जलस्तर काफी नीचे जाने के बाद भी नहीं खुला पंप हाउस का ताला

    

   

पलामूः हुसैनाबाद अनुमंडल क्षेत्र का सर्वाधिक पुराना बाजार हैदरनगर शहर को पेय जलापूर्ति करने वाला पंप हाउस का तीन वर्ष से ताला भी नहीं खुला है। दो तिहाई आबादी को जलापूर्ति कराने का सपना दिखाने वाला पीएचईडी विभाग के अभियंता ग्राम पेयजल एवं स्वच्छता समिति को देख रेख की जवाबदेही बताकर अपना पल्लु झाड़ लिया करते हैं। पंप हाउस की स्थिति पर बीडीसी की बैठक में लगातार मामला उठता है। मगर स्थिति में कोई बदलाव अबतक नहीं हो सका। ग्रामीणों ने कहा कि अक्टूबर 2014 में सदाबह नदी के पूर्णतः सूख जाने पर तत्कालीन बीडीओ ने पंप हाउस को चालू कराया था। उसके बाद पंप हाउस से शहरवासियों को एक बूंद पानी नसीब नहीं हो सका है। इस संबध में ग्रामीणों ने प्रशासन, विधायक समेत राज्य के सीएम तक को लिखित आवेदन देकर नियमित जलापूर्ति कराने की गुहार लगाई। किन्तु दुखद है कि भीषण गर्मी के चैथे बर्ष भी इससे जलापूर्ति कराने की व्यवस्था नहीं हो सकी। जबकि गर्मी के परवान चढ़ने के साथ ही जलस्तर नीचे चला गया है। कुऐं व चापाकल भी जवाब दे रहे हैं। पंप हाउस चालू नहीं होने से गरीबों को काफी परेशानी उठाना पड़ रहा है।