एसडीओ और कनीय अभियंता को ढूंढ़ रही है पुलिस


पलामू - जिले के अवर विद्युत प्रमंडल जपला के सहायक अभियंता हिमांशु कुमार वर्मा व कनीय अभियंता प्रदीप कुमार सिंह की गिरफ्तारी शीघ्र की जायेगी.ये जानकरी पुलिस सूत्रों ने दी . हैदरनगर थाना क्षेत्र के भाई विगहा निवासी निरंजन कुमार रवि उर्फ अनिल की मौत बिजली तार के चपेट में आने से हो गयी थी.इस मामले को लेकर मृतक के परिजन ने हैदरनगर थाना में 13-09-2017 को सहायक अभियंता व कनीय अभियंता के खिलाफ लापरवाही बरतने का मामला दर्ज कराया था. जो हैदरनगर थाना में कांड संख्या 81/017 दर्ज है.  न्यायालय द्वारा अबतक जमानत नही लेने की वजह से दोनों के खिलाफ न्यायालय में गिरफ्तारी वारंट जारी किया है. दोनो अभियंता फरार चल रहे है. 


पूर्व में विभाग को ग्रामीणों ने दी थी जानकारी


   घटना के पूर्व हैदरनगर भाईबिगहा के सैकडो ग्रामीणों ने हुसैनाबाद विद्युत सहायक अभियता कार्यालय में यह लिखित आवेदन देकर गांव के समीप खेत से गुजरने वाले  ग्याहर हजार वोल्ट का तार काफी नीचे हो गया  है. जिससे कभी भी हादसा हो सकता है. उन्होंने कई जानवरो की मौत करंट की चपेट में आने से होंने की बात भी कही थी.  शीघ्र  तार को ठीक करने की मांग की गई थी. एसडीओ ने ग्रमीणों को आश्वस्त किया था की शीघ्र लूज तार को ताईट कर दिया जयेगा. लेकिन विभाग की लापरवाही के कारण युवक की मौत तार की चपेट में आने से हो गयी थी.

घटना को लेकर ग्रामीणों ने मुआवजा व दोषी अधिकारियों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने को लेकर  मृतक के शव को सड़क पर रखकर  जपला-हैदरनगर मुख्य पथ को जाम कर दिया था.घटना स्थल पर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी व अनुमंडल पदाधिकारी ने  ग्रामीणों को आश्वस्त कराया था कि इस दिशा में कानूनी कार्रवाई की जायेगी.एसडीओ व कनीय अभियंता के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराने आश्वासन के बाद लोगों ने सड़क जाम हटाया था. अधिकरियों के निर्देश पर हैदरनगर थाना में प्राथमिकी दर्ज की गई थी. अभियंताओं ने इसे गम्भीरता से नहीं लिया. न्यायलय में हाजिर नहीं होने की स्थिति में सहायक अभियंता और कनीय अभियंता के विरुद्ध वारंट जारी कर दिया. दोनों फरार बाताये जारहे है.