना की तरह ही था। बीडीओ राहुल देव व थाना प्रभारी सुरेंद्र प्रसाद ने बताया कि सभी चिकित्सकों ,रेलवे स्टेशन बस स्टैंड व बाजार में उसे ढुंढा गया वह कहीं नहीं मिले। चिकित्सा पदाधिकारी डा. अशोक कुमार ने बताया कि अगर सरीता देवी कोरोना से पीड़ित है। तो हैदरनगर के कई लोगों के संपर्क में आने से उन्हें भी संक्रमित होने का खतरा है। फिल्हाल प्रशासन सरीता देवी की खोज में जुटा है।